1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. munger
  5. students and teacher corona positive in munger school found negative within 24 hours know whole matter of asarganj munger school bihar coronavirus news updates in hindi skt

24 घंटे के अंदर निगेटिव में बदला बिहार के 27 स्कूली बच्चों व शिक्षकों का कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट, मामले ने पकड़ा तूल

कोरोनाकाल(Coronavirus) में लागू लॉकडाउन के दौरान बंद किए गए बिहार के स्कूल(Bihar School Reopen) करीब 9 महीने बाद सशर्त खोले गए. जिससे स्कूलों में वापस रौनक देखने को मिली. लेकिन मुंगेर जिला के असरगंज प्रखंड में एक स्कूल के खुलते ही विधालय में एक साथ 3 शिक्षकों सहित 25 छात्रों का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव(Corona Positive) पाया गया. जिससे पूरे जिले में हड़कंप मच गया. मामला राज्य स्तर पर तूल पकड़ने के बाद दोबारा सभी संक्रमितों की जांच की गयी. जिसमें सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है. सिविल सर्जन ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
prabhat khabar

कोरोनाकाल(Coronavirus) में लागू लॉकडाउन के दौरान बंद किए गए बिहार के स्कूल(Bihar School Reopen) करीब 9 महीने बाद सशर्त खोले गए. जिससे स्कूलों में वापस रौनक देखने को मिली. लेकिन मुंगेर जिला के असरगंज प्रखंड में एक स्कूल के खुलते ही विधालय में एक साथ 3 शिक्षकों सहित 25 छात्रों का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव(Corona Positive) पाया गया. जिससे पूरे जिले में हड़कंप मच गया. मामला राज्य स्तर पर तूल पकड़ने के बाद दोबारा सभी संक्रमितों की जांच की गयी. जिसमें सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है. सिविल सर्जन ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं.

गौरतलब है कि असरगंज प्रखंड में ममई गांव स्थित लाल बहादुर शास्त्री किसान उच्च विधापीठ विधालय के 25 बच्चों, शिक्षकों व अन्य कर्मी को मिलाकर कुल 27 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे.

स्कूल खुलने के साथ ही बच्चों व शिक्षकों के कोरोना संक्रमित हो जाने की खबर आग के तरह वायरल हुई और हड़कंप मच गया था. जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने इमरजेंसी बैठक की और तुरंत मेडिकल टीम का गठन कर उसे असरगंज भेजा. जहां अधिकारियों ने सभी संक्रमितों को आाइसोलेट कर स्कूल को सेनेटाइज कराया गया.

वहीं यह मामला अब दोबारा गरम हो चुका है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सभी संक्रमितों की जांच फिर से की गयी है. जिसमें सभी की रिपोर्ट निगेटिव आयी है. असरगंज पीएचसी प्रभारी ने जब सभी की रिपोर्ट निगेटिव आने की बात की तो मामले ने तूल पकड़ लिया.

उन्होंने प्रथम जांच में पॉजिटिव पाए जाने के मामले को मानवीय भूल बताने की कोशिश की. विभाग की लापरवाही सामने आने पर सिविल सर्जन ने पूरे मामले के जांच के आदेश दिये हैं.

Posted By :Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें