1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar election 2020 nitish gave confidence will make such a system that will not have to go out for employment asj

बिहार चुनाव 2020: नीतीश ने दिया भरोसा, करेंगे ऐसी व्यवस्था कि रोजगार के लिए नहीं जाना पड़ेगा बाहर

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नीतीश कुमार
नीतीश कुमार

पटना : जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि अगली बार मौका मिला तो ऐसी व्यवस्था की जायेगी जिससे रोजगार के लिए युवक-युवतियों को बाहर नहीं जाना पड़े. इसके साथ ही हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगवायेंगे. कई गांवों को जोड़ते हुए महत्वपूर्ण जगह पहुंचने के लिए नयी सड़क बनवायेंगे. बेहतर यातायात के लिए बाइपास और फ्लाइओवर बनाये जायेंगे.

इंटर पास करने वाली लड़की को 25 हजार और स्नातक करने वाली लड़की को 50 हजार रुपये देंगे. मुख्यमंत्री ने ये बातें बुधवार को केसरिया, मढ़ौरा, परसा और राजापाकर (अजा) विधानसभा क्षेत्रों में एनडीए प्रत्याशियों के पक्ष में सभाओं को संबोधित करते हुए कहीं. इस दौरान जदयू के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी सहित एनडीए के अन्य नेता मौजूद रहे.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगली बार मौका मिलने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भी इलाज के लिए बेहतर इंतजाम होगा. पशुओं के इलाज की भी बेहतर व्यवस्था की जायेगी. फोन करने पर पशु चिकित्सक आयेंगे और दवा का इंतजाम राज्य सरकार करेगी. उन्होंने राजद शासनकाल पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले महिलाओं को कम इज्जत मिलती थी.

उनके लिए स्थानीय निकायों सहित नौकरियों में आरक्षण की व्यवस्था की. जीविका समूह बनाये गये. इससे महिलाओं की प्रतिष्ठा बढ़ी. स्कूलों में साइकिल और पोशाक योजना चलायी. इससे अब लड़के और लड़कियों की संख्या स्कूलों में लगभग बराबर हो गयी है.

उन्होंने कहा कि दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक समुदाय सबके कल्याण के लिए काम किया. हॉस्पिटल का क्या हाल था? अपराध और नरसंहार होते थे. कितने लोगों को भागना पड़ा था. अपराध पर नियंत्रण किया. समाज में प्रेम, सद्भावना और भाईचारा का माहौल पैदा किया. अब बिहार अपराध के मामले में 23वां स्थान पर चला गया. विकास का दर बढ़ी है. पुल-पुलिया का निर्माण, हर गांव को पक्की सड़क से जोड़ने का काम किया.

हमलोगों ने पिछले पांच साल में करने की कोशिश की. हर जिले में एएनएम, पारामेडिकल, आइटीआइ संस्थान बनाया. कंप्यूटर जानना जरूरी है. स्किल डेवलपमेंट की व्यवस्था की. बिजली, सड़क सहित सभी क्षेत्रों में काम किया. हर घर बिजली पहुंचाने का लक्ष्य पूरा किया. हर घर शौचालय का काम लगभग पूरा हुआ.

हर घर नल का जल, हर घर पक्की नाली का निर्माण हुआ. हर योजना के तहत कामकाज की देखभाल की व्यवस्था की. आपदा पीड़ित परिवार को ग्रेचुएट्स रिलीफ दिया और और फसल क्षति अनुदान दिया. नयी टेक्नोलोजी में युवक-युवतियों को ट्रेनिंग देंगे जिससे रोजगार के लिए लोगों को बाहर नहीं जाना पड़े.

एश्वर्य का बिना नाम लिये कहा, इस बच्ची से दुर्व्यवहार हुआ

नीतीश कुमार ने परसा की सभा में तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या का नाम लिये बिना कहा कि उस बच्ची के साथ दुर्व्यवहार हुआ है. इतनी पढ़ी-लिखी महिला है. और क्या व्यवहार हुआ भाई. कहीं से किसी को अच्छा लगा? शादी में हमलोग भी गये हुए थे. लेकिन उसके बाद जो दृश्य आया, कितना बुरा लगा है हमलोगों को. यह दृश्य नहीं होना चाहिए.

लड़कियों के साथ, महिलाओं के साथ इस तरह का व्यवहार करना वैसे लोगों को कुछ दिनों के लिए दिखायी नहीं पड़ेगा, लेकिन भविष्य में दिखायी पड़ेगा कि लड़कियों व महिलाओं के साथ पाप करना कितना उसके लिए खतरनाक होगा. वहीं, परसा विधानसभा से जदयू प्रत्याशी व ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय के बारे में कहा कि वह पूर्व सीएम दारोगा राय के सुपुत्र हैं. हमलोग छात्र जीवन से उनके काम के बारे में परिचित हैं.

उन्होंने कहा कि चंद्रिका राय पहली बार मेरे साथ 1985 में विधानसभा में आये थे और इनका भाषण सुना तो अच्छा भाषण देने के लिए इन्हें सीट से उठकर बधाई दी. जिनको 15 साल काम करने का मौका मिला, क्या दारोगा राय का आशीर्वाद उनलोगों को नहीं मिला? जिनको काम करने का मौका मिला तो उन्होंने क्या किया? हमलोगों काे काम करने का मौका मिला तो न्याय के साथ विकास किया. जो किनारे और हाशिये पर हैं उनके उत्थान के लिए काम किया.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें