1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bseb 10th result 2022 sweet shopkeepers daughter became second topper of bihar board news rjs

Bihar Board 10th Second Topper: मिठाई की दुकान चलाने वाले की बेटी बनी बिहार की सेकेंड टॉपर

सानिया गणित में मिले अंक से नाराज है. उसे विश्वास था कि उसे सौ में सौ नंबर मिलेंगे. लेकिन उसे चार नंबर कम आये हैं. इस बात से वो मायूस है. भविष्य में वह डॉक्टर बनना चाहती है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bihar Board 10th Second Topper: सानिया अपने मां और पिता जी के साथ
Bihar Board 10th Second Topper: सानिया अपने मां और पिता जी के साथ
प्रभात खबर

Bihar Board BSEB 10th Result 2022 बिहार बोर्ड की ओर से गुरुवार को जारी रिजल्ट में नवादा की सानिया बिहार भर में दूसरा स्थान हासिल किया है. सानिया को कुल 486 नंबर मिले हैं. इनके पिता पेशे से मिठाई दुकानदार हैं. सानिया ने अपनी इस सफलता पर कहा कि “मुझे जो नंबर आए हैं उससे ज्यादा आना चाहिए था. मैथ का हमने 100 नंबर का पूरा सवाल हल किया था. हालांकि टोटल में जो नंबर 486 नंबर वह ठीक है. मैथ में हमें और नंबर आना चाहिए था.

गणित में कम अंक आने से है दुखी

सानिया का कहना है कि मैथ की परीक्षा देकर घर लौटने पर हमने प्रश्न व उत्तर का मिलान किया था, हमने प्रश्न के जवाब शत-प्रतिशत सही लिखकर आई थी. लेकिन कम नंबर आया है. जिस कराण मुझे थोड़ा दुख है. छात्रा ने बताया कि उसने रजौली में ही निजी विद्यालय से प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की. फिर प्रोजेक्ट कन्या इंटर विद्यालय रजौली से मैट्रिक की परीक्षा दी. चार भाई-बहनों में सबसे छोटी सानिया की इस उपलब्धि पर परिवार में खुशी का माहौल है. छात्रा ने बताया कि वो आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती है. ताकि वो समाज की सेवा कर सके. उसने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता व गुरुजनों को दिया. मैट्रिक में बिहार की सेकंड टॉपर बनने पर सानिया को बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है.

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में रहती है सानिया

सानिया नवादा जिले के नक्सल प्रभावित इलाका रजौली की रहने वाली है. सानिया के पिता उदय प्रसाद रजौली बाजार में मिठाई की दुकान चलाते हैं. छात्रा ने 486 अंक लाकर पूरे जिले का नाम रौशन किया है.

पिता की आंखों से छलके आंसू

बेटी के सेकंड टॉपर बनने की बात सुनकर पिता उदय प्रसाद की आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े. बेटी की इस सफलता पर उन्होंने अपनी बेटी को गले लगाकर बधाई दी और मिठाई भी खिलाई. उन्होंने कहा कि बेटी ने राज्य भर में परिवार का मान बढ़ा दिया है. आज वह खुद को काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें