1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. darbhanga
  5. the coroner guideline could not tell those who gave training to the poll workers open question from dm question asj

मतदानकर्मी को प्रशिक्षण देनेवाले नहीं बता पाये कोरोना की गाइडलाइन, डीएम के सवाल से खुली पोल

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मतदानकर्मी
मतदानकर्मी

दरभंगा : विधान सभा चुनाव के लिए पीठासीन पदाधिकारियों एवं प्रथम व द्वितीय मतदान पदाधिकारियों को गुरुवार से प्रशिक्षण प्रारंभ हो गया. जिला स्कूल में 600 प्रथम मतदान पदाधिकारी को तथा एमएल एकेडमी में 600 पीठासीन पदाधिकारी को दोनों पालियों में प्रशिक्षण दिया गया. प्रशिक्षण का निरीक्षण करने जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम सुबह 11.30 बजे जिला स्कूल पहुंचे. उन्होंने प्रशिक्षण के दौरान की जाने वाली व्यवस्था का मुआयना किया. जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी से प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे कर्मियों के लिए चाय, पानी, सैनिटाइजर की व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली. सोशल डिस्टैंसिंग एवं अन्य व्यवस्था का भी अवलोकन किया. प्रशिक्षण कक्ष का भ्रमण करने के दौरान कमरा संख्या-11 में मास्टर प्रशिक्षक राहुल कुमार झा एवं सुनील कुमार झा से प्रशिक्षण के संबंध में जानकारी ली. पूछा कि इस बार कोविड-19 के लिए जारी गाइडलाइन के अनुसार मतदान केंद्र पर कौन-कौन सी व्यवस्था की जानी है? क्या इससे प्रशिक्षणार्थियों को अवगत कराया जा रहा है, तो दोनों निरुत्तर हो गये.

मतदान के एक दिन पूर्व केंद्र को किया जायेगा सैनिटाइज

डीआरओ डॉ एसएम ने ने प्रशिक्षार्थियों को बताया कि मतदान के एक दिन पूर्व मतदान केंद्र को सैनिटाइज किया जायेगा . मतदान के दिन प्रवेश द्वार पर एक आशा या एएनएम थर्मल स्कैनर लेकर रहेगी. प्रत्येक मतदाता की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी. जिसका तापमान सामान्य से अधिक पाया जायेगा , उसे प्रवेश द्वार पर ही रोक दिया जायेगा . 10 मिनट तक ठंडे स्थान पर बैठाया जायेगा . इसके बाद फिर थर्मल स्क्रेनिंग की जाएगी. यदि इस बार भी तापमान अधिक पाया गया, तो उसे रोक दिया जायेगा . एक टोकन देकर उसे अंतिम एक घंटे की अवधि में मतदान के लिए बुलाया जायेगा . कहा कि इस बार प्रत्येक मतदाता को गलब्स दिया जायेगा . हाथ सैनिटाइज किया जायेगा . यदि हस्ताक्षर करना नहीं आता है, तो रजिस्टर 17ए में पहचान बनाने के लिए अंगूठे में इंक लगाने के लिए इयर बर्ड दिया जायेगा . मतदान तिथि को अंतिम अवधि में कोविड 19 पॉजिटिव मतदान करने आएंगे. उस दौरान सभी मतदान कर्मी, पीठासीन पदाधिकारी पीपीइ किट्स में रहेंगे.

प्रशिक्षकों को फिर से अलग से दी गयी जानकारी

जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने हेल्प डेस्क के समीप सभी मास्टर प्रशिक्षकों को बुलाकर कोरोना काल में चुनावी व्यवस्था की पुनः जानकारी दी. प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले सभी कर्मियों को इससे अवगत कराने को कहा. कहा कि प्रत्येक कर्मी को ईवीएम/वीवी पैट एवं मतदान केंद्र के सभी कार्यों की जानकारी होनी चाहिए. यह भी हो सकता है कि पी-2 को पी-1 की जगह लगाया जाये.

किसी को चुनाव कार्य से नहीं किया जायेगा विमुक्त

डीआरओ डॉ एसएम ने इसके बाद एमएल एकेडमी, बेंता में प्रशिक्षण कार्य का अवलोकन किया. मास्टर प्रशिक्षकों को उपर्युक्त बातों से अवगत कराया. प्रशिक्षण केंद्र की उपस्थिति की जानकारी ली. कहा कि प्रशिक्षण से अनुपस्थित रहने वालों मतदान कर्मियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने की कार्रवाई की जाएगी. बताया कि चुकी इस बार के चुनाव में अधिक कर्मियों की आवश्यकता है. इसलिए किसी को चुनाव कार्य से विमुक्ति नहीं दी जाएगी. इस अवसर पर सहायक समाहर्ता प्रियंका रानी, अपर समाहर्ता विभूति रंजन चौधरी, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी अजय कुमार, उप निदेशक, जन संपर्क नागेंद्र कुमार गुप्ता, भूमि सुधार उप समाहर्ता मो. सादुल हसन आदि मौजूद थे.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें