1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar assembly election 2020 result chirag paswan party ljp damage nitish kumar party jdu and nda in bihar chunav smb

Bihar Chunav 2020 Result : जदयू की सीटें किसने कब्जा कर लीं, क्या रहे महत्वपूर्ण फैक्टर्स

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Nitish Kumar
Nitish Kumar
FILE PIC

Bihar Assembly Election 2020 Result बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के परिणाम मंगलवार को आने के साथ ही कई बिंदुओं पर सियासी गलियारों में चर्चा जोर पकड़ रही है. इसी कड़ी में पिछले चुनाव के मुकाबले सत्ताधारी दल जदयू को इस बार कम सीटें मिलने को लेकर भी चर्चाओं का बाजार गरम है. सवाल उठ रहा है कि आखिर जदयू की सीटों पर किसने कब्जा कर लिया और इसके पीछे क्या मुख्य कारण रहे हैं. जानिए उन कारणों को जिसकी वजह से नीतीश कुमार की पार्टी जदयू को कम सीटें मिली.

2020 के बिहार चुनाव में नीतीश कुमार की पार्टी जदयू को 43 सीटें मिली है. अगर 2015 से तुलना करें तो इस बार जदयू को 28 सीटें कम मिली है. वहीं, भाजपा को इस बार 74 सीटों पर सफलता मिली है. उधर, चुनाव से पहले बिहार में एनडीए से अलग होकर चुनावी रण में उतरने का एलान करने वाले चिराग पासवान की पार्टी लोजपा को महज एक सीट पर संतोष करना पड़ा है. चर्चा है कि अगर चिराग पासवान अगर एनडीए में रहकर चुनाव में उतरे होते तो एनडीए के पक्ष में नतीजे कुछ अलग ही होते.

सवाल यह उठता है कि जदयू को नुकसान पहुंचाने का खुले मंच से एलान करने वाले चिराग पासवान क्या वाकई में अपने इस मंसूबे में सफल हुए है. आंकड़े इस ओर इशारा कर रहे है कि बहुत हद लोजपा ने जदयू को नुकसान पहुंचाने के अपने इरादों में सफल होती दिखाई दी.

चुनावी नतीजों पर नजर दौड़ाएं, तो एनडीए से अलग होकर चुनाव मैदान में उतरी लोजपा ने जदयू को करीब डेढ़ दर्जन सीटों पर नुकसान पहुंचाया है. साथ ही चार सीटों पर वीआईपी और एक सीट पर हम को भी क्षति पहुंचाया है. लोजपा महज एक सीट मटिहानी जीती है, जहां उसने जदयू को ही हराया है. अब बात करे सारण जिले की तो एकमा विधानसभा क्षेत्र से जदयू की सीता देवी आरजेडी के श्रीकांत यादव से करीब 14 हजार वोट से हारी. यहां पर लोजपा उम्मीदवार कामेश्वर सिंह मुन्ना को करीब 30 हजार वोट मिले.

वहीं, दिनारा से लोजपा उम्मीदवार राजेंद्र सिंह दूसरे स्थान पर रहे और आरजेडी के प्रत्याशी को जीत मिली. जबकि, यहां जदयू तीसरे पायदान पर दिखी. लोजपा और जदयू का वोट जोड़ दें तो वह आरजेडी को मिले मत से 19 हजार अधिक होता है. इसी तरह रघुनाथपुर सीट की बात करे तो यहां लोजपा और जदयू के वोट को जोड़ देने पर वह आरजेडी से नौ हजार अधिक हो जाती है. लेकिन, यह सीट लालू प्रसाद की पार्टी आरजेडी के खाते में चली गयी.

इसी तरह के परिणाम इस्लामपुर, अलौली, महाराजगंज, राजापाकड़ में भी देखने को मिला. इतना ही नहीं खगड़िया, ओबरा, गायघाट, महनार, चेनारी, जमालपुर, जगदीशपुर, महुआ, दरभंगा ग्रामीण, साहेबपुर कमाल में लोजपा के मिले वोट से कम वोट से जदयू की हार हुई है. सुगौली में लोजपा को 24 हजार वोट मिले और वहां वीआईपी की 3447 वोटों से हार हुई. इसी प्रकार मधुबनी और ब्रह्मपुर से लोजपा उम्मीदवार को मिले वोट से वीआईपी की हार हुई.

Upload By Samir Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें