1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. agreement on purchase of solar energy 200 mw solar power generation project to be set up in banka jamui rdy

सौर ऊर्जा की खरीद को लेकर हुआ करार, बांका-जमुई में लगेगी 200 मेगावाट सौर ऊर्जा उत्पादन की परियोजना

ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस ने कहा कि वर्तमान में राज्य के अंदर 130 मेगावाट की सोलर परियोजनाएं संचालित हैं, जिससे 23 करोड़ यूनिट सौर ऊर्जा प्रति वर्ष मिल रही है. सभी परियोजनाएं पूरी होने पर बिहार के अंदर सौर ऊर्जा उत्पादन की क्षमता 830 मेगावाट हो जायेगी.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बैठक में मौजूद ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव व अन्य अफसर
बैठक में मौजूद ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव व अन्य अफसर
प्रभात खबर

पटना. भारत सरकार के उपक्रम सतलज जल विद्युत निगम लिमिटेड (एसजेवीएन) बिहार के बांका और जमुई जिले में 200 मेगावाट सौर ऊर्जा उत्पादन करने वाली परियोजना लगायेगी. इन परियोजनाओं से लगभग 42 करोड़ यूनिट अतिरिक्त सौर ऊर्जा प्रति वर्ष राज्य को प्राप्त होगी. गुरुवार को बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड, नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड एवं साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड का एसजेवीएन के साथ इस 200 मेगावाट सौर ऊर्जा की खरीद को लेकर करार हुआ.

जुलाई 2023 से मिलने लगेगी बिजली

विद्युत भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव व बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी लिमिटेड के सीएमडी संजीव हंस, नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के एमडी प्रभाकर, साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के एमडी महेंद्र कुमार एवं सतलज जल विद्युत निगम के निदेशक (वित्त) एके सिंह के अलावा अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित रहे. एसजेवीएन के निदेशक (वित्त) एके सिंह ने बताया कि करार के हिसाब से दिसंबर 2023 से सौर ऊर्जा के माध्यम से बिजली उत्पादित होने लगेगी. हालांकि हम जुलाई या अगस्त 2023 में ही उत्पादन शुरू करने का प्रयास करेंगे.

830 मेगावाट सौर ऊर्जा का उत्पादन करेगा बिहार : सीएमडी

ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव संजीव हंस ने कहा कि वर्तमान में राज्य के अंदर 130 मेगावाट की सोलर परियोजनाएं संचालित हैं, जिससे 23 करोड़ यूनिट सौर ऊर्जा प्रति वर्ष मिल रही है. सभी परियोजनाएं पूरी होने पर बिहार के अंदर सौर ऊर्जा उत्पादन की क्षमता 830 मेगावाट हो जायेगी. इनके अलावा राज्य में लघु स्तर पर सरकारी भवनों तथा इच्छुक व्यक्तियों के आवासीय भवनों के छतों पर भी 25 मेगावाट के रूफ टॉप सोलर पावर प्लांट लगाये गये हैं. उन्होंने बताया कि एजेवीएन से 200 मेगावाट सौर ऊर्जा का इकरारनामा हुआ है. शेष 50 मेगावाट के लिए भी शीघ्र ही इकरारनामा किया जायेगा. धन्यवाद ज्ञापन साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड एवं बिहार स्टेट पावर जेनरेशन कंपनी लिमिटेड के एमडी महेंद्र कुमार ने किया.

बांका में 75 व जमुई में 125 मेगावाट की परियोजना : मंत्री

ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि अगली पीढ़ी की ऊर्जा जरूरत को देखते हुए अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देना अनिवार्य है. इसका कोई विकल्प नहीं हो सकता. भौगोलिक क्षमता को देखते हुए बिहार में सौर और हाइडल बिजली उत्पादन की बहुत संभावना है. इसी कड़ी में एसजेवीएन बांका में 75 मेगावाट एवं जमुई में 125 मेगावाट सहित कुल 200 मेगावाट की सौर ऊर्जा परियोजना लगा रही है. उन्होंने कैमूर में 1000 मेगावाट क्षमता की पंप स्टोरेज सौर ऊर्जा परियोजना का प्राथमिकता के आधार पर डिटेल सर्वे कराने का निर्देश दिया. मंत्री ने बताया कि बिहार स्टेट पावर जेनरेशन कंपनी के माध्यम से लखीसराय के कजरा में 250 मेगावाट एवं भागलपुर के पीरपैंती में 200 मेगावाट क्षमता की सौर ऊर्जा परियोजना भी जल्द लगायी जायेगी. इसमें बैट्री स्टोरेज सिस्टम का भी प्रावधान है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें