1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar weather forecast the weather remain pleasant in bihar for the next three days strong wind and rain gave relief from heat asj

Bihar Weather Forecast : बिहार में अगले तीन दिनों तक रहेगा सुहाना मौसम, तेज हवा और बारिश ने दी गरमी से राहत

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Weather Forecast In Bihar Today
Weather Forecast In Bihar Today
Prabhat Khabar

पटना. कोविड के भयावह दौर में बिहार अभूतपूर्व मौसमी उठा-पटक से गुजर रहा है. प्री मॉनसून से झमाझम बारिश हो रही है. अगले 72 घंटे तक प्रदेश में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पुरवैया बहने के आसार हैं. इस दौरान कहीं मध्यम तो कहीं भारी बारिश का पूर्वानुमान भी है. मेघ गर्जन के साथ ठनका की भी आशंका है.

प्री मॉनसून की इन गतिविधियों से प्रदेश का उच्चतम तापमान सामान्य से तीन से आठ डिग्री सेल्सियस तक नीचे गया है. प्रदेश में कॉल वैशाखी और प्री मॉनसून बेहद सक्रिय है. इनके प्रभाव से बुधवार को 19 अलर्ट जारी किये गये. प्रदेश में एक भी जिला ऐसा नहीं बचा, जहां आंधी-पानी को लेकर सतर्कता बरतने के लिए न कहा गया हो.

आइएमडी ने बताया कि प्रदेश में अभी पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है. निम्न दाब का केंद्र भी बना हुआ है. चक्रवाती हवा की ट्रफ लाइन भी अभी गुजर रही है. यह दशा अभी कम से कम तीन दिन और जारी रहेगी. इस तरह प्रदेश का उच्चतम और औसत तापमान लगातार नीचे बना रहेगा.

72 घंटे में तेज हवा के साथ बारिश

पटना में बारिश व तेज हवा चलने के बाद बुधवार को दिन में गरमी से राहत मिली. बारिश के कारण गली-मुहल्ले में सड़कों पर पानी जमा हुआ, लेकिन सुबह होते-होते निकल गया. तेज हवा चलने से बिजली की आंख- मिचौनी जारी रही. बारिश होने से गर्मी से लोगों को राहत मिली. दिन भर मौसम सुहाना रहा. हल्की-हल्की ठंडी हवा चलने से सकून मिला. हवा की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रही.

आज भी छाया रहेगा बादल

मौसम विभाग के अनुसार अगले दो-तीन दिन के तापमान में कोई बड़ा बदलाव नहीं होने की संभावना है. गुरुवार को आंशिक रूप से बादल छाये रहने की संभावना है. बारिश या धूल या मेघ गर्जन की संभावना है.

राज्य में ठनके से पांच लोगों की हुई मौत

राज्य के कई जिलों में बुधवार को आंधी-पानी के दौरान ठनका गिरने से पांच की मौत होने की पुष्टि आपदा प्रबंधन विभाग ने की है. विभाग के मुताबिक समस्तीपुर में दो और पूर्वी चंपारण, नालंदा व मधुबनी एक-एक लोगों की मौत हुई है. सभी मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख की सहायता राशि दी जायेगी.

कहीं छिटपुट तो कहीं मध्यम स्थानों पर भारी बारिश हुई

विशेष बात यह कि मई के दौरान बिहार में पश्चिमी विक्षोभ कभी सक्रिय नहीं रहा. इस बार इसकी मौजूदगी चौंकाने वाली है. इन्हीं सभी वजहों से प्रदेश मेें एक मई से लेकर अभी तक लगातार कहीं छिटपुट तो कहीं मध्यम तो कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई है.

बुधवार को झंझारपुर में 70 मिलीमीटर, फारबिसगंज और भीमनगर में 40-40 मिलीमीटर, पूर्णिया में 30, बगहा, उमरचंद,फुलपरास,भागलपुर में 20-20 मिलीमीटर प्री मॉनसून बारिश दर्ज की गयी. प्रत्येक जिले में बारिश ट्रेस की गयी है.

एक जून तक आयेगी मॉनसून पूर्वानुमान की रिपोर्ट

आधिकारिक जानकारी के मुताबिक प्री मॉनसूनी बारिश की स्थिति मजबूत है. सामान्य तौर पर माना जाता है कि मई माह में उच्चतम तापमान ही मॉनसूनी हवाओं को आकर्षित करता है. हालांकि, इसके लिए और भी परिस्थितियां जिम्मेदार होती हैं.

आइएमडी पटना के निदेशक विवेक सिन्हा ने बताया कि अभी मॉनसून के आने के संदर्भ में कोई भी पूर्वानुमान लगाना उचित नहीं होगा. हमें इंतजार करना होगा. उम्मीद है कि एक जून तक मॉनसून पूर्वानुमान की रिपोर्ट आ जायेगी. फिलहाल मई माह के अगले कुछ दिनों में लू चलने की संभावना बेहद कम हैं.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें