मगध प्रमंडल में 23 प्रतिशत बढ़ा अपराध

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गया: पिछले वर्ष (2013) के पांच महीनों की तुलना में इस साल (2014) के पांच महीनों में मगध प्रमंडल में अपराध के ग्राफ में 23.77 प्रतिशत की वृद्धि हुई है. बिहार पुलिस की वेबसाइट पर जारी आंकड़ों के अनुसार, 2013 के मई महीने तक मगध प्रमंडल में कुल 1405 आपराधिक घटनाएं हुई थीं, जो 2014 के पहले पांच महीनों में बढ़ कर 1739 हो गयीं. डकैती, रॉबरी, रोड रॉबरी की घटनाओं में 50 प्रतिशत का इजाफा हुआ है, जबकि रोड डकैती के मामले करीब 100 प्रतिशत बढ़ गये हैं.

11-21 पहुंची रोड डकैती
मगध प्रमंडल की सड़कों पर चलना खतरे से खाली नहीं है. पुलिस विभाग के आंकड़ों के अनुसार सबसे ज्यादा रोड डकैती के मामले ही बढ़े हैं. 2013 के पहले पांच महीने में 11 रोड डकैती की घटनाएं हुईं, जबकि 2014 में यह आंकड़ा 21 पहुंच गया. इससे पता चलता है कि सड़क पर हो रहे अपराध को रोकने में मगध प्रमंडल के पांचों जिलों की पुलिस असफल है. यह क्षेत्र के लोगों को लिए चिंता का विषय हो सकता है. कुछ अन्य अपराध भी हैं, जो पचास प्रतिशत तक बढ़े हैं. डकैती 34 से 53, रॉबरी 43 से 69, रोड रॉबरी 37 से 57 और सेंधमारी 129 से बढ़ कर 180 हो गयी है.

फिरौती के लिए चार अपहरण
इस साल मई माह तक फिरौती के लिए चार अपहरण के मामले दर्ज हुए हैं, जबकि पिछले साल यह संख्या शून्य थी. हालांकि, सामान्य अपहरण की घटनाएं थोड़ी कम हुई हैं. रेप का मामले में मामूली बढ़ोतरी हुई है. पिछले साल रेप के कुल 42 मामले सामने आये, जो इस साल 44 पर पहुंच गये. पिछले साल बैंक डकैती शून्य थी. इस बार अब तक एक मामला सामने आया है. साथ ही, चोरी की घटनाएं भी बढ़ी हैं.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें