1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. covid 19 will now be registered online in muzaffarpur bihar asj

अब कोविड-19 जांच के लिए होगा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
फाइल फोटो

मुजफ्फरपुर. अब कोविड-19 जांच के लिए आपको दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा. इसके लिए विभाग के द्वारा संजीवन मोबाइल एप लांच किया गया है. इस एप में एक फीचर दिया गया है, जिसके माध्यम से आप ऑनलाइन रजिस्टर कर कोविड-19 जांच के लिए फॉर्म भर सकते हैं. कोविड-19 जांच के लिए ऑनलाइन आपको व्यक्तिगत जानकारी देनी होगी. इसमें नाम, उम्र, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी एवं घर का पता तथा लक्षण बताना होगा. व्यक्ति को इस बात की भी जानकारी देनी होगी कि क्या वह कंटेनमेंट जोन में रहता है या क्या कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये हैं. रजिस्टर करने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक केस आईडी मिलेगा, जिसके माध्यम से अपना कोविड-19 जांच करा सकते हैं. इसके बाद कोविड जांच करने वाली वैन आपसे संपर्क करेगा कि आप जांच घर पर करवाना चाहते हैं या पीएचसी, सीएचसी आयेंगे. संबंधित व्यक्ति के जबाव के बाद उसका वहां वैन जाकर जांच करेगी.

30 मिनट के अंदर आ जायेगी रिपोर्ट

कोविड-19 की जांच के लिए ऑनलाइन रजिस्टर कर फॉर्म भरने वाले की जांच एंटीजन टेस्ट से किया जायेगा. टेस्ट करने के 30 मिनट के अंदर संबंधित व्यक्ति को रिपोर्ट निगेटिव आयी है या पॉजिटिव, उसकी जानकारी दे दी जायेगी. वहीं सामान्य जांच कराने वाले को आरटीपीसीआर से की जायेगी. इनकी रिपोर्ट छह से 24 घंटे में बतायी जायेगी. इधर, जिनकी जांच अब आरटीपीसीआर से होगी, उन्हें जांच के बाद किसी से मिलने-जुलने की अनुमति नहीं दी जायेगी. वे अपने घर में रिपोर्ट आने तक आइसोलेट रहेंगे. ऐसे शख्स को स्वास्थ्य विभाग सख्ती से आइसोलेट करेगा.

टॉल फ्री नंबर पर कॉल कर लें चिकित्सकीय सलाह

टॉल फ्री नंबर 1800-345-6629 पर फोन करने पर चिकित्सीय परामर्श, जांच की सुविधाओं की जानकारी, कोविड केयर सेंटर, डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर, कोविड अस्पतालों में इलाज की जानकारी प्राप्त की जा सकती है. बीमार, लाचार, वृद्ध और गर्भवती महिलाओं के लिए उनके घर में ही जांच की व्यवस्था के अलावा अस्पताल में भर्ती करने के लिए एंबुलेंस की व्यवस्था की गयी है.

सरकारी अस्पताल में इलाज कराने जायेंगे तो होगी कोविड की जांच

जिले के सरकारी अस्पतालों में अब मरीज किसी भी बीमारी का इलाज कराने जायेंगे, तो उनका कोविड टेस्ट किया जायेगा. कोरोना संकटकाल के बीच मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने यह फैसला लिया है. साथ ही कोरोना जांच में तेजी आये और संक्रमण पर काबू पाया जा सके, इसके लिए सभी पीएचसी, एपीएचसी, सदर अस्पताल सीएचसी को जांच करने का लक्ष्य तय कर दिया है. इधर, स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने जिलाधिकारी व सिविल सर्जन को पत्र लिख कर जिले में आरटी पीसीआर से प्रतिदिन 300 जांच व ट्रूनेट मशीन से 50 जांच करने का निर्देश दिया है. स्वास्थ्य विभाग ने इसके लिए जिले के सभी पीएचसी पर रैपिड एंटीजन किट उपलब्ध करा दी हैं.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें