1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar assembly election 2020 second phase voting on november 3rd tejashwi yadav tej pratap yadav big faces in chunavi battle smb

बिहार चुनाव 2020 : दूसरे चरण में 94 सीटों पर कल मतदान, उम्मीदवारों में तेजस्वी और चार मंत्री भी शामिल

By Agency
Updated Date
दूसरे चरण में पटना की नौ सीटों पर वोटिंग, NDA और महागठबंधन के बीच सीधा मुकाबला
दूसरे चरण में पटना की नौ सीटों पर वोटिंग, NDA और महागठबंधन के बीच सीधा मुकाबला
प्रभात खबर ग्राफिक्स

Bihar Assembly Election 2020 Second Phase Voting on November 3rd बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के दूसरे चरण के तहत प्रदेश के 17 जिलों की 94 विधानसभा सीटों पर मंगलवार को मतदान होगा. इस चरण में करीब 2.85 करोड़ मतदाता चुनाव मैदान में उतरे 1500 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे. चुनाव आयोग ने कोविड-19 से बचाव के लिए निर्धारित मापदंडों के पालन के साथ निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा की एक तिहाई सीटों पर इस चरण में मतदान होगा. ये 94 विधानसभा सीटें 17 जिलों में स्थित हैं. इस चरण में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा उनमें राजद के तेजस्वी यादव शामिल हैं. तेजस्वी विपक्षी महागठबंधन (Maha Gathbandhan) की और से मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी हैं.

तेजस्वी यादव (31) वैशाली जिले की राघोपुर विधानसभा सीट से दूसरी बार जीत दर्ज करने के लिए चुनाव मैदान में हैं. उन्होंने 2015 में भाजपा (BJP) के सतीश कुमार को हराकर यह सीट फिर अपनी पार्टी के लिए जीती. सतीश ने 2010 में इस सीट पर यादव की मां और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को हराया था. भाजपा ने इस बार भी सतीश कुमार को ही यादव के खिलाफ मैदान में उतारा है.

वहीं, तेजस्वी के बड़े भाई तेजप्रताप यादव हसनपुर से राजद प्रमुख लालू प्रसाद के समधी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के टिकट पर परसा से चुनावी मैदान में हैं. इसके अतिरिक्त पथ निर्माण मंत्री और भाजपा विधायक नंदकिशोर यादव (पटना साहिब), जदयू विधायक और ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार (नालंदा), भाजपा विधायक और सहकारिता मंत्री राणा रणधीर सिंह (मधुबन), और जदयू नेता और राज्य मंत्री रामसेवक सिंह (हथुआ) से चुनावी मैदान में हैं.

पटना की बांकीपुर सीट से कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा भी इस चरण में अपना भाग्य आजमा रहे हैं. उनका प्रमुख रूप से मुकाबला भाजपा के विधायक नितिन नबीन के साथ होगा. हरनौत (नालंदा) निर्वाचन क्षेत्र, जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गांव है, भी इस चरण में मतदान करने जा रहा है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत 94 विधानसभा सीटों पर तीन नवंबर को मतदान के लिए प्रशासनिक स्तर पर तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. सभी 41,362 मतदान केंद्रों के लिए 41,362-41,362 सेट ईवीएम एवं वीवीपैट का प्रबंध किया गया है.

निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए सभी मतदान केंद्रों अर्द्धसैनिक की तैनाती की गयी है. स्वच्छ एवं निष्पक्ष चुनाव की तैयारियों के तहत राज्य स्तर पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में 'स्टेट कॉल सेंटर” कार्यरत है, जो सुबह सात बजे से रात नौत बजे तक संचालित होगा. इसके लिए आम मतदाता 1800-345-1950 पर कॉल करके सम्पर्क कर सकते हैं.

इसी तरह जिला स्तरीय कॉल सेंटर के लिए 1950 नंबर डायल किया जा सकता है. इसके अलावा राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष में दूरभाष (0612-2215978) कार्यरत रहेगा. बिहार विधानसभा निर्वाचन के तहत कोविड गाइडलाइन्स के अनुपालन के संबंध में तमाम एहतियाती कदम उठाये गये हैं.

मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की अनुशासित पंक्तिबद्धता के लिए तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं. कोरोना से बचाव के लिए पूरे राज्य में हैंड सैनिटाइजर्स (100 एमएल) की 1278224 बोतल, हैंड सैनिटाइजर्स (500 एमएल) की 639156 बोतल, 106526 इन्फ्रारेड थर्मोमीटर, 2557882 ग्लब्स (दस्ताना जोड़ी में), 66090800 दस्ताना (एक हाथ का), 5625831 मास्क एवं 1278221 फेस शील्ड उपलब्ध कराये गये हैं.

बिहार विधानसभा चुनाव में पहली बार प्रदेश की राजधानी पटना सिटी में 80 वर्ष से अधिक आयु के और दिव्यांग मतदाताओं को मुफ्त परिवहन सुविधा प्रदान की गयी है. बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत जिन 94 विधानसभा क्षेत्रों में 3 नवंबर को मतदान होने हैं, उनमें पटना जिला के दीघा, बांकीपुर, कुम्हरार, पटना साहिब विधानसभा क्षेत्र पटना नगर क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं.

अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार ने भाषा को बताया कि सभी मतदान केंद्रों और इमारतों में पर्याप्त संख्या में अर्धसैनिक बल तैनात किये गये हैं. स्थानीय पुलिस का उपयोग अर्धसैनिक बलों के पूरक के रूप में किया गया है, जहां भी आवश्यक हो.

नदियों के किनारे पड़ने वाले इलाकों में पुलिस द्वारा गश्ती किए जाने के साथ हवाई निगरानी भी की जाएगी और इसके लिए दो हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जाएगा. उन्होंने कहा कि कतार बनाए रखने जैसे कामों के लिए होमगार्ड जवानों की सेवाओं को मतदान केंद्रों पर भी ले जाया जाएगा.

जितेंद्र ने कहा कि एहतियात के तौर पर, चुनाव ड्यूटी पर तैनात सभी सुरक्षाकर्मियों को कोविड-19 किट दिए गए हैं. बिहार विधानसभा के दूसरे चरण के तहत जिन निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान होना है वे राज्य के 17 जिलों पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुबनी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, सीवान, सारण, वैशाली, समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया, भागलपुर, नालंदा तथा पटना में पड़ते हैं.

इस चरण में कुल 1463 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं, जिनमें 146 महिला तथा एक ट्रान्सजेण्डर उम्मीदवार शामिल हैं. कुल 2,85,50,285 मतदाता हैं, जिनमें 1,35,16,271 महिला और 980 ट्रान्सजेण्डर मतदाता हैं. महाराजगंज विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 27 उम्मीदवार तथा दरौली विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम चार उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं.

इस चरण में राजग (NDA) में शामिल भाजपा के 46 एवं जदयू (JDU) के 43 और वीआईपी (VIP) के पांच उम्मीदवार मैदान मे हैं. विपक्षी महागठबंधन में शामिल राजद के 56 उम्मीदवार, कांग्रेस के 24, वामदलों के 14 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. लोक जनशक्ति पार्टी के 52 उम्मीदवार मैदान में हैं. इन सीटों में से दो पर 2015 में राजग के साथी के तौर पर लोजपा ने जीत दर्ज की थी.

रालोसपा (RLSP) के 36, बसपा (BSP) के 33 तथा लोजपा (LJP) के 52 प्रत्याशी चुनावी मैदान में अपना-अपना भाग्य आजमा रहे हैं. द्वितीय चरण (Doosre Charan Ka Matdan) में वैसे मतदान केन्द्र जहां मतदान का समय सामान्य समय (पूर्वाह्न 07:00 बजे से अपराह्न 06:00 बजे तक) से भिन्‍न होगा उनमें दरभंगा जिला का कुशेश्वरस्थान एवं गौडाबौराम, मुजफ्फरपुर का मीनापुर, पारू एवं साहेबगंज, वैशाली जिला का राघोपुर तथा खगड़िया जिला के अलौली एवं बेलदौर शामिल हैं, जहां मतदान का समय सुबह सात बजे से अपराह्न 4 बजे तक निर्धारित किया गया है.

Upload By Samir Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें