1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. munger
  5. munger police face off with naxalite in munger forest during sharab bandi in bihar raid skt

Bihar News: शराब माफियाओं को दबोचने निकली मुंगेर पुलिस, जंगल में हो गया नक्सलियों के मारक जत्थे से सामना

मुंंगेर में शराब माफियाओं को दबोचने के लिए निकली पुलिस का सामना नक्सलियों से हो गया. जंगल से नक्सली पुलिस की ओर बढ़ने लगे तो थानेदार सूझबूझ का परिचय देते हुए दल को लेकर वापस हो गये.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटज्ञे
सांकेतिक फोटज्ञे
फाइल फोटो.

मुंगेर: शराब माफियाओं के विरुद्ध देर रात छापेमारी अभियान चलाया गया. इस दौरान मुंगेर पुलिस का टेटियाबंबर प्रखंड के अति नक्सल प्रभावित समदा कुड़ी धपड़ी पहाड़ी और जंगली इलाके में अचानक ही नक्सलियों के मारक जत्थे से सीधा सामना हो गया. किंतु नक्सलियों के मुकाबले पुलिस बल की कम संख्या देखते हुए टेटियाबंबर थानाध्यक्ष अभय कांत चंद्रा ने सूझबूझ का परिचय देते हुए जंगल से सुरक्षित लौटना ही बेहतर समझा.

बताया जाता है कि थानाध्यक्ष क्यूआरटी टीम व थाने की पुलिस के साथ चार वाहनों में सवार होकर क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाकों में शराब निर्माण करने वाले शराब माफियाओं की जुटान होने की सूचना पर गिरफ्तार करने के लिए निकले थे. इस दौरान जंगल से गुजर रही सड़क के बीचों बीच गिट्टी गिरे रहने के कारण क्यूआरटी टीम का दो वाहन पीछे छूट गया. इधर थानाध्यक्ष पुलिस बलों के साथ जंगल के अंदर घुस गए.

इस दौरान अचानक ही पहाड़ की तराई से निकले दर्जनों अत्याधुनिक हथियारों से लैस नक्सलियों का जत्था पुलिस की ओर लाइट जला कर आगे बढ़ने लगा. नक्सलियों की इस हरकत के बाद चौकन्नी हुई पुलिस ने तत्काल पीछे हटने का फैसला किया. इस दौरान एसएचओ अभय कांत चंद्रा ने दुर्गम जंगली इलाका होने के कारण और कोहरे की गहन अंधेरी रात में पुलिस बलों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पीछे लौटना मुनासिब समझा. थाना लौट कर आयी पुलिस एक बार पुनः नक्सलियों के विरुद्ध स्थान चिन्हित कर सर्च ऑपरेशन चलाने पर रणनीति बना रही है. हालांकि पुलिस इस मामले पर कुछ भी बोलने से बच रही है.

बता दें कि इससे पहले पिछले साल सितंबर में भी धरहरा प्रखंड के नक्सल प्रभावित सखौल कोल के समीप पुलिस और नक्सलियों का आमना-सामना हो गया था. इस दौरान जानकारी सामने आयी थी कि आबकारी टीम अवैध शराब निर्माण के खिलाफ छापेमारी के लिए सखौल गयी थी. इस क्रम में पहाड़ व जंगली क्षेत्र में छापेमारी कर रहा था. पुलिस वर्दी में लोगों को देख कर नक्सलियों ने आबकारी टीम पर भी हमला कर दिया था. जिसके बाद आबकारी टीम वापस लौट गयी थी.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें