1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. kaimur
  5. two day mundeshwari festival started in kaimur inaugurated by district in charge cum phed minister

कैमूर में दो दिवसीय मुंडेश्वरी महोत्सव का हुआ आगाज, जिला प्रभारी सह पीएचइडी मंत्री ने किया उद्घाटन

शुक्रवार को मुंडेश्वरी धाम में मुंडेश्वरी महोत्सव का शुभारंभ हो गया. जिले के प्रभारी मंत्री सह पीएचइडी मंत्री रामप्रीत पासवान द्वारा दीप जला कर दो दिवसीय मुंडेश्वरी महोत्सव का उद्घाटन किया गया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
महोत्सव के उद्घाटन के दौरान मंच पर मौजूद अतिथि
महोत्सव के उद्घाटन के दौरान मंच पर मौजूद अतिथि
प्रभात खबर

शुक्रवार को मुंडेश्वरी धाम में मुंडेश्वरी महोत्सव का शुभारंभ हो गया. जिले के प्रभारी मंत्री सह पीएचइडी मंत्री रामप्रीत पासवान द्वारा दीप जला कर दो दिवसीय मुंडेश्वरी महोत्सव का उद्घाटन किया गया. उद्घाटन भाषण में जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि माता मुंडेश्वरी का मंदिर देश ही नहीं विदेशों में भी विख्यात है.

लाखों की संख्या में श्रद्धालु यहां दर्शन के लिए आते हैं

लाखों लाख की संख्या में देश-विदेश के श्रद्धालु यहां दर्शन के लिए आते हैं. यह काफी पुराना मंदिर है. मंदिर परिसर में जब मैं माता का दर्शन करने आया, तो वहां पाया कि खंडित पत्थर मंदिर के चारों तरफ बिखरे हैं. इसको देखने से ऐसा लगा कि पहले यहां पर और भी मंदिर मौजूद थे.

खंडित पत्थर को एकत्रित कर मंदिर का निर्माण

मूर्ति व मंदिर के खंडित पत्थर को देख कर मेरे मन में जिज्ञासा आयी कि हम सभी मिल कर एक प्रयास करें कि मंदिर के खंडित पत्थर को एकत्रित कर यहां मंदिर का निर्माण कराया जाये. बिखरे अवशेष को जब एकत्रित कर मंदिर का निर्माण हो जायेगा, तो मुंडेश्वरी धाम और खूबसूरत दिखने लगेगा.

प्रस्ताव बना कर पुरातत्व विभाग को भेजें

इसके लिए उन्होंने डीएम नवदीप शुक्ला से कहा कि वे अपने स्तर से इसका प्रस्ताव बना कर पुरातत्व विभाग व संबंधित विभाग सहित राज्य सरकार को भेजें. इस पर हम अपने स्तर से सरकार में पहल करेंगे. डीएम यहां से पहल करें और हम सभी मिल कर मंदिर व मूर्तियों के खंडित रूप को एकत्रित कर मंदिर का निर्माण करवाना सुनिश्चित करें.

आगाज राग भैरवी से हुआ

मुंडेश्वरी महोत्सव का आगाज राग भैरवी से हुआ. पटना से आये राग भैरवी के कलाकारों द्वारा अपनी प्रस्तुति से दर्शकों का मन मोह लिया. राग भैरवी की टीम ने नृत्य व गीत के माध्यम से 12 महीने में पड़नेवाले बिहार के सभी त्योहारों का वर्णन किया.

राग भैरवी पर प्रस्तुति देते कलाकार
राग भैरवी पर प्रस्तुति देते कलाकार
प्रभात खबर

पटना के कलाकारों ने दर्शकों को गीतों पर झूमने के लिए मजबूर किया 

अपने गीत व नृत्य के दौरान छठगीत 'केलवा के पात पर उगलन सूरूजमल..., आ गइले चैत के महीनवा हो रामा, पियवा नाही अइले...' जैसे छठ गीत, होली गीत की प्रस्तुति देकर कार्यक्रम में समां बांध दिया. करीब 20 मिनट के अपने कार्यक्रम में पटना से आये कलाकारों ने दर्शकों को अपने गीतों पर झूमने के लिए मजबूर कर दिया.

प्रस्तुति देते कलाकार
प्रस्तुति देते कलाकार
प्रभात खबर

स्थानीय कलाकारों ने भी जमाया रंग 

स्थानीय कलाकार के रूप में अजय सिंह ने ' मइया मोरी झूलेली हो झुलनवा, हो की भोरवे ही भोरवे ना...' के बाद 'बम बम बोल रहा है काशी' गीत पर लोगों को झूमने के लिए मजबूर कर दिया. अजय सिंह के बाद रामगढ़ की स्थानीय कलाकार तनु यादव ने ' मंगल भवन हो मंगलहारी... राम सियाराम सियाराम जय जय राम...' से अपनी प्रस्तुति का आगाज किया.

रवींद्र जॉनी ने लोगों को हंसा-हंसा कर लोटपोट कर दिया

उसके बाद लगातार कई गीत गाकर लोगों का मनमोह लिया. हास्य कलाकार के तौर पर आये रवींद्र जॉनी ने कार्यक्रम के दौरान लोगों को हंसा-हंसा कर लोटपोट कर दिया. रवींद्र जॉनी के बाद पूर्णिमा श्रेष्ठा ने एक से एक हिंदी गीतों की प्रस्तुति दे कार्यक्रम में चार चांद लगा दिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें