1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. constable who tried to recover one lakh from the hotel operator of patna was revealed by the cctv footage rdy

पटना के होटल संचालक से एक लाख वसूली का प्रयास करने वाला निकला सिपाही, सीसीटीवी फुटेज से हुआ खुलासा

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सिपाही की पहचान की और फिर उसे पकड़ने के लिए बुद्धा कॉलोनी थाने के मंदिरी इलाके में छापेमारी की. जांच में खुलासा होने के बाद एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो ने सिपाही ऋषिकेश तिवारी को सस्पेंड कर दिया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिहार अपराध
बिहार अपराध
फाइल

पटना. जक्कनपुर थाने के करबिगहिया इलाके में स्थित श्री ओम सांईं होटल संचालक रंजय सिंह को डरा-धमका कर एक लाख रुपये वसूली का प्रयास करने का आरोपित पटना पुलिस का जवान ऋषिकेश तिवारी निकला. उसने ही अपने साथियों के साथ मिल कर 21 मई को होटल में घुस कर घटना को अंजाम दिया था. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सिपाही की पहचान की और फिर उसे पकड़ने के लिए बुद्धा कॉलोनी थाने के मंदिरी इलाके में छापेमारी की. लेकिन सिपाही ने छापेमारी टीम पर ही पिस्तौल तान दी और धक्का-मुक्की कर वहां से फरार होने में सफल रहा. लेकिन वहां पर ही उक्त सिपाही की पिस्तौल व मैगजीन गिर गयी.

मोबाइल फोन लेकर भागने में सफल रहे बदमाश

पिस्तौल पर अंकित आर्सनल नंबर से जब जांच की, तो पता चला कि वह सिपाही ऋषिकेश तिवारी को इश्यू की गयी थी. उसके खिलाफ बुद्धा कॉलोनी थाने में भी एक और प्राथमिकी दर्ज की गयी है. इधर, एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो ने सिपाही ऋषिकेश तिवारी को सस्पेंड कर दिया है. 21 मई को तीन की संख्या में रहे बदमाश पुलिस बन कर श्री ओम सांईं होटल के संचालक रंजय सिंह को पिस्तौल का भय दिखा कर जबरन एक लाख रुपये लेने का प्रयास किया था. लेकिन संचालक रुपये देने को तैयार नहीं हुए थे. उसी समय जक्कनपुर थानाध्यक्ष सुदामा प्रसाद सिंह को जानकारी मिल गयी. लेकिन उस समय तीनों बदमाश रंजय सिंह का मोबाइल फोन लेकर भागने में सफल रहे.

सीसीटीवी फुटेज से हुआ खुलासा

इस संबंध में रंजय सिंह ने जक्कनपुर थाने में लिखित शिकायत की और मामला दर्ज करा दिया. रंजय सिंह ने पुलिस को यह भी बताया था कि जिस व्यक्ति ने उन पर पिस्तौल तानी थी, वह कोई पुलिस वाला था. इसके बाद जक्कनपुर पुलिस ने होटल के बगल में स्थित एक मकान के सीसीटीवी कैमरा का फुटेज निकाला और जांच शुरू की. इसमें जो तस्वीर आयी, वह सिपाही ऋषिकेश तिवारी से मिलती-जुलती थी. इस कारण उसे संदिग्ध की सूची में रखा गया और उसे पकड़ने के लिए बुद्धा कॉलोनी पुलिस के सहयोग से जक्कनपुर पुलिस ने मंदिरी इलाके में छापेमारी की.

पुलिस टीम को दी गोली चलाने की धमकी

इस दौरान पुलिस ऋषिकेश तिवारी तक पहुंच गयी, लेकिन वह पुलिस टीम पर पिस्तौल तान कर गोली मारने की धमकी देने लगा. पर टीम में शामिल पुलिसकर्मी रोहन कुमार ने बहादुरी का परिचय देते हुए उसे पकड़ लिया. हालांकि किसी तरह से ऋषिकेश तिवारी वहां से निकल भागने में सफल रहा, लेकिन उसकी पिस्तौल वहीं गिर गयी. जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया. उक्त पिस्तौल पर बट नंबर 1510 और आर्सनल नंबर 18689402 पाया गया. इसके साथ ही मैगजीन में पांच कारतूस भी पाये गये. पुलिस टीम पर पिस्तौल तानने और सरकारी कार्य में बाधा डालने के मामले में भी सिपाही ऋषिकेश तिवारी के खिलाफ में बुद्धा कॉलोनी थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है. उक्त मामला जक्कनपुर थानाध्यक्ष सुदामा प्रसाद सिंह ने अपने बयान के आधार पर दर्ज कराया है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें