1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. madhubani
  5. after plucking mangoes in madhubani two children were beaten up by the sarpanch with their hands tied rdy

मधुबनी में आम तोड़ने पर दो बच्चों को सरपंच ने पहले हाथ बांध कर पीटा, फिर चींटी का छत्ता देह पर झाड़ा

मधुबनी में आम तोड़ने पर दो बच्चों को सरपंच ने हाथ बांध कर बुरी तरह से पिटाई की है. इतना ही नहीं चींटी का छत्ता देह पर झाड़ दिया. घोरन के छत्ता देह पर झाड़े जाने के बाद इन बच्चों के हालत और खराब हो गये.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बिहार अपराध
बिहार अपराध
फाइल

मधुबनी के खुटौना पंचायती राज व्यवस्था में सरपंच को कई न्यायिक अधिकार दिये गये हैं. सरपंच ऐतिहासिक फैसले भी करते हैं. पर इन दिनों लौकहा के बासुदेवपुर पंचायत का सरपंच उपेंद्र यादव खुद दो नाबालिग बच्चों के साथ अमानवीय व्यवहार करने के कारण सुर्खियों में हैं. नाबालिग बच्चे '' दादी गै बचा ले गै दादी, बाबू हौ बचा ब है, हौ जान छोड़ि द हौ, आम हम आम नै तोड़ब हौ...'' का गुहार लगाता रहा. पर न तो बगल में खड़ी दादी (पड़ोस की) ही बचाने आयी न ही पीटने वाले का दिल ही इस करूण क्रंदन से पिघला. मवेशी की तरह दोनों नाबालिगों को एक ही रस्सी में हाथ बांध कर पहले बुरी तरह पीटा. फिर जब इससे भी मन न भर तो आम के पौंधे से घोरन (चीटीं) का छत्ता तोड़ कर दोनों के शरीर पर पीटने लगा.

रोते रहे बच्चे, पीटता रहा सरपंच

घोरन के छत्ता देह पर झाड़े जाने के बाद इन बच्चों के हालत और खराब हो गये. बगल में खड़ी दादी बचाने के बदले कहकहे लगाती रही. पीटने वाला अपने दंड प्रक्रिया को बार बार दुहराता रहा. इन बच्चों की गलती मात्र इतनी थी कि इन लोगों ने बगीचे से खाने के लिये दो चार कच्चे आम तोड़ लिया था. मामला लौकहा थाना क्षेत्र के बासुदेवपुर पंचायत का बताया जा रहा है. बच्चों के साथ इस प्रकार की अमानवीय व्यवहार का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. बताया जा रहा है कि पीटने वाला बगीचा का मालिक कोइ और नहीं उस पंचायत का सरपंच उपेंद्र यादव है. इस घटना का वीडियो लगातार वायरल होने पर लौकहा थाना में बच्चों के पिता लाल मंडल ने मामला दर्ज कराया.

दोनों बच्चों के हाथ उल्टा कर बांध दिया था

जानकारी के अनुसार गांव के दो बच्चे उपेंद्र यादव के बगीचे से कच्चा आम खाने के लिये तोड़ लिया था. इस बात की जानकारी जब बगीचा मालिक उपेंद्र यादव को हुई तो उसने सबसे पहले एक ही रस्सी में दोनों बच्चों के हाथ उल्टा कर बांध दिया. फिर सभी कपड़े उतरवा दिया. पहले बुरी तरह पीटा. बेरहमी से पिटाई करते हुए बगीचे के तरफ ले गया और चींटी के खोता तोड़कर उन दोनों बच्चों के शरीर पर डाल दिया, जिससे बच्चे जोर जोर से चीख पुकार मचाते रहे और छोड़ देने की गुहार लगाते रहे.

पुलिस से शुरू की मामले की जांच

इधर पीड़ित बच्चों के पिता लाल मंडल ने लौकहा थाना पहुंचकर घटना में संलिप्त सरपंच उपेंद्र यादव तथा मोहम्मद शकील को नामजद किया है. थानाअधक्ष संतोष कुमार मंडल ने बताया है कि घटना से संबंधित आवेदन दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है. तो दूसरी ओर फुलपरास के एसडीपीओ प्रभात कुमार शर्मा ने घटना की सूचना पाते ही थाना पर पहुंचकर पीड़ित के परिवार वालों तथा बच्चों से मिले और निष्पक्ष जांच कराने की बात कही.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें