1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. animal hospital be built in every 10 panchayats of bihar cm nitish kumar said now more worry about protecting people from corona rdy

बिहार के हर 10 पंचायतों पर बनेगा पशु अस्पताल, CM बोले- अभी कोरोना से लोगों की रक्षा करने की ज्यादा चिंता

सीएम ने कहा कि पहले जिन बच्चों को इंजीनियरिंग में प्रवेश नहीं मिलता था, वे कृषि कॉलेजों में प्रवेश ले लेते थे. इंजीनियरिंग में एडमिशन मिलते ही कृषि की पढ़ाई छोड़कर चले जाते थे. लेकिन, अब युवाओं का कृषि एवं पशुपालन के क्षेत्र में आकर्षण बढ़ रहा है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के नये भवनों का शिलान्यास करते सीएम नीतीश कुमार व अन्य.
बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के नये भवनों का शिलान्यास करते सीएम नीतीश कुमार व अन्य.
प्रभात खबर

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सात निश्चय पार्ट -2 के तहत राज्य में हर आठ- दस पंचायतों के बीच एक पशु अस्पताल का निर्माण किया जायेगा. इससे पशुपालक आसानी से पशुओं का इलाज करा पायेंगे. पशु टीकाकरण, कृत्रिम गर्भाधान, डोर स्टेप डिलीवरी आदि की सुविधाएं मुहैया कराने की भी व्यवस्था की जा रही है. सरकार चाहती है कि सही मायने में बिहार का विकास हो. लोगों का स्वास्थ्य और स्वभाव बेहतर रहे. गायों के प्रति विशेष प्रेम दिखाते हुए सीएम ने कहा कि हमने भी गाय को पाल रखा है. मुख्यमंत्री शुक्रवार को बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के नये भवनों के शिलान्यास के बाद दशरथ मांझी श्रम एवं नियोजन अध्ययन संस्थान के ऑडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. अंतरराष्ट्रीय मानक से विकसित होने वाले इस विवि परिसर में देश का सबसे बड़ा पशु अस्पताल भी होगा. इन भवनों के निर्माण पर 889.26 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

अब कृषि की पढ़ाई के लिए हर तर की सुविधा

सीएम ने कहा कि पहले जिन बच्चों को इंजीनियरिंग में प्रवेश नहीं मिलता था, वे कृषि कॉलेजों में प्रवेश ले लेते थे. इंजीनियरिंग में एडमिशन मिलते ही कृषि की पढ़ाई छोड़कर चले जाते थे. लेकिन, अब युवाओं का कृषि एवं पशुपालन के क्षेत्र में आकर्षण बढ़ रहा है. सरकार भी उनकी भावनाओं का सम्मान कर रही है. पढ़ाई के लिए हर महीने दो हजार रुपये दे रही है. पुस्तकों के लिए भी छह हजार रुपये उपलब्ध करा रही है. पशुपालन और कृषि क्षेत्र में शोध को बढ़ावा दे रही है. इसी क्रम में बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के भवनों का निर्माण किया जा रहा है.

हम विकास कर रहे, लेकिन चर्चा नहीं होती

सीएम ने कहा कि देश में कहीं भी पशुओं का कोई विश्वविद्यालय नहीं था. पशुओं के नाम पर हमलोगों ने बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय बनाया है. अब कई जगहों पर काम होने लगा है. पूसा के राजेंद्र कृषि विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाया. सबौर में कृषि विश्वविद्यालय शुरू किया. अनेक जगहों पर कई इंस्टीट्यूशन का निर्माण कराया. नीतीश कुमार ने शराबबंदी को लेकर कहा कि शराबबंदी के कारण सब्जी की अधिक खपत हो रही है. लोग बेहतर खाना खा रहे हैं. महिलाओं के विकास के लिए कई काम किये हैं. इससे बड़े- बड़े लोग नाराज हो गये हैं.

उपमुख्यमंत्री सह पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि मानव एवं पशुओं के बीच गहरा संबंध सदियों से रहा है. मानव जीवन तभी स्वस्थ हो सकता है, जब पशु एवं वातावरण स्वच्छ एवं स्वस्थ रहें. भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि इन भवनों का निर्माण तीन साल में पूरा कर लिया जायेगा. प्रमुख रूप से एकेडमिक पशु चिकित्सा भवन एवं प्रशासनिक भवन का निर्माण किया जायेगा. इसके लिए नक्शा तैयार कर लिया गया है. पशु विज्ञान विवि के कुलपति रामेश्वर सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कारण ही विश्वविद्यालय विशाल आकार ले सका है. उन्होंने पशु विज्ञान, जल-जीवन-हरियाली, शिक्षा के लिए सीएम के योगदान को अतुलनीय बताया है. भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि, कृषि विभाग के सचिव डॉ सरवन कुमार, कॉम्फेड की एमडी शिखा श्रीवास्तव सहित कई लोगों ने अपने विचार रखे.

अभी कोरोना से लोगों की रक्षा करने की ज्यादा चिंता

पटना. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा कोरोना काल के बाद नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) लागू करने की घोषणा को लेकर पत्रकारों द्वारा पूछे गये सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी कोरोना के केस बढ़ रहे हैं. कोरोना से लोगों की रक्षा करने की ज्यादा चिंता है. सीएए नीतिगत मामला है. पॉलिसी की बात को अलग से देखेंगे. हमने बाकी चीजों को अभी देखा नहीं है. चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर पर उन्होंने कहा कि लोगों को पता है कि बिहार में विकास किया है कि नहीं किया है. कौन क्या बोलता है, उसका कोई महत्व नहीं है. महत्व सत्य का है. लोग जानते हैं कि क्या हुआ है, कितना काम किया गया है.

परियोजना की खास बातें

  • 224.53 एकड़ में बनेंगे नये भवन, तीन मुख्य भवन

  • 889.26 करोड़ रुपये होंगे खर्च

  • 05 मई, 2025 तक निर्माण पूरा करने का लक्ष्य

  • 255 सीसीटीवी कैमरे लगेंगे पूरे परिसर में

  • 1000 किलोवाट का सौर ऊर्जा प्लांट भी होगा

  • 700 क्षमता के ब्वायज हॉस्टल बनेंगे

  • 350 क्षमता के छात्राओं के लिए हॉस्टल बनेंगे

  • इनडोर और आउडडोर स्टेडियम का भी निर्माण

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें