1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. madhubani
  5. two priests brutally killed in khirhar madhubani bihar police engaged in raids to arrest criminals skt

बिहार: मधुबनी के धरोहर मंदिर के दो पुजारी की नृशंस हत्या, आरोपित हत्यारे ने मंदिर में लगे खून को किया साफ

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
प्रभात खबर

Bihar Crime News: बिहार के मधुबनी जिले के खिरहर थाना क्षेत्र के धरोहरनाथ महादेव मंदिर स्थान में मंगलवार की रात दो पुजारी की नृशंस हत्या कर दी गयी है. हत्यारे ने दोनों का सिर किसी धारदार हथियार से काट कर धड़ से अलग कर दिया. इसके बाद सिर को छिपाने की कोशिश की गयी. मृतक पुजारी में एक की पहचान बासोपट्टी थाना क्षेत्र के सिरियापुर निवासी करीब 70 वर्षीय हीरा दास एवं दूसरे की पहचान करीब 45 वर्षीय भगवानपुर निवासी आनंद कुमार मिश्र के रूप में किया गया है.

घटना की जानकारी होते ही पुलिस बल मौके पर पहुंच कर मामले की जांच शुरू कर दिया गया है. इधर, शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये मधुबनी भेज दिया गया. घटना से इलाके में सनसनी फैल गयी है. पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए लगातार छापेमारी कर आरोपित हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपित हरलाखी गांव निवासी दीपक चौधरी बताया जा रहा है. एसपी डा. सत्यप्रकाश ने बताया है कि पुलिस ने इस मामले में बहुत सक्रियता दिखायी है. हत्यारे को बासोपट्टी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है. वहीं हत्यारे की गिरफ्तारी से पहले ही हत्या में प्रयुक्त कुदाली को भी हत्यारे के घर से बरामद कर लिया गया है.

तीसरे पुजारी ने दी घटना की जानकारी

घटना को लेकर मंदिर पर रहने वाले तीसरे पुजारी नारायण दास ने पुलिस को बताया कि अन्य दिनों की तरह ही सब लोग खाना खाकर सोने चले गये. मंदिर परिसर में ही रखे एक चौकी पर हीरा दास सोते थे, जबकि मंदिर में फर्स पर ही आनंद मिश्र सोता था. जबकि नारायण दास अंदर के एक कमरे में सोने चला गया. रात में करीब एक बजे के बीच मंदिर परिसर में कुदाल चलने और चापाकल चलने की आवाज से उनकी नींद खुली.

उन्होंने देखा कि एक व्यक्ति कुदाल से एक पेड़ के नीचे गढ़ा खोद रहा है. वह बाहर निकले तो दोनों साधुओ को मृत देखा. जब वह बाहर निकले तो उसने दीपक चौधरी नामक उस व्यक्ति से पूछा कि इस समय वह यहां क्या कर रहा है. तो दीपक चौधरी उस पर आक्रोशित हो मारने को छूटा. इसके बाद हत्यारे ने उन्हें धमकाया तो वे डर कर दुबारा अपने कमरे में चले गये. इसके बाद दीपक चौधरी ने मंदिर परिसर में लगे खून को साफ किया. फिर साईकिल पर कुदाल रख कर चला गया.

कई थानों की पुलिस पहुंची मौके पर

इधर, हत्या करने के बाद हत्यारा शव को समीप के एक भूसे के घर में रख दिया. जिसमें 45 वर्षीय आनंद कुमार मिश्र के सिर को भूसे के ढेर में ही छिपा दिया था. जबकि हीरा दास के सिर को पेड़ के नीचे दबाने के लिये मिट्टी खुदाई कर रहा था. जिसे नारायण दास ने देखा तो गढ़ा खुदाई का काम छोड़ वह चला गया. सुबह में इस घटना की जानकारी आस पास के लोगों को हुइ तो लोगों ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी.

सूचना मिलते ही बेनीपट्टी इंस्पेक्टर राजेश कुमार, खिरहर थानाध्यक्ष अंजेश कुमार,अरेर थानाध्यक्ष राज किशोर राय,साहरघाट थाना अध्यक्ष सुरेन्द्र पासवान अपने दल बल के साथ मामले की जाँच में जुट गये. बाद में एसपी डा. सत्य प्रकाश भी घटना स्थल पर पहुंचे और घटना के संबंध में पुजारी नारायण दास से बातें की.

एसपी ने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिये. नारायण दास के बयान पर थाना पुलिस ने खिरहर गांव निवासी दीपक चौधरी के घर पर छापेमारी किया. जिसमें खून सना कुदाल बरामद हुआ. एसपी ने बताया है कि संदेह है कि इसी कुदाली से हत्या की गयी है. दीपक चौधरी के पिता से भी पूछताछ की जा रही है. दीपक चौधरी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. स्थानीय लोगों में इस घटना के बाद से दहशत है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें