1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. champaran east
  5. hearing the roar of the tiger the villagers were awake throughout the night trying to break the firecrackers the forest workers did not reach even after the information asj

बाघ की गर्जना सुन रात भर जगे रहे ग्रामीण, पटाखे फोड़ भगाने की कोशिश, सूचना के बाद भी नहीं पहुंचे वनकर्मी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

गौनाहा : बीते शुक्रवार को मंगुराहा रेंज के सिसई स्कूल के समीप बाघ द्वारा एक भैंस का शिकार करने को लेकर ग्रामीण अभी सहमे ही हुए थे कि रविवार की रात मंगुराहा गांव के मिथुन साह के घर में बाघ घुस गया.

ग्रामीणों का दावा है कि मिथुन के घर में खूटे से बंघी भैंस को बाघ ने अपना शिकार बना लिया. उसे खींच कर 100 मीटर दूर बगीचे में ले गया. इसे देखकर मिथुन का परिवार पूरी रात दुबका रहा.

इधर, बगीचे से बाघ की गर्जना सुन ग्रामीण दहल गए. बाघ को भगाने के लिए घंटों लोग टिन पीटते रहे. बाघ बगीचे में जमा रहा. बाद में एकजुट हुए ग्रामीण शोर मचाते पटाखा फोड़ने लगे. टायर व आग जलायी गयी. उसे देख बाघ गन्ने के खेत में घुस गया. इसको लेकर भयभीत ग्रामीण वन विभाग को लगातार फोन करते रहे.

ग्रामीणों का कहना है कि बड़ी मशक्कत के बाद चार घंटे बीतने पर वनकर्मी मौके पर पहुंचे. भैंस का अंतिम संस्कार करने में लग गए. ग्रामीणों का आरोप है कि गौनाहा पुलिस को इसकी सूचना दी गयी, लेकिन पुलिस भी नहीं पहुंची.

मंगुराहा निवासी लाल बाबू यादव, गूडल महतो, राजेश पासवान, अजय महतो, सूरज साह आदि ने बताया कि आये दिन बाघ जंगल से निकलकर गांव की तरफ आ रहे हैं. डर के मारे हमलोग खेत में भी नहीं जा पा रहे हैं. वन विभाग को सूचना देने के बाद भी कोई कार्रवाही नहीं हो रही है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें