1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. connect small rivers in bihar first nitish kumar said asj

बिहार में छोटी-छोटी नदियों को पहले जोड़ें, बोले नीतीश कुमार- गंगा जल आपूर्ति योजना में न हो देरी

सोमवार को 01अणे मार्ग स्थित संकल्प में जल संसाधन विभाग की कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि छोटी-छोटी नदियों को जोड़ने की योजना बनाएं, इसको लेकर व्यावहारिक आकलन करायें.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नीतीश कुमार
नीतीश कुमार
प्रभात खबर

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को छोटी-छोटी नदियों को जोड़ने की योजना पर काम करने का निर्देश दिया है. सोमवार को 01अणे मार्ग स्थित संकल्प में जल संसाधन विभाग की कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि छोटी-छोटी नदियों को जोड़ने की योजना बनाएं, इसको लेकर व्यावहारिक आकलन करायें. छोटी नदियों के आपस में जुड़ने से जल संरक्षित रहेगा और इससे लोगों को सिंचाई कार्य में भी सुविधा होगी.

आपस में समन्वय बनाकर काम करे दोनों विभाग

गंगा जल आपूर्ति योजना को जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिये. गंगा जल के स्टोरेज, शुद्धिकरण एवं आपूर्ति कार्य प्रगति की निरंतर निगरानी होगी. उन्होंने अधिकारियों एवं इजीनियरों को जमीनी स्तर पर नजर बनाये रखने के निर्देश दिये. मुख्यमंत्री ने पाइप लाइन की सुरक्षा की भी पूरी व्यवस्था रखने तथा जल संसाधन विभाग, पीएचइडी तथा नगर विकास एवं आवास विभाग को आपस में समन्वय बनाकर तेजी से कार्य पूर्ण करने को कहा.

भू-जल स्तर भी मेंटेन रहेगा

सीएम ने कहा कि गंगा जल आपूर्ति योजना के क्रियान्वयन में आम लोगों का काफी सहयोग मिला है. राजगीर, गया, बोधगया एवं नवादा में गंगा के जल को शुद्ध कर पेयजल के रूप में जल्द से जल्द सभी लोगों तक पहुंचाने के लिए कार्य में तेजी लाने का निर्देश देते हुए कहा कि इससे लोगों को सुविधा होगी और भू-जल स्तर भी मेंटेन रहेगा. बैठक में जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा भी मौजूद थे.

फसलों का उत्पादन दोगुना हुआ है

समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्यों को निर्धारित समय पर पूर्ण किया जाये. बाढ़ अवधि में कराये जाने वाले कार्यों की पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि सात निश्चय-2 के अंतर्गत हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने के लिए योजनाबद्ध ढंग से कार्य करें. उन्होंने कहा कि कृषि रोड मैप बनाया गया और कृषि के क्षेत्र में कई कार्य किये गये हैं, जिससे फसलों का उत्पादन दोगुना हुआ है. हर खेत तक सिंचाई उपलब्ध हो जाने पर किसानों को कृषि कार्यों में और सहूलियत होगी. नदियों के गाद एवं सिल्ट प्रबंधन को लेकर अध्ययन और आकलन कराने का भी निर्देश दिया.

पाइप लाइन का 97 प्रतिशत काम पूर्ण

इसके पहले जल संसाधन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने प्रजेंटेशन देकर जल संसाधन विभाग की कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं की कार्य प्रगति की जानकारी दी. उन्होंने गंगा जल आपूर्ति योजना के तहत इंटेक बेल सह पंप हाऊस, डिटेंशन टैंक सह पंप हाऊस की भौतिक कार्य प्रगति की चर्चा करते हुए कहा कि पाइप लाइन का 97 प्रतिशत काम पूर्ण हो गया है. उन्होंने बताया कि गंगाजल आपूर्ति योजना के तहत राजगीर, गया, बोधगया एवं नवादा में सभी लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है. साथ ही कहा कि बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य को तेजी से पूर्ण किया जा रहा है.

बैठक में यह रहे मौजूद

बैठक में जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डा एस सिद्धार्थ, जल संसाधन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार एवं मुख्यमंत्री के ओएसडी गोपाल सिंह, अभियंता प्रमुख (बाढ़ शैलेंद्र कुमार तथा अभियंता प्रमुख (सिंचाई) आइसी ठाकुर उपस्थित थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें