1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. biharsharif
  5. 16 works related to vehicles were done online in bihar now you sitting at home transfer of honors and renewal of driving license asj

वाहनों से संबंधित 16 कार्य हुए ऑनलाइन, अब घर बैठे हो जायेगा ऑनर का ट्रांसफर और ड्राइविंग लाइसेंस का रिनुअल

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
लर्निंग लाइसेंस
लर्निंग लाइसेंस
फाइल

बिहारशरीफ. वाहन मालिकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए परिवहन मंत्रालय ने सारी व्यवस्था को आसान बना दिया है.

अब लोग सूबे में किसी भी परिवहन कार्यालय में जाकर अपने वाहन के कागजातों का काम करा सकेंगे, जिसके तहत गाड़ी का रजिस्ट्रेशन,ड्राइविंग लाइसेंस और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. साथ ही ऑनर का ट्रांसफर, पता बदलना, ड्राइविंग लाइसेंस का रिनुअल की भी सुविधा रहेगी.

अब वाहन मालिक को एक ही परिवहन कार्यालय पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. सभी आवेदन को ऑनलाइन जमा करा सकते हैं. वाहन मालिक अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी जिला परिवहन कार्यालय में आकर अपना काम करा सकेंगे.

आरसी रिनुअल के लिए अब किसी प्रकार का कोई अतिरिक्त राशि नहीं देना पड़ेगा, लेकिन निर्धारित अवधि खत्म होने से पहले अगर डीएल के लिए आवेदन किया है तो फिर ड्राइविंग टेस्ट भी नहीं देना होगा, लेकिन निर्धारित अवधि खत्म होने के बाद ₹50 अतिरिक्त देने होंगे.

यह सब काम घर बैठे ही करेंगे, लेकिन उसके लिए आपको, वाहन मालिकों को आधार कार्ड मदद करेगा. परिवहन विभाग से जुड़ी 16 सुविधाओं को परिवहन मंत्रालय ने ऑनलाइन कर दिया है. इससे फर्जी तरीके से ड्राइविंग लाइसेंस बनाने का मामला नहीं आयेगा और जिला परिवहन कार्यालय में दलालों की भी कोई चलती नहीं रहेगी.

हेल्पलाइन पर ले सकते हैं परिवहन एवं लाइसेंस संबंधी जानकारी : आपने काम के लिए किसी चक्कर में ना पड़कर ऑनलाइन आवेदन वाहन मालिक को करना चाहिए और सीधे डीटीओ ऑफिस आकर अधिकारी से मिलने की जरूरत होगी.

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए परिवहन विभाग के वेबसाइट पर आवेदन करना होगा. इसके बाद निर्धारित शुल्क जमा करना पड़ेगा. जिस दिन कार्यालय आकर वाहन चलाकर टेस्ट देना होगा. साथ ही बाकी की प्रक्रिया भी पूरी करनी होगी तब लाइसेंस घर पर ही डाक से आ जायेगा.

नहीं लेना होगा एजेंटों व दलालों का सहारा

आने वाले दिनों में ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी से संबंधित कागजात का प्रिंटिंग का काम आरटीओ, डीटीओ कार्यालय से ही कराया जाएगा. इसके तहत लोगों को अब परिवहन कार्यालय आने की जरूरत नहीं होगी. बहुत शीघ्र ही परिवहन विभाग होम डिलीवरी की सुविधा उपलब्ध कराएगी, जिससे आमलोगों को काफी राहत होगी.

सेफ ड्राइविंग लाइसेंस के लिए लोगों को ड्राइविंग ट्रैक पर फोटो एवं जारी टेस्ट देने के लिए परिवहन कार्यालय जाना होगा. परिवहन कार्यालय में पुराने पेंडिंग कार्यों को खत्म किया जा रहा है. सारी कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद अगले 15 दिनों के भीतर लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी घर बैठे तक मिल जाएगा.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें