1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. chamki after corona now dengue fever knocked in muzaffarpur five infected asj

चमकी, कोरोना के बाद मुजफ्फरपुर में अब डेंगू बुखार ने दी दस्तक, मिले पांच संक्रमित, जानें लक्षण व बचने के उपाय

जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ सतीश कुमार ने बताया कि डेंगू के जो मरीज मिले हैं, उसमें कांटी में दो, सरैया व मीनापुर में एक-एक मरीज हैं. जबकि एक एसकेएमसीएच में इलाजरत मरीज शिवहर का है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बुखार
बुखार
फाइल

मुजफ्फरपुर. जिले में जलजमाव के बीच डेंगू ने दस्तक दे दी है. एसकेएमसीएच में डेंगू के पांच मरीज भर्ती हुए हैं. जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ सतीश कुमार ने बताया कि डेंगू के जो मरीज मिले हैं, उसमें कांटी में दो, सरैया व मीनापुर में एक-एक मरीज हैं. जबकि एक एसकेएमसीएच में इलाजरत मरीज शिवहर का है.

डेंगू के मरीज मिलने के साथ ही जिले के सभी पीएचसी को अलर्ट किया गया है. जहां डेंगू मरीज का घर है, उसके आसपास एक सौ घरों के इर्द-गिर्द फॉगिंग करायी जायेगी. इसके साथ ही लार्वा मारने वाली दवा का छिड़काव कराने को कहा गया है.

शहर के लिए बना माइक्रोप्लान

डॉ सतीश कुमार ने बताया कि शहर के लिए माइक्रोप्लान तैयार किया गया है. शहरी इलाके में लार्वा मारने वाली दवा का छिड़काव टीम करेगी. उन्होंने कहा कि अरबन क्षेत्र में कोरोना में फॉगिंग कराने के लिए हर पीएचसी में मशीन उपलब्ध है.

उन्होंने कहा कि डेंगू का मच्छर आमतौर पर दिन में काटता है. डेंगू के मच्छर हमेशा साफ पानी में पनपते हैं. जैसे छत पर लगी पानी की टंकी, घड़ों व बाल्टी में जमा पीने का पानी, कूलर का पानी, गमलों में भरा पानी रहता है.

यह हैं लक्षण

  • - तेज बुखार के साथ शरीर पर लाल-लाल चकत्ते दिखायी देते हैं.

  • - 104 डिग्री तेज बुखार के साथ सिर में तेज दर्द होना

  • - शरीर के साथ जोड़ों में भी दर्द होना

  • - उल्टी होना, भूख कम लगना व ब्लड प्रेशर कम हो जाना

  • - चक्कर आना, कमजोरी महसूस होना व बॉडी में प्लेटलेट्स की कमी हो जाना

डेंगू से बचने के उपाय

  • - ऐसे स्थानों से पानी निकालें, जहां पानी बराबर भरा रहता है.

  • - कूलरों का पानी सप्ताह में एक बार अवश्य बदलें.

  • - घर में कीटनाशक दवाएं छिड़कें.

  • - बच्चों को ऐसे कपड़े पहनाएं, जिससे उनके हाथ-पांव पूरी तरह ढके रहें.

  • - सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें.

  • - मच्छर भगाने वाली दवाइयों व वस्तुओं का प्रयोग करें.

  • - टंकियों व बर्तनों को ढंककर रखें.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें