1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. chhath puja 2020 live updates started with nahai khai puja kaddu bhat kharna first and second arag date image wishes with bihar chhath guidelines know pooja samagri and importance of chathi maiya pujan skt

Chhath Puja 2020, Bihar Live: बिहार में छठ महापर्व पर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद, बीएमपी और एसआरएएफ की 50 से ज्यादा कंपनियां तैनात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Chhath puja 2020
Chhath puja 2020
prabhat khabar

सुर्योपासना का महापर्व छठ( Chhath puja 2020 ) आज बुधवार से शुरू हो गया है. चार दिनों तक चलने वाले इस पावन त्योहार की शुरूआत आज नहाय-खाय(Nahay-Khay 2020) के साथ शुरू हो गई है. बिहार के हर कोने में भक्तिमय माहौल बन चुका है. वहीं दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण को देखते हुए सरकार ने पर्व को काफी सतर्कता से मनाने की अपील की है. जिसके लिए राज्य में सरकारी गाइडलाइन(chhath puja guidelines 2020) जारी किए गए हैं. जिसमें 60 साल से अधिक व 10 साल से कम उम्र के लोगों को नदी घाटों पर जाने की अनुमति नहीं दी गई है. वहीं अर्ध (Arghya) के दौरान नदी में डुबकी लगाने पर भी रोक लगाई गई है. बुधवार को नहाय खाय के दिन आज घाटों पर व्रतियों के जुटने का सिलसिला सुबह से ही लगा रहा.Chhath puja 2020 के हर अपडेट के लिए जुड़े रहें Prabhatkhabar.com के साथ

email
TwitterFacebookemailemail

बिहार के सभी जिलों में अतिरिक्त फोर्स तैनात

छठ महापर्व को देखते हुए बिहार के सभी जिलों में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी गयी है. इस बार रैफ या अन्य किसी केंद्रीय फोर्स की कोई कंपनी बिहार नहीं आयी है. फिर भी पुलिस मुख्यालय ने अपने स्तर से सुरक्षा के हर स्तर पर इंतजाम किये हैं. सभी जिलों में अतिरिक्त फोर्स तैनात कर दिये गये हैं. बीएमपी और स्टेट रैपिड एक्शन फोर्स (एसआरएएफ) की 50 से ज्यादा कंपनी फोर्स सभी जिलों में तैनात कर दी गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

सीएम आवास में नीतीश कुमार की भाभी करेंगी छठ व्रत

मुख्यमंत्री आवास में सीएम नीतीश कुमार की भाभी छठ व्रत करती हैं. वो इस बार भी छठ पर्व कर रही हैं. आवास परिसर में बने छोटे तालाब में वो अर्घ्य देंगी. सरकार के वरिष्ठ मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव की पत्नी सुपौल स्थित पैतृक घर में छठ पूजा करती हैं. पटना स्थित आवास पर मंत्री अशोक चौधरी की पत्नी, पैतृक घर पर पूर्व मंत्री संजय कुमार झा की मां इस बार छठ व्रत कर रही हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

उप मुख्यमंत्री रेणु देवी भी कर रही

हर बार की तरह इस बार भी कोरोना संकट के बावजूद छठ पूजा आम और खास लोग धूमधाम से मना रहे हैं. इसके तहत मुख्यमंत्री आवास, सत्ता पक्ष सहित विपक्षी नेताओं के यहां श्रद्धा और भक्ति से इसका आयोजन किया गया है. इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. इसका शुभारंभ बुधवार को ही नहाय-खाय से हो चुका है. मुख्यमंत्री आवास पर भी इस बार छठ पूजा की जा रही है. उप मुख्यमंत्री रेणु देवी अपने पैतृक आवास बेतिया में छठ पूजा कर रही हैं. वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के यहां इस बार छठ पूजा नहीं हो रहा.

email
TwitterFacebookemailemail

छठ पूजा पर कोरोना का कहर

email
TwitterFacebookemailemail

खरना के बाद शुरू होगा 36 घंटे का निर्जला उपावास

खरना के बाद व्रतियों का 36 घंटे का निर्जला उपावास शुरू हो जाएगा जो कि 20 नवंबर की शाम अस्ताचलगामी सूर्य और 21 नवंबर को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के बाद पारण के साथ पूरा होगा.

email
TwitterFacebookemailemail

पटना जिला प्रशासन ने छठ पर्व के मद्देनजर शहरी क्षेत्र के 24 घाटों को इस बार खतरनाक अथवा अनुपयोगी घोषित किया है.

email
TwitterFacebookemailemail

छठ व्रती और अन्य लोग सामूहिक पानी में डुबकी लगाने से करें परहेज, डॉक्टरों ने दी नसीहत

नदी, तालाब व जलाशयों के किनारे होनेवाले छठ महापर्व को लेकर चिकित्सकों की टीम ने नसीहत दी है कि छठ व्रती और अन्य लोग सामूहिक पानी में डुबकी लगाने से परहेज करें. सामूहिक रूप से पानी में डुबकी लगाना कोरोना वायरस को आमंत्रित करने से कम नहीं है. हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि पानी से कोरोना वायरस का प्रसार का प्रमाण नहीं है. फिर भी चिकित्सकों ने कहा कि कोरोना से बचाव से लिए हाथ की सफाई होती है तो डुबकी लगाने के बाद वायरस के नाक और गले में प्रवेश की आशंका बढ़ जाती है.

email
TwitterFacebookemailemail

सीएम नीतीश ने छठ पर की लोगों से ये अपील 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को छठ पर्व पर लोगों को शुभकामनाएं दी और सभी लोगों से वर्तमान कोरोना संक्रमण को देखते हुए सचेत रहने और अपनी ओर से पूरी सावधानी बरतने की अपील की

email
TwitterFacebookemailemail

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगूसराय में छठ की तैयारियों का लिया जायजा

email
TwitterFacebookemailemail

पटना में घर-घर पहुंच रहा है गंगाजल

पटना जिला प्रशासन ने लोगों से यथा संभव घर पर ही छठ पूजा करने की अपील की है. पटना जिला प्रसाशन घरों में छठ करने वाले व्रती के लिए नगर निगम के माध्यम से टैंकर के माध्यम से घर तक शुद्ध गंगाजल की आपूर्ति करा रहा है.

email
TwitterFacebookemailemail

गया के सूर्य कुंड में श्रद्धालुओं शुरू किया पूजा.

email
TwitterFacebookemailemail

मुजफ्फरपुर में नहाय-खाय

4 दिन का छठ महापर्व आज से शुरू हो गया है. मुजफ्फरपुर में नदी किनारे महिलाओं ने पूजा की. एक महिला ने बताया," आज से चार दिन का पूजा है. मेरी छठी मईया से यही प्रार्थना है कि सभी को कोरोना से बचाएं और कोरोना से पूरा देश जल्द मुक्त हो."

email
TwitterFacebookemailemail

लखीसराय में नहाय-खाय

4 दिन का छठ महापर्व आज से शुरू होने पर लखीसराय के नदी के किनारे महिलाओं ने पूजा और पवित्र स्नान किया.

email
TwitterFacebookemailemail

कष्टहरणी घाट पर है दलदली

मुंगेर के कष्टहरणी घाट स्थित भी ठीक नहीं है. सीढ़ी घाट पर जहां गंदगी फैली है, वहीं बगल में मिट्‌टी काट कर बनाए गए घाट पर काफी दलदली है. जहां अर्घ्य के दौरान श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. हालांकि निगम प्रशासन कष्टहरणी घाट पर जेसीबी से मिट्टी काट कर सीढ़ी नुमा घाट बनाया गया है. पानी का स्तर नीचे जाने और मंदिर के उपर से गिरने वाले पानी के कारण दलदल की स्थिति उत्पन्न हुई है. जिसे अर्घ्य वाले दिन दूर कर लिया जायेगा.

email
TwitterFacebookemailemail

खतरनाक है मुंगेर के सोझी घाट की स्थिति

मुंगेर में सोझी घाट पर बना सीढ़ी का निचला हिस्सा बाढ़ के समय पूरी तरह से ध्वस्त हो चुका है. जहां छठव्रती महिलाएं खड़ा रहकर अर्घ्य नहीं दे पायेगी. सोझी घाट के दूसरी ओर घाट का निर्माण कार्य चल रहा है. जिसके कारण काफी दूर तक जगह जगह लोहे का नुकीला छड़ निकला है. जो अर्घ्य में जुटने वाली भीड़ के लिए दुर्घटना का कारण बन सकता है.

email
TwitterFacebookemailemail

गांधी घाट पर छठ की तैयारियां

पटना: छठ पर्व के लिए जिला प्रशासन द्वारा गांधी घाट पर सारी तैयारियां की गई हैं. जिलाधिकारी ने समाचार एजेंसी ANI को बताया कि , "नगर निगम के 75 टैंकर दूसरे वार्डों तक गंगा जल पहुंचा रहे हैं ताकि श्रद्धालु छठ पूजा का विधि-विधान पूरा कर सकें. घाटों पर SDRF, NDRF और सिविल डिफेंस की टीमें तैनात हैं."

email
TwitterFacebookemailemail

मुंगेर निगम क्षेत्र में पड़ने वाले कई घाटों की स्थिति काफी खतरनाक

आस्था का महापर्व छठ पूजा पर गंगा घाटों पर अर्घ की पौराणिक परंपरा है. जो आदिकाल से चला आ रहा है. गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसके लिए जिला प्रशासन और नगर निगम प्रशासन घाटों को दरुस्त करने में लगा है. लेकिन मुंगेर निगम क्षेत्र में पड़ने वाले कई घाटों की स्थिति काफी खतरनाक है. जहां आस्था का महापर्व मनाना खतरों से खाली नहीं होगा.

email
TwitterFacebookemailemail

छठ पूजा नियम

- व्रती छठ पर्व के चारों दिन नए कपड़े पहनें. महिलाएं साड़ी और पुरुष धोती पहनें.

- छठ पूजा के चारों दिन व्रती जमीन पर चटाई पर सोएं.

- व्रती और घर के सदस्य भी छठ पूजा के दौरान प्याज, लहसुन और मांस-मछली ना खाएं.

- पूजा के लिए बांस से बने सूप और टोकरी का इस्तेमाल करें.

- छठ पूजा में गुड़ और गेंहू के आटे के ठेकुआ, फलों में केला और गन्ना ध्यान से रखें.

email
TwitterFacebookemailemail

राज्यपाल फागू चौहान ने छठ की शुभकामनाएं दी

राज्यपाल फागू चौहान ने सूर्य की पूजा-अर्चना एवं लोक आस्था से जुड़े चार दिवसीय छठ महापर्व की समस्त बिहारवासियों को शुभकामनाएं दी हैं. उन्होंने लोक आस्था के इस पावन पर्व एवं व्रत को पूरी श्रद्धा, भक्ति, निष्ठा, बंधुत्व, सामाजिक समरसता और एकता के साथ मनाये जाने का अनुरोध किया है. राज्यपाल ने बिहारवासियों के सुखी, वैभवपूर्ण और उल्लासित जीवन के लिए मंगलकामना की है.

email
TwitterFacebookemailemail

इस बार औरंगाबाद  में देव छठ मेले के खलेगी कमी

जब कभी छठ का जिक्र होता है, तो औरंगाबाद के देव सूर्य मंदिर की चर्चा जरूर होती है. लेकिन, इस बार कोरोना महामारी ने देव में छठ मेले के आयोजन पर ग्रहण लगा दिया है. कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जारी प्रशासनिक आदेश के अनुसार इस बार देव में मेला नहीं लगेगा. साथ ही, देव के पातालगंगा स्थित तालाब में अर्घ नहीं दिया जायेगा. अनुमंडल पदाधिकारी सह धार्मिक न्यास समिति के अध्यक्ष डॉ प्रदीप कुमार के अनुसार छठ पर्व के दौरान पातालगंगा तालाब में अर्घ अर्पित नहीं किया जायेगा व कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाला मेला भी नहीं लगेगा. उन्होंने कहा कि छठ पर्व पर न्यास समिति सूर्य कुंड तालाब परिसर की साफ-सफाई करवायेगी, लेकिन यात्रियों व श्रद्धालुओं के लिए सूर्य कुंड तालाब परिसर पूरी तरह बंद रहेगा. देव स्थित प्राचीन सूर्य मंदिर में मुख्य पुजारी प्रतिदिन की तरह पूजा-पाठ करेंगे, जबकि आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिर परिसर में प्रवेश पूरी तरह वर्जित रहेगा

email
TwitterFacebookemailemail

पटना में बनेंगे आठ कंट्रोल रूम

शाहपुर घाट

पीपा पुल

गेेट नंबर 93

राजापुर पुल घाट

एसके मेमोरियल

गायघाट

मंगल तालाब

जक्कनपुर

सुपर कंट्रोल रूम

पेसु मुख्यालय

email
TwitterFacebookemailemail

छठ के दौरान घाटोंं पर निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए पेसु की 92 टीमें तैनात रहेगी

पटना में छठ के दौरान घाटोंं पर निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए पेसु की 92 टीमें तैनात रहेगी. शुक्रवार को दोपहर दो बजे से शनिवार को सुबह का अर्घ समाप्त होने तक ये टीमें लगातार तैनात रहेंगी. इनमें 82 टीमें गंगा घाटों पर और 10 तालाब घाटों पर रहेंगे. प्रशासन के द्वारा लोगों से घाट पर नहीं आने की अपील के बावजूद यह सोच कर तैयारी हो रही है कि आने वाले को कोई असुविधा नहीं हो. इसलिए हर घाट पर टीम तैनात रहेगी. हर टीम में एक जेई या एई स्तर का अधिकारी और दो लाइनमैन रहेंगे. घाट पर किसी तरह की ट्रिपिंग या शॉट सर्किट होने पर लाइन को कटवाने और विद्युत व्यवस्था को दुरूस्त करने का काम इनके ही जिम्मे होगा. इसके साथ आठ कंट्रोल रूम भी बनाये जायेंगे जहां संबंधित विद्युत प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता के साथ एक टीम तैनात रहेगी जिसमें चार लाइनमैन व तकनीशियन रहेंगे. इन सबके ऊपर एक टीम पेसू मुख्यालय के कंट्रोल रूम में रहेगी जो इन सभी के बीच कॉर्डिनेट करेगी

email
TwitterFacebookemailemail

नहाय-खाय के साथ छठ व्रत की शुरूआत

बिहार के हर जिले में नहाय-खाय के साथ छठ व्रत की शुरूआत हो गई है. बुधवार को आस-पास के नदी व घाटों पर व्रतियों का जुटना जारी रहा.

Chhath Puja 2020, Bihar Live: बिहार में छठ महापर्व पर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद, बीएमपी और एसआरएएफ की 50 से ज्यादा कंपनियां तैनात
email
TwitterFacebookemailemail

भागलपुर के डीएम ने नगर आयुक्त को दिए निर्देश

भागलपुर के डीएम ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया है कि छठ पर्व के दौरान गंगा व अन्य नदियों के किनारे अत्यधिक भीड़ की रोकथाम के लिए टैंकर के माध्यम से गंगाजल वितरण करेंगे. कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए कई निर्देश जारी किये गये हैं. इसे लेकर दो लोगों के बीच सामाजिक दूरी का अनुपालन कराने में दिक्कत होगी. इस कारण कई लोग अपने-अपने घरों में ही छठ पर्व मनायेंगे. ऐसे में उन्हें गंगाजल की आवश्यकता होगी. उनकी सुविधा के लिए नगर निगम को सभी वार्डों में गंगाजल का वितरण टैंकर के माध्यम से किये जाने का निर्देश दिया गया है.

email
TwitterFacebookemailemail

Posted by: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें