1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. madhepura
  5. suspected death of three people in madhepura more than a dozen people are being treated in private hospital rdy

Bihar News: मधेपुरा में तीन लोगों की संदिग्ध मौत, एक दर्जन से अधिक लोग निजी अस्पताल में करा रहे इलाज

होली के दौरान युवकों द्वारा शराब का सेवन करने से मौत होने की बात सामने आ रही है. वहीं कुछ लोग यही कह रहे हैं कि इन सभी संदिग्ध मौत की वजह जहरीली शराब हैं. छह लोगों का इलाज गंभीर अवस्था में सहरसा में हो रहा हैं, तो 7 लोगों का इलाज पूर्णिया के विभिन्न निजी क्लीनिक में होने की बात सामने आ रही हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
संदिग्ध मौत
संदिग्ध मौत
फाइल

बिहार के मधेपुरा से बड़ी खबर सामने आ रही है. जिले के मुरलीगंज प्रखंड के दिग्घी में दो की संदिग्ध मौत हो गयी है, जबकि नगर पंचायत से एक लोग की मौत हो गई है. वहीं, एक दर्जन से अधिक लोगों की हालत गंभीर है. इधर, पुलिस जहरीली शराब पीने से मौत होने से इंकार कर रही है. जानकारी के अनुसार मुरलीगंज प्रखंड अंतर्गत, दिग्घी पंचायत एवं मुरलीगंज नगर पंचायत क्षेत्र में होली के दिन शुक्रवार की देर रात कुछ युवकों की तबीयत बिगड़ने लगी, जिससे आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुरलीगंज लाया गया. जहां उसे सांस लेने में तकलीफ और सीने में जलन होने पर डॉक्टरों ने स्थिति को गंभीर देखते हुए दिग्घी मेडिकल कॉलेज मधेपुरा भेज दिया. वहीं परिजनों द्वारा उन्हें मेडिकल कॉलेज से सीधे सहरसा प्राइवेट संस्थान में इलाज कराने पहुंच गये, जहां शुक्रवार की देर रात मौत हो गई. आनन फानन परिजनों द्वारा शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया.

अचानक कई लोगों की बिगड़ी तबीयत

वहीं, दिग्गी पंचायत के ही नीरज निशांत उर्फ बौआ सिंह लोजपा नेता की भी तबीयत बिगड़ने लगी. इसके बाद सीधे सहरसा निजी क्लीनिक ले जाया गया, लेकिन स्थिति संभल नहीं पाई और शनिवार को दोपहर दो बजे उसकी भी मौत हो गई. आनन-फानन में ग्रामीणों ने देर शाम उनके शव का अंतिम संस्कार कर दिया. स्वजन ने आनन-फानन में बिना पोस्टमार्टम कराए चारों का अंतिम संस्कार कर दिया. वहीं तीसरी घटना शाम चार बजे मुरलीगंज नगर पंचायत क्षेत्र के वार्ड नंबर 9 निवासी संजीव कुमार रामानी पिता अशोक रामानी चार बजे सांस लेने और पेट में दर्द की शिकायत के साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा, जहां मौके पर मौजूद डॉक्टर मेहताब आलम ने सांस लेने की की तकलीफ पर उन्हें तुरंत ऑक्सीजन सिलेंडर लगाकर हायर सेंटर मेडिकल कॉलेज भेज दिया. जहां उपचार के दौरान ही 2 घंटे बाद संजीव कुमार रामानी की मौत हो गई.

जहरीली शराब पीने से मौत होने की चर्चा

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि शाम 7:00 बजे जैसे ही संजीव रामानी का शव घर पहुंचा दूसरी तरफ वहीं पड़ोस के ही विकास कुमार और भानु कुमार की स्थिति बिगड़ने लगी, जिन्हें शाम 7:00 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुरलीगंज लाया गया और उसे तुरंत पूर्णिया के लिए परिजनों द्वारा बेहतर चिकित्सा के लिए ले जाया गया, जहां उनके स्वास्थ्य में सुधार होने की बात बताई जा रही है. गौरतलब हो कि मुरलीगंज प्रखंड अंतर्गत होली के दौरान कुछ नव युवकों द्वारा शराब का धड़ल्ले से सेवन करने की बात आम जनों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है. वहीं कुछ लोग यही कह रहे हैं कि इन सभी संदिग्ध मौत की वजह जहरीली शराब हैं. वहीं छह लोगों का इलाज गंभीर अवस्था में सहरसा में हो रहा हैं, तो 7 लोगों का इलाज पूर्णिया के विभिन्न निजी क्लीनिक में होने की बात सामने आ रही हैं, जिनमें अभी दो की स्थिति गंभीर बनी हुई है.

शराब पीने से मौत की आधिकारिक पुष्टि नहीं

इस मामले में आरक्षी अधीक्षक राजेश कुमार मधेपुरा ने बताया कि कुछ मीडिया एवं सोशल मीडिया पर शराब पीने से मौत की बातें सामने आ रही है, लेकिन किसी भी मृतक के परिजनों द्वारा शराब से मौत होने के संबंध में आवेदन अब तक नहीं आई है. वही घटना के मामले में पुलिस छानबीन कर रही है. इधर, पुलिस द्वारा बड़ी कार्रवाई करते हुए मुरलीगंज प्रखंड एवं नगर पंचायत क्षेत्र के कई शराब कारोबारियों को हिरासत में न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें