1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. gaya
  5. woman raped in isolation ward of magadh medical hospital case registered

मगध मेडिकल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में महिला से दुष्कर्म, मामला दर्ज

By Radheshyam Kushwaha
Updated Date
Prabhat Khabar Digital Desk

गया. बिहार के गया जिले में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 22 वर्षीय एक महिला से डॉक्टर द्वारा दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है. हालांकि महिला की सोमवार की सुबह उसके घर पर मौत हो गयी. महिला जब अस्पताल से घर लौटी तो वह डिप्रेशन में थी. मृतका ने इस घटना की आपबीती अपनी सास से बता दी थी. मृतका की सास ने बताया कि उनकी बहू को ब्लीडिंग की शिकायत पर मगध मेडिकल कॉलेज स्थित इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया. उसके बाद बहू का इलाज जनरल वार्ड में किया जा रहा था. एक अप्रैल को उसे आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया. आइसोलेशन वार्ड में बहू अकेली रहती थी. जहां पर इस तरह की घटना को अंजाम दिया गया है. जब इसकी शिकायत अस्पताल में की तो डॉक्टरों ने आनन-फानन में छुट्टी दे दी.

घटना की हो उच्चस्तरीय जांच, दोषियों पर हो कार्रवाई : पूर्व सीएम

हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (सेक्युलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने घटना पर रोष प्रकट किया है. पूर्व मुख्यमंत्री ने डीएम से बात कर इस घटना की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि डॉक्टर धरती के भगवान होते हैं. मगध ही नहीं देश के लिए यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि मगध मेडि कल में कई लोग 10-15 वर्षों से अड्डे जमाये हुए हैं. यही कारण है कि वहां के लोग जनसेवा की भावना पर कम और दुर्भावना पर ज्यादा ध्यान देते हैं. हम के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेश पांडेय ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री ने इस घटना में दोषी लोगों पर कानूनी कार्रवाई की भी बात कही है.

गार्ड से की शिकायत, तो इज्जत का हवाला देकर घर जाने की बात कही

सास ने बताया कि दो दिन बाद जब बहू से मिलने गयी तो रोती हुई पूरी घटना बताई. बहू ने कहा कि मां मुझे यहा से निकाल दीजिये नहीं तो मै मर जाऊंगी. मेरे साथ यहा पर गलत काम किया जा रहा है. महिला का आरोप है कि रात में चिकित्सक द्वारा उसे बेहोश कर दिया जाता था. जब इसकी शिकायत गार्ड से किया तो वह इज्जत का हवाला देकर घर जाने की बात कही. इसके बाद तीन अप्रैल को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी. मृतक की सास का कहना है कि चिकित्सक द्वारा किया गया गलत काम की वजह से बहू डिप्रेशन में चली गई, जिस कारण उसकी मौत हो गयी. बहू डॉक्टर द्वारा की गई हरकत दोहराते हुए केवल रोती रहती थी.

रोशनगंज थाना क्षेत्र के एक महिला के साथ मगध मेडिकल अस्पताल में एक चिकित्सक द्वारा इलाज के दौरान किये गये दुष्कर्म का प्रयास व अश्लीलता के आरोप के बाद अस्पताल प्रशासन के साथ पुलिस भी हरकत में आयी है. मगध मेडिकल अस्पताल प्रशासन अपने पुराने ढर्रे के अनुसार कमेटी से जांच कराने में जुट गया है. मृतका की सास द्वारा आरोप लगाये जाने के बाद खबर अखबार में प्रकाशित हुई, इसके बाद बुधवार को स्थानीय पुलिस द्वारा मृतका की सास को थाने में बुला कर फर्द बयान लिया गया. इस संबंध में थानाध्यक्ष प्रभात कुमार शरण ने बताया कि मृतका की सास द्वारा दिये गये बयान के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गयी है. इधर, मृतका की सास ने बताया कि बुधवार को थाना परिसर में ही जिला मुख्यालय से एक अधिवक्ता ने आकर उससे सारी घटना के बारे में पूछताछ की. आरोप के संबंध में की जा रही है. मगध मेडिकल के अधीक्षक डॉ विजय कृष्ण प्रसाद ने बताया कि इसकी जांच अस्पताल प्रशासन की ओर से कमेटी बना कर की जा रही है. जांच रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जायेगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें