1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. buxar
  5. irrigation more than 100 villages of the district be connected to agriculture feeder in buxar rdy

बक्सर में कृषि फीडर से जुड़ेंगे जिले के 100 से अधिक गांव, सिंचाई के लिए नहीं करना पड़ेगा बारिश का इंतजार

बक्सर में कृषि फीडर से जिले के 100 से अधिक गांव जुड़ेंगे. कृषि फीडर से जुड़ते ही किसानों को अब बारिश का इंतजार नहीं करना पड़ेगा, कृषि फीडर के लिये अलग से बिजली के पोल गाड़कर तार खीचें गये हैं.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सिंचाई के लिए नहीं करना पड़ेगा बारिश का इंतजार
सिंचाई के लिए नहीं करना पड़ेगा बारिश का इंतजार
सांकेतिक तस्वीर (FIL)

बक्सर. सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में कृषि विकास योजना भी एक महत्वपूर्ण है. इस योजना के तहत किसानों को आर्थिक बोझ से उबरने और अधिक से अधिक अन्न का उत्पादन करने के लिए सरकार द्वारा अलग से कृषि फीडर के माध्यम से किसानों के खेतों तक मुफ्त बिजली उपलब्ध करायी जा रही है. प्रखंड स्तर पर शिविर लगाकर किसानों को मुफ्त में बिजली का कनेक्शन दिया गया है. जिले में कुल 33 कृषि फीडर बनाये गये हैं. जिससे जुलाई माह तक जिले के तकरीबन 100 किसानों को विद्युत कनेक्शन दे दिया जायेगा. कृषि फीडर से जुड़ते ही किसानों को अब बारिश का इंतजार नहीं करना पड़ेगा, कृषि फीडर के लिये अलग से बिजली के पोल गाड़कर तार खीचें गये हैं.

डीएम के निर्देश पर इन गांवों का किया गया है चयन

जिलाधिकारी अमन समीर के निर्देश के आलोक में मुख्यमंत्री कृषि विद्युत संबंध योजनान्तर्गत कृषि विद्युतीकरण योजना के तहत जुलाई माह तक जिले के कुल ग्यारह प्रखंडों के 100 गांव में विद्युत कनेक्शन भी उपलब्ध करा दिया जायेगा. इसके तहत सिमरी प्रखड के गंगौली, इकौना, डुमरी, राजपुर कला, सिमरी एवं ढ़कैच गांव को चिह्नित किया गया है. राजपुर प्रखंड के रौनी, संगरांव, सिसौंधा, मंगरांव, गजराई, कठजा, कनौली, पीपरा, ताजपुर, राजपुर, उतमपुर, हेठुआ, छितनडिहरा, अहियापुर, तियरा, जलहरा, सुजातपुर, बन्नी, खीरी, हरपुर, पीपरार व खरिका गांव को चिह्नित किया गया है.

इन गांवों को किया गया चिह्नित

चौसा प्रखंड के कटार, बुढ़ाडिह, बघेलवा, जलीलपुर (चौबे की चावनी), डिहरी, अखौरीपुर व रामपुर गांव को चिन्हित किया गया है. वही नावानगर प्रखंड के भटौली, रूपसागर, अतिमी, बरौन, करसर, सिकरौल एवं छापछुआ गांव को चिन्हित किया गया है. जबकि इटाढ़ी प्रखंड के इंदौर, चिबिला, बगहीपट्टी, भरचकीया, बालदेवा, इटाढ़ी, हकीमपुर, चांडुडिहरा एवं खरहना गांव को चिन्हित किया गया है. बक्सर प्रखंड के बोक्सा, गरहनी, सोनवर्षा, रामपुर, अर्जुनपुर, दलसागर, बरूना, रहसीचक, छोटकी बसौली, महदह, जरीगवां, मंझरिया, चक्रहंसी, करहसी व नदांव गांव को चिह्नित किया गया है.

ब्रह्मपुर प्रखंड के बगेन, भादा, भदवर, इकरहसी, कैथी, पोखराहा, रघुनाथपुर, गायघाट, पुरवा, रहथुआ, गरहथा कलन एवं गरहथा खुर्द गांव को चिन्हित किया गया है. वही चक्की प्रखंड के अरक एवं चक्की गांव का चयन किया गया है. वही डुमरांव प्रखंड के सोवा, इकौनी, नेनुआ, मुंगौन, नन्दन एवं अरियांव गांव को चिन्हित किया गया है. केसठ प्रखंड के दिगौली, केसठ व बैजनाथपुर गांव को चिन्हित किया गया है. जबकि चौगाई प्रखंड के चौगाईं, केवली, मसहरिया, मुरार एवं नचाप गांव का चयन किया गया है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें