1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. jamui
  5. woman accused of hiding dead body after killing husband husband refuses to do liquor business in bihar asj

पति की हत्या कर शव छिपाने की आरोपी महिला गिरफ्तार, शराब का धंधा करने से मना करता था पति

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

सिकंदरा : पति के हत्या की आरोपी एक महिला को सिकंदरा पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया. महिला पर घरेलू विवाद में पति की हत्या कर शव को दो दिनों तक घर के आलमीरा में छिपाए रखने का आरोप है. उल्लेखनीय है कि प्रखंड मुख्यालय के शेखपुरा रोड निवासी रमेश चौधरी की पत्नी ममता देवी ने घरेलू विवाद में अपने पति की हत्या कर शव को दो दिनों तक घर के आलमीरा में छुपाए रखा था. शव को ठिकाने लगाने का प्रयास करने के दौरान 20 जून की रात मृतक के भाई उमेश चौधरी की सूचना पर पुलिस ने रमेश चौधरी के शव को उसके घर के आलमीरा से बरामद किया था.

20 जून की रात मृतक की पत्नी ममता देवी द्वारा कुछ बाहरी लोगों के सहयोग से शव को बोरा में बांध कर ठिकाने लगाने का प्रयास किया जा रहा था. लेकिन मृतक के भाई द्वारा शोर मचाने के बाद शव को ठिकाने लगाने आये लोग शव को आलमीरा में छोड़ भाग खड़े हुए. जिसके बाद पुलिस ने शव को घर के आलमीरा से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिये जमुई भेज दिया था. लेकिन आश्चर्यजनक रूप से घर के आलमीरा से शव बरामद होने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की थी. जिसके बाद से मृतक के परिजनों द्वारा पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप लगाया जा रहा था. इस मामले में मृतक के पिता भुनेश्वर चौधरी द्वारा दिये गए आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज न होकर पुलिस द्वारा यूडी केस दायर किये जाने की वजह से भी मामले के लीपापोती की संभावना जतायी जाने लगी थी. जिसके बाद प्रभात खबर द्वारा इस मुद्दे को लगातार उठाया जा रहा था.

प्रभात खबर द्वारा प्रकाशित खबर पर डीआइजी मनु महाराज ने भी संज्ञान लेते हुए आवश्यक कार्रवाई किये जाने की बात कही थी. इतना ही नहीं इस मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट को भी दबाने का प्रयास किया जा रहा था. जिसके कारण दो माह बीत जाने के बाद भी सदर अस्पताल से सिकंदरा पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिल पाया था. आखिरकार घटना के 70 दिन बाद पुलिस ने रमेश चौधरी की हत्या के आरोप में उसकी पत्नी ममता देवी को गिरफ्तार कर लिया. इस संबंध में जानकारी देते हुए थानाध्यक्ष ध्रुव कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर अनुसंधान में रमेश चौधरी की हत्या में उसकी पत्नी ममता देवी के संलिप्तता की बात सामने आयी है. जिसके बाद ममता देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

विदित हो कि रमेश चौधरी ने अपने ही पड़ोसी ममता देवी के साथ अंतर्जातीय प्रेम विवाह किया था. शराब बंदी के बाद से ममता देवी शराब का अवैध कारोबार करने लगी थी. जिसके बाद से ही दोनों के रिश्तों में तनाव उत्पन्न होने लगा था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई को मजबूर हुई पुलिस रमेश चौधरी का शव बरामद होने के बाद से ही इस मामले में पुलिस की भूमिका संदिग्ध नजर आ रही थी. घर के आलमीरा से बदबूदार शव बरामद होने के बाद भी पुलिस द्वारा शव को पोस्टमार्टम के बाद हत्या के आरोपी पत्नी को सौंप दिया जाना व हत्या के मामले में मृतक के पिता द्वारा थाने में दिए आवेदन को दरकिनार कर पुलिस द्वारा यूडी केस दर्ज किए जाने के बाद से ही पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठने शुरू हो गए थे. लेकिन 70 दिनों के लंबे इंतजार के बाद आये पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आगे पुलिस कार्रवाई के लिये बेबस हो गयी.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट रूप से हत्या की वजह हेड इंज्युरी बतायी गयी है. वहीं पोस्टमार्टम में सर के हड्डी के टूटने का भी जिक्र किया गया. पीएम रिपोर्ट के मुताबिक रमेश चौधरी की हत्या शव बरामद होने के तीन चार दिन पूर्व ही हो चुकी थी. जिसके कारण मृतक का शरीर फूल चुका था और उससे बदबू भी आ रही थी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई के अलावा पुलिस के समक्ष कोई विकल्प नहीं बचा था और आखिरकार पुलिस ने रमेश चौधरी की हत्या के आरोप में उसकी पत्नी ममता देवी को गिरफ्तार कर लिया.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें