1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. jamui
  5. son committed suicide in jamui bihar as mother kept jitiya vrat 2021 latest news bihar skt

Bihar News: मां ने इकलौते पुत्र के दीर्घायु होने के लिये रखा जितिया व्रत, बेटे ने पंखे से लटक कर दे दी जान

जमुई के झाझा में जितिया पर्व कर रहीं एक मां को यह विश्वास भी नहीं होगा कि जिस बेटे की लंबी उम्र के लिए वो व्रत रख रही है वो बेटा उसी दिन उसे छोड़कर इस दुनिया से चला जाएगाा. सुलोचना देवी के साथ कुछ ऐसा ही हुआ...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जमुई में युवक ने पंखे से लटक कर दे दी जान
जमुई में युवक ने पंखे से लटक कर दे दी जान
prabhat khabar

जमुई: झाझा थाना क्षेत्र के पिपराडीह मोहल्ला निवासी नागौ चौधरी की पत्नी सुलोचना देवी ने अपने 25 वर्षीय पुत्र पप्पू चौधरी के दीर्घायु होने के लिए जितिया व्रत रखा था. लेकिन बेटे ने पंखे से लटक कर जान दे दी. जिसके बाद घर में मातम का माहौल बना हुआ है.

पुलिस ने शव को कब्जे में लिया

घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष राजेश शरण, पुलिस पदाधिकारी दिलीप चौधरी के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए जमुई भेज दिया. घटना की सूचना मिलते ही सैकड़ों की संख्या में लोग मृतक के घर पर जमा हो गये.

विवाद के बाद नहीं आई पत्नी

मृतक पप्पू चौधरी की माता सुलोचना देवी एवं पिता नागो चौधरी ने बताया कि कुछ दिनों से मेरा बेटा मानसिक रुप से परेशान चल रहा था. मैंने अपने पुत्र की शादी जमुई थाना क्षेत्र के हरला गांव में चार वर्ष पूर्व की थी. शादी के बाद सबकुछ ठीक ठाक चल रहा था. उसके दो संतान भी हैं. जिसमें एक की उम्र दो वर्ष और दूसरे पुत्र की उम्र करीब एक वर्ष है. बीते एक वर्ष से दोनों पति-पत्नी के बीच में झाझा में रहने को लेकर विवाद भी हो रहा था. विवाद के कारण उसकी पत्नी लालमुन्नी देवी अपने दोनों बच्चे को लेकर कुछ दिन पहले अपने मायके हरला चली गई थी. काफी समझाने-बुझाने के बाद भी लालमुनी वह यहां नहीं आई.

पत्नी मायके से आने को नहीं हुइ तैयार, ससुराल वालों ने की पिटाई

बताया गया कि बीते दस दिन पहले पप्पू अपने मां के साथ हरला जाकर अपनी पत्नी को समझा-बुझाकर झाझा आने को कहा. लेकिन वह किसी के बात को नहीं सुनी. इसके बाद पप्पू अपने बड़े बच्चे को लेकर आने लगा तो उसका साला उमेश चौधरी सहित सभी परिजन मिलकर उसके साथ मारपीट कर भगा दिया. उसके बाद से ही पप्पू काफी परेशान रहने लगा था.

मां ने पुत्र पप्पू के दीर्घायु जीवन के लिए रखा था जिउतिया पर्व

मृतक पप्पू चौधरी की मां ने पुत्र पप्पू के दीर्घायु जीवन के लिए जिउतिया पर्व किया था. सुबह जब वह अपनी छोटी पुत्री को भाई के कमरे में जाकर पूछने को बोला कि भाई से जाकर पूछो उसके लिए क्या खाना बना दें और जब पुत्री उसके कमरे में गई तो वो पंखे से फंदे में लटका हुआ मिला. बेटी ने आकर घटना की जानकारी दी तो उसके घर में कोहराम मच गया. पुत्र के शव से लिपटकर विलाप करते हुए मां का रो-रो कर बुरा हाल था.मां बार-बार रो-रो कर बेहोश हो जा रही थी. मृतक की मां सुलोचना देवी की क्रंदन सुनकर परिजन के अलावा उपस्थित ग्रामीण की आंखें भी नम हो गई.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें