1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. jamui
  5. bihar crime news chaos and outrage in jamui fater murder of teacher angry villagers attack on police lathi charge and firing bihar law and order upl

Bihar Crime News: जमुई में शिक्षक की हत्या पर बवाल, शव देख भड़के लोग, 2 जवानों का सिर फोड़ा, लाठीचार्ज-फायरिंग

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पहले सड़क जाम कर रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव करते हुए लाठी-डंडा से भी हमला कर दिया.
पहले सड़क जाम कर रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव करते हुए लाठी-डंडा से भी हमला कर दिया.
Prabhat khabar

Bihar News: बिहार के जमुई जिले के भट्टा गांव निवासी एक शिक्षक की हत्या दिनदहाड़े बेखौफ अपराधियों ने गला रेत कर दी. वो उत्क्रमित मध्य विद्यालय बिशनपुर में प्रखंड शिक्षक के रूप में पदस्थापित थे. सूचना के बाद पुलिस देर से पहुंची तो बवाल हो गया. आक्रोशित भीड़ ने पुलिस बल ही हमला बोल दिया. जानकारी के अनुसार शिक्षक मकेश्वर यादव यादव सोमवार सुबह बाइक से बैंक कार्य के लिए सिकंदरा जा रहे थे. इसी दौरान रास्ते में घात लगाये अपराधियों ने उन्हें जबरन रोका.

मारपीट करते हुए बंधक बना लिया और हथियार से गला रेत कर फरार हो गया. इसकी सूचना मिलते ही मृतक के परिजनों सहित आसपास के लोगों में कोहराम मच गया. आक्रोशित ग्रामीणों ने शव के साथ सिकंदरा-लखीसराय मुख्य मार्ग को लोहंडा गांव के समीप जाम कर दिया. इसकी सूचना पाकर करीब एक घंटा के बाद पहुंची पुलिस जबरन शव को कब्जे में लेने का प्रयास किया. जिसके बाद ग्रामीण उग्र हो गए और लोगों ने पुलिस बल पर हमला कर दिया और देखते-ही-देखते जाम स्थल रणक्षेत्र में तब्दील हो गया.

प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए 10-12 राउंड हवाई फायरिंग

पहले सड़क जाम कर रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव करते हुए लाठी-डंडा से भी हमला कर दिया. जिसमें बीएमपी के दो जवान घायल हो गए. पथराव में पुलिस वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया. इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए 10-12 राउंड हवाई फायरिंग करते हुए लाठी चार्ज कर दिया. जिसमें कई ग्रामीण सहित मृतक के परिजनों को चोट लगी और घायल हो गए. पुलिस द्वारा किये गए लाठीचार्ज और फायरिंग के बाद वहां भगदड़ मच गयी.

मृतक की पत्नी, बेटा और भाई से मारपीट

तभी पुन: पुलिस ने शव को जबरन कब्जे में लेने का प्रयास किया तभी शव के समीप विलाप कर रहे मृतक की पत्नी, बेटा और भाई ने आपत्ति जताया. इसके बाद पुलिस ने उनके साथ भी मारपीट कर दिया. जिसे देख पुन: मामला सुलझने की जगह और ज्यादा उलझ गया और ग्रामीणों ने शव को लोहंडा नहर के समीप से लाकर सिकन्दरा मुख्य चौक पर रख कर यातायात बाधित कर दिया.

सड़क जाम कर रहे लोग एसपी को बुलाने, हत्या में शामिल अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी सहित थानाध्यक्ष ध्रुव कुमार के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे. इसकी सूचना पर पहुंचे एसडीपीओ राकेश कुमार ने परिजनों से मिलकर अपराधियों की जल्द-से-जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिया और थानाध्यक्ष ध्रुव कुमार को निलंबित करने की भी घोषणा किया. उसके बावजूद भी परिजन एसपी को बुलाने सहित अन्य जिद पर अड़े थे.

Posted by: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें