1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. gopalgunj
  5. dairy businessman kidnapped and killed by breaking arm and leg villagers clash with police arrived 10 hours after murder stone arson ksl

डेयरी कारोबारी को अगवा कर हाथ-पैर तोड़ कर मार डाला, हत्या के 10 घंटे बाद पहुंची पुलिस से ग्रामीणों की झड़प, पथराव, आगजनी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
आगजनी कर हंगामा करते लोग
आगजनी कर हंगामा करते लोग
प्रभात खबर

मांझा : गोपालगंज जिले के मांझा थाने के साहपुर बाजार में पुरानी रंजिश में शनिवार को डेयरी कारोबारी को अगवा करने के बाद हाथ-पैर तोड़ कर हत्या कर दी गयी. मृतक कारोबारी की पहचान साहपुर निवासी 52 वर्षीय मुन्ना यादव के रूप में की गयी.

परिजन लहलादपुर गांव के बीडीसी सदस्य राजेंद्र यादव पर हत्या करने और मांझा पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगा रहे हैं. हत्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने गोपालगंज-बड़हरिया सड़क को जाम कर आगजनी शुरू कर दिया.

हंगामा करते लोग
हंगामा करते लोग
प्रभात खबर

करीब 10 घंटे बाद जांच के लिए घटनास्थल पर पहुंची पुलिस से ग्रामीणों के बीच झड़प हो गयी. पुलिस को अपने बचाव के लिए हल्का बल प्रयोग करना पड़ा, जिससे नाराज होकर ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया.

देर शाम तक पुलिस और ग्रामीणों के बीच नोंकझोक होती रही. वहीं, स्थिति को तनावपूर्ण देख साहपुर में मांझा के अलावा बरौली थाने की पुलिस कैंप करने के लिए बुलाया गया है.

हालात पर काबू पाने के लिए एक्शन में पुलिस
हालात पर काबू पाने के लिए एक्शन में पुलिस
प्रभात खबर

परिजनों का आरोप है कि बीडीसी सदस्य पर पहले से लड़की के साथ छेड़खानी किये जाने का मामला दर्ज है. मामले में पुलिस कार्रवाई करने के बदले पंचायती करा रही थी.

इसी बीच शनिवार को मुन्ना यादव बड़हरिया से वापस घर आ रहे थे. तभी, बड़हरिया थाना क्षेत्र के खानपुर गांव समीप से बीडीसी सदस्य राजेंद्र यादव ने अपराधियों के सहयोग से मुन्ना यादव को अगवा कर लिया.

रास्ते में हाथ-पैर तोड़ने के बाद लहलादपुर गांव समीप नहर में फेंक दिया था. नहर से निकालकर परिजनों घायल को सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से डॉक्टरों ने गोरखपुर रेफर कर दिया. गोरखपुर जाने के दौरान डेयरी कारोबारी की मौत हो गयी.

इधर, मौत की खबर मिलते ही मांझा थाने की पुलिस पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाकर परिजनों ने सड़क को जाम कर दिया. करीब पांच घंटे तक आंदोलन करने के बाद पुलिस पहुंची, तो लाठी भांजने लगी. इसके बाद ग्रामीणों से झड़प हो गयी.

एसपी मनोज कुमार तिवारी ने कहा कि मामले में प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जायेगी. दोषी को किसी भी हाल पर बख्शा नहीं जायेगा. एसपी ने मामले में एसडीपीओ को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें