1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. boat full of 10 laborers going to cut wheat in diara capsizes in gandak river three died due to drowning rdy

Bihar News: दियारा में गेहूं काटने जा रहे 10 मजदूरों से भरी नाव गंडक नदी में पलटी, डूबने से तीन की मौत

सालिकपुर गांव के समीप नारायणी नदी को छोटी नाव से पार कर रहे 10 मजदूर डूब गये. इनमें से 7 लोगों को दो साहसी व्यक्तियों ने पानी से बाहर निकाल बचा लिया, जबकि तीन महिलाओं की मौत पानी में डूबने से हो गयी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 शव को गोताखोर घंटों तलाशते रहे.
शव को गोताखोर घंटों तलाशते रहे.
Prabhat Khabar

बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के बगहा से बड़ी खबर आ रही है. दियारा में गेहूं काटने जा रहे 10 मजदूरों से भरी नाव गंडक नदी में पलट गयी, जिससे तीन लोगों की मौत हो गयी. जबकि सात लोगों को बचा लिया गया. मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह सालिकपुर गांव के समीप नारायणी नदी को छोटी नाव से पार कर रहे 10 मजदूर डूब गये. इनमें से 7 लोगों को दो साहसी व्यक्तियों ने पानी से बाहर निकाल बचा लिया, जबकि तीन महिलाओं की मौत पानी में डूबने से हो गयी. सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया. वही सूचना पर खड्डा पुलिस ने गोताखोरों की मदद से महाजाल डालकर तीनों महिलाओं का शव बरामद कर लिया. मौके पर क्षेत्रीय विधायक, डीएम, एसडीएम, कर्मचारी आदि लोग घटनास्थल पहुंच कर घटना का जायजा लिया.

दियारा में गेहूं काटने जा रहे थे खेतिहर मजदूर

हनुमानगंज थाना क्षेत्र के बोधी छपरा गांव निवासी मिश्री निषाद का गेहूं की फसल गंडक नदी पार खड्डा थाना क्षेत्र के सालिकपुर मौजा दियारा में है. फसल काटने के लिए मिश्री निषाद ने पथलहवा गांव से मजदूर तय किया था. बुधवार की सुबह आसमा 35 वर्ष, गुड़िया 18 वर्ष, सोनी 17 वर्ष, सूरमा 50 वर्ष, गुलशन 18 वर्ष, नूरजहां 16 वर्ष, कुमकुम 17 वर्ष सहित 10 मजदूरों को लेकर मिश्री निषाद पनियहवा रेल सह सड़क पुल पार करके पुल के सुरक्षा के लिए बने ठोकर के नोज तक पहुंचे. जहां पर नदी का एक सोता मौजूद है. इसको पार कर खेत में जाने के लिए छोटी नाव पर सभी सवार हो गये.

तैराकों ने सात लोगों की बचायी जान

नाव जैसे ही बीच में पहुंची तभी असंतुलित होकर गहरे पानी में पलट गयी. सभी डूबने लगे. शोर सुनकर कुछ दूरी पर अपने खेत में काम कर रहे तूफानी व रतन दौड़ पड़े. दोनों ने नदी में तैरते हुए 7 लोगों को बाहर निकाल लिया. परंतु आसमा, गुड़िया व सोनी गहरे पानी में लापता हो गयी. जानकारी मिलते ही लोगों की भारी भीड़ उमड़ गयी.

घटना की सूचना पर खड्डा थानाध्यक्ष धनवीर सिंह, एसआई पीके सिंह, राजेश कुमार सहित सालिकपुर चौकी व थाने के जवान पहुंच गये. स्टीमर व नाव से तीनों की तलाश शुरू हुई. जब पता नहीं चला तो मछली पकड़ने वाली बड़ी जाल डाला गया. लगभग दो घंटे की मेहनत के बाद तीनों के शव बरामद हो गये. मौके पर मौजूद खड्डा कर्मचारी कृष्ण गोपाल त्रिपाठी के समक्ष शव का पंचनामा कराकर एंबुलेंस से पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें