1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. gaya
  5. a large crowd is being seen in various banks and customer service centers these days to withdraw funds in the account of jan dhan in amas block area on wednesday the crowd was feeling that during this time no care was being taken of social distress in some places

सोशल डिस्टैंस का कहीं हुआ पालन, तो कहीं उल्लंघन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 सोशल डिस्टैंस का कहीं हुआ पालन, तो कहीं उल्लंघन
सोशल डिस्टैंस का कहीं हुआ पालन, तो कहीं उल्लंघन

आमस प्रखंड क्षेत्र में जन-धन के खाते में आयी राशि निकालने के लिए विभिन्न बैंकों और ग्राहक सेवा केंद्रों में इन दिनों काफी भीड़ देखी जा रही है. बुधवार को भीड़ का आलम यह था कि इस दौरान कुछ जगहों पर सोशल डिस्टैंस का कोई ख्याल नहीं रखा जा रहा था. ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक और बैंक के अधिकारियों के बार बार समझाने के बावजूद सोशल डिस्टैंस की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. हालांकि, पंजाब नेशनल बैंक आमस में सभी ग्राहक सोशल डिस्टैंस का पालन कर रहे थे. लेकिन, चंडीस्थान स्थित यूको बैंक और अन्य ग्राहक सेवा केंद्रों में झुंड के रूप में खाताधारी मौजूद थे. इनमें महिलाओं की संख्या अधिक थी. यूको बैंक के गार्ड और ग्राहक सेवा केंद्र के संचालक लोगों को सोशल दूरी बना कर रहने की बार बार अपील कर रहे थे. लेकिन, भीड़ मानने को तैयार नहीं थी.

बताया जाता है कि बैंक खुलने के पहले ही आमस, हमजापुर, चंडीस्थान, नौगढ़ और अकौना आदि स्थानों पर स्थित बैंकों या फिर ग्राहक सेवा केंद्रों में लोग पहुंच रहे हैं. ग्राहक सेवा केंद्र संचालकों ने बताया कि महिला जनधन खाते में पांच सौ रुपया आया है. इसके अलावा महिला पुरुष का पेंशन भी आ चुका है. कुछ ने बताया कि गैस की राशि भी आयी है. कुछ के खाते में आने का इंतजार है. बहरहाल बैंक के बाहर अफरातफरी का दृश्य है. इससे बैंक वालों को काफी कठिनाई हो रही है.लॉकडाउन से गरीबों को हो रही कठिनाईखाते में आयी पांच सौ की राशि गरीबों को राहत पहुंचा रही है. जन धन के खाते से पैसा निकालने आयी सुमन देवी, राबिया खातून, उर्मिला देवी, प्यारी देवी, पुतुल देवी, फुलवा देवी, रामकिशुन पासवान, फोना यादव, रीता देवी, संजू यादव और अशोक कुमार आदि ने बताया कि कोरोना वायरस को लेकर किये गये लॉकडाउन से काफी परेशानी बढ़ गयी है. सब काम धंधा बंद हो जाने से घर चलाना मुश्किल हो गया है. कोई काम भी नहीं मिल पा रहा है. मोरहर, करमडीह, पिंडरा, बभनडीह, कसियाडीह, मोरनिया, मूंगराइन व चकजलपा आदि गांव से आये खाताधारियों ने बताया कि पैसा निकाल कर राशन का सामान खरीदेंगे.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें