1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. kaimur
  5. he used to steal the expenses of three girlfriends more than 100 thefts in bihar and up five arrested including gangster

चोरी कर चलाता था तीन प्रेमिकाओं का खर्चा, बिहार-यूपी में 100 से ज्यादा की चोरी, सरगना समेत पांच गिरफ्तार

जिले में पिछले छह माह में बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर गठित टीम ने चोर गिरोह के सरगना समेत पांच शातिर सदस्यों को गिरफ्तार किया है. शातिर चोरों की गिरफ्तारी के बाद खुलासा हुआ कि चोरी की शुरुआत सरगना ने अपने गांव से की थी. साथ ही उसने बताया कि चोरी का मुख्य उद्देश्य प्रेमिकाओं का खर्चा चलाना था. उसकी तीन प्रेमिकाएं हैं. तीनों को वह रुपये और गहने समेत सब कुछ देता था. साथ ही सरगना ने खुलासा किया है कि अब तक वह कैमूर जिले समेत बिहार और यूपी के सीमावर्ती जिलों में 100 से ज्यादा चोरी की घटना को अंजाम दे चुका है. चोरी करने से पहले वह रेकी करता था और रात में साथियों के साथ घर में घुस कर चोरी की घटना को अंजाम देता था. बाद में चोरी के गहने दुकानों पर बेच देता था. वहीं, चोरी में जो भी मोबाइल फोना आता था. उसे वह मिट्टी में गाड़ देता था.

By Kaushal Kishor
Updated Date

कैमूर : जिले में पिछले छह माह में बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर गठित टीम ने चोर गिरोह के सरगना समेत पांच शातिर सदस्यों को गिरफ्तार किया है. शातिर चोरों की गिरफ्तारी के बाद खुलासा हुआ कि चोरी की शुरुआत सरगना ने अपने गांव से की थी. साथ ही उसने बताया कि चोरी का मुख्य उद्देश्य प्रेमिकाओं का खर्चा चलाना था. उसकी तीन प्रेमिकाएं हैं. तीनों को वह रुपये और गहने समेत सब कुछ देता था. साथ ही सरगना ने खुलासा किया है कि अब तक वह कैमूर जिले समेत बिहार और यूपी के सीमावर्ती जिलों में 100 से ज्यादा चोरी की घटना को अंजाम दे चुका है. चोरी करने से पहले वह रेकी करता था और रात में साथियों के साथ घर में घुस कर चोरी की घटना को अंजाम देता था. बाद में चोरी के गहने दुकानों पर बेच देता था. वहीं, चोरी में जो भी मोबाइल फोना आता था. उसे वह मिट्टी में गाड़ देता था.

जानकारी के मुताबिक, कैमूर पुलिस ने बिहार और यूपी के सीमावर्ती जिलों में 100 से ज्यादा चोरी करनेवाले गिरोह के सरगना सहित पांच शातिर सदस्यों को गिरफ्तार किया है. साथ ही देसी राइफल, कारतूस और 185 मोबाइल फोन समेत चोरी की पांच बाइकें भी जब्त की हैं. वहीं, दो आरोपित फरार बताये जा रहे हैं. कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद के मुताबिक पिछले छह माह से जिले में चोरी-डकैती की घटनाओं को लेकर एक टीम गठित की गयी थी. टीम ने अनुसंधान में पाया कि चोर गिरोह का मुख्य सरगना लाला बिंद उर्फ जीतन बिंद है. उसके घर पर छापेमारी की गयी, लेकिन वह फरार पाया गया. गुरुवार को पुलिस ने मोबाइल खरीदने के बहाने आम आदमी बन कर उसे बुलाया और उसे नाटकीय ढंग से गिरफ्तार कर लिया.

पूछताछ में गिरोह के सरगना लाला बींद उर्फ जितन ने बताया है कि वह चोरी की शुरुआत अपने गांव से की थी. चोरी करने का मुख्य कारण उसकी तीन प्रेमिकाएं हैं. तीनों प्रेमिकाओं का खर्च चलाने के लिए वह चोरी करता था. तीनों प्रेमिकाओं को वह रुपये, गहने समेत सब कुछ देता था. अब तक वह बिहार और यूपी के चंदौली, सैयदराजा जैसे सीमावर्ती जिलों में 100 से ज्यादा घरों में चोरी की घटना को अंजाम दे चुका है. चोरी करने से पहले वह दिन में रेकी करता था. फिर रात में अपने पांच साथियों के साथ घर में घुस कर चोरी की घटना को अंजाम देता था.

एसपी ने बताया कि सरगना लाला बिंद अपने साथी अमित कुमार सिंह और तबरेज अंसारी के अलावा पांच लोगों के साथ चोरी को अंजाम देता था. चोरी के बाद गहने दुकानों पर बेच देता था. साथ ही चोरी के मोबाइल फोन को वह मिट्टी में गाड़ देता था. आरोपित की निशानदेही पर पुलिस ने 185 मोबाइल फोन बरामद किये हैं. साथ ही चोरी की पांच मोटरसाइकिलें भी बरामद की है. सभी मोटरसाइकों के नंबर और चेचिस नंबर अलग-अलग हैं. दर्जनों कांड में फरार लाला बिंद कई बार जेल जा चुका है. एसपी ने बताया कि चोरी की 185 पीस मोबाइल समेत देसी राइफल, कारतूस, पांच बाइक जब्त किये गये हैं. वहीं, दो अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें