1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. champaran east
  5. india nepal bread daughter relationship pre arranged marriages are postponed continously debate begins to open border during wedding season dates marraige news hindi smt

भारत-नेपाल में रोटी-बेटी का संबंध, लगातार टल रहीं पहले से तय शादियां, Shubh Vivah Muhurat में बॉर्डर खोलने के लिए बहस शुरू

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Is India-Nepal Border Open, Vivah Muhurat 2020, Wedding Dates, Shubh Vivah Muhurat In November 2020
Is India-Nepal Border Open, Vivah Muhurat 2020, Wedding Dates, Shubh Vivah Muhurat In November 2020
Prabhat Khabar Graphics

Is India-Nepal Border Open, Vivah Muhurat 2020, Wedding Dates, Shubh Vivah Muhurat In November 2020: रक्सौल : भारत और नेपाल के बीच रोटी-बेटी का संबंध है. दोनो देश में परस्पर शादी विवाह का कार्यक्रम आदिकाल से होता रहा है. कोरोना महामारी में नेपाल ने अपनी सीमा को अब तक सील रखा है. भारत की तरफ से कोई भी व्यक्ति नेपाल नहीं जा सकता है. ऐसे में शादियों का समय शुरू होने के बाद इसका असर पहले से तय शादी के रिश्तों पर व्यापक तौर से पड़ रहा है. मार्च में बढ़ायी गयी शादियों की तारीख नवंबर व दिसंबर में तय की गयी थी. भारत में तो पाबंदी काफी हद कम करते हुए बॉर्डर को खोल दिया गया है.

नेपाल सरकार ने अब तक इसको लेकर कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया है. इसका खामियाजा वैसे लोगों को भुगतना पड़ रहा है, जिनकी पहले से शादी नेपाल में तय हो चुकी है. बुधवार को भारत-नेपाल सीमा पर दर्जनों की संख्या में बरात की गाड़ियां खड़ी थीं. इनको नेपाल जाने की इजाजत नहीं थी.

लिहाजा जैसे-तैसे शादी की रस्म को पूरा करने के लिए लड़के और सीमित संख्या में बरातियों को लड़की पक्ष के द्वारा पैदल ही नेपाल ले जाया जा रहा था. प्रभात खबर की टीम को लखौरा के रहने वाले मुकेश चौहान ने बताया कि मार्च में उनकी शादी नेपाल के कलैया में तय हुई थी. लॉकडाउन के कारण डेट बढ़ गया. आज शादी है.

गाड़ी को नहीं जाने दिया जा रहा है. ससुराल वालों ने नेपाली गाड़ी का प्रबंध किया है. मेरी गाड़ी बॉर्डर पर खड़ी हो गयी है. विदाई होने के बाद नेपाली गाड़ी अपने सीमा तक छोड़ देगी. इसके बाद फिर इंडियन नंबर की गाड़ी में बैठकर वापस घर जायेंगे. मुकेश के जैसे ही दर्जनों दूल्हे बुधवार को नेपाल पैदल ही शादी करने के लिए गये. वहीं भारत-नेपाल सीमा के बीच खराब सड़क के कारण उड़ती धूल से भी लोगों को काफी परेशानी हो रही है.

शादी के मौसम को लेकर बॉर्डर खोलने के लिए नेपाल में बहस शुरू

इधर, अब शादी के मौसम में नेपाल में इसको लेकर बहस शुरू हो गयी है कि बॉर्डर को खोला जाये. नेपाल सद‍्भावना पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सत्यनारायण प्रसाद रौनियार ने बुधवार को नेपाल के पर्सा डीएम को एक ज्ञापन सौंप कर शादी के लिए नेपाल आने वाली भारतीय नंबर की गाड़ियों की अनुमति देने की मांग की है. श्री रौनियार ने प्रभात खबर को बताया कि दोनों देश का संबंध अटूट है. केवल राजनैतिक ही नहीं, हमारा एक-एक नागरिक का आपसी संबंध प्रगाढ़ है. इसको देखते हुए नेपाल सरकार के गृह मंत्रालय से यह अनुमति मांगी गयी है कि इन दिनों कम से कम शादी के लिए आने वाले भारतीय वाहनों को ले जाने की अनुमति दी जाये.

नेपाली नंबर की गाड़ियों के आने-जाने पर रोक नहीं

नेपाल की तरफ इस मामले में दोहरी नीति का प्रयोग किया जा रहा है. भारत की सीमा खोल दिये जाने के बाद नेपाली नंबर की गाड़ियों को बेरोक-टोक नेपाली प्रशासन भारत आने दे रहा है, तो दूसरी तरफ इंडियन नंबर की गाड़ी यदि गलती से भी सीमा पार चली जाये, तो उसकी जब्ती कर ली जा रही है. भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा बॉर्डर खोल दिया गया है, लिहाजा नेपाल से आने वाली गाड़ियों को यहां पर नहीं रोका जा रहा है. संबंधों को ध्यान में रखते हुए भी नेपाल सरकार अब तक बॉर्डर खोलने को लेकर किसी तरह का सकारात्मक फैसला नहीं ले रही है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें