1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. champaran east
  5. nepal was the main accused in the pmc bank scam arrested 200 meters before raxaul border asj

पीएमसी बैंक घोटाले का मुख्य आरोपित भाग रहा था नेपाल, रक्सौल बार्डर से 200 मीटर पहले गिरफ्तार

दलजीत सिंह बल अपनी पत्नी और बच्चों के साथ नेपाल प्रवेश कर रहा था, वीरगंज होते हुए काठमांडू पहुंचने की फिराक में था. वहां से उसे कनाडा जाना था.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पीएमसी बैंक धोखाधड़ी मामला.
पीएमसी बैंक धोखाधड़ी मामला.
फाइल फोटो.

रक्सौल. महाराष्ट्र के पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (पीएमसी बैंक) में 4355 करोड़ के घोटाला मामले में मुख्य आरोपित बैंक के निदेशक दलजीत सिंह बल को रक्सौल सीमा से गिरफ्तार कर लिया गया है . दलजीत सिंह बल अपनी पत्नी और बच्चों के साथ नेपाल प्रवेश कर रहा था, वीरगंज होते हुए काठमांडू पहुंचने की फिराक में था. वहां से उसे कनाडा जाना था.

दलजीत सिंह की गिरफ्तारी के बाद उसके परिवार के लोग भी रक्सौल में ही रुके हैं. इमिग्रेशन के एक अधिकारी ने बताया कि बुधवार की देर शाम करीब आठ बजे इमिग्रेशन की टीम द्वारा रैंडम चेकिंग के दौरान दलजीत सिंह बल की पहचान की गयी. इसी दौरान हुई पूछताछ में पता चला कि वह परिवार के साथ कनाडा जा रहा है. इसके बाद दलजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया.

अधिकारी ने बताया कि इस मामले में मुंबई पुलिस से बातचीत के बाद दलजीत सिंह बल को रक्सौल थाने को सौंप दिया है. एसपी डॉ आशीष कुमार ने बताया कि गुरुवार की शाम मुंबई पुलिस की टीम पहुंचेगी. इसके बाद दलजीत को कोर्ट में पेश किया जायेगा. वर्ष 2019 में सामने आये पीएमसी बैंक घोटाले की जांच महाराष्ट्र पुलिस कर रही है. दलजीत इस मामले में फरार चल रहा था. पूछताछ में दलजीत ने बताया कि महाराष्ट्र से रक्सौल बॉर्डर तक आसानी से पहुंच गया था. नेपाल में एंट्री से 200 मीटर पहले इमिग्रेशन विभाग के अधिकारियों ने उसे पकड़ लिया.

क्या है पूरा मामला

2019 में लोन की धोखाधड़ी और घोटाला सामने आया था. इसके बाद रिजर्व बैंक ने पीएमसी बैंक के बोर्ड को भंग कर दिया था और बैंक से पैसे निकालने पर रोक लगा दी थी. बैंक ने रियल एस्टेट कंपनी एचडीआइएल को 6500 करोड़ का कर्ज दिया था और इसकी सही जानकारी रिजर्व बैंक को नहीं दी थी.

जांच में थोड़ी देरी होती तो देश छोड़ कर चला जाता दलजीत

दलजीत सिंह बल नेपाल जाने का फूल प्रूफ प्लान बना चुका था. नेपाल पहुंचते ही, उसके कनाडा जाने की राह भी आसान थी. इमिग्रेशन रक्सौल की टीम की जांच में थोड़ी देरी होती तो दलजीत देश छोड़ कर चला जाता. भारत-नेपाल की खुली सीमा पर इमिग्रेशन विभाग की टीम देर शाम रैंडम जांच के दौरान नेपाल जा रही एक लग्जरी गाड़ी को रोका तो उसमें दलजीत सिंह अपने परिवार के साथ बैठा हुआ था.

पूछताछ की तो पता चला कि ये वहीं दलजीत सिंह बल है, जिनपर पीएमसी बैंक में घोटाले में शामिल होने का आरोप है. इसके बाद इमिग्रेशन की टीम ने दलजीत सिंह को पकड़ लिया. इमिग्रेशन के अधिकारी एके पंकज ने बताया कि बुधवार की रात ही हमलोगों ने दलजीत सिंह को पुलिस को सौंप दिया है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें