1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar corona update oxygen cylinder shortage in bihar hospital nmch superintendent write letter to resign and accused administration for corona in bihar upl

पटना के एनएमसीएच में ऑक्सीजन सिलिंडर की कमी, अधीक्षक ने पद छोड़ने को लिखा पत्र, प्रशासन पर लगाए ये आरोप

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल
नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल
File

बिहार में कोरोना के कहर से हालात आसमान्य होते जा रहे हैं. हर रोज नये संक्रमितों के आने का आंकड़ा सात हजार के पार चला गया है. इससे अस्पतालों में बेड लगातार कम होते जा रहे हैं. ऑक्सीजन सिलिंडर की कमी की खबरें भी हर ओर से आ रही हैं. ऐसे में पटना के एनएमसीएच (नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल) के अधीक्षक डॉ विनोद कुमार सिंह ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को पत्र भेज कर अधीक्षक पद से मुक्त करने का आग्रह किया है.

पत्र में कहा गया है कि ऑक्सीजन सिलिंडर की कमी के कारण मरीज की मृत्यु होती है तो उसकी जवाबदेही अधीक्षक की होगी. ऐसे में इस पद से मुक्त करते हुए शिशु रोग के विभागाध्यक्ष के पद पर रहने देने का आग्रह किया है. पत्र में अधीक्षक ने कहा है कि प्रशासन ने ऑक्सीजन आपूर्ति पर नियंत्रण कर लिया है. इस कारण से अस्पताल के जगह दूसरे अस्पताल को आपूर्ति की जा रही है. इससे कार्य संचालित करने में परेशानी हो रही है.

Corona in patna: पटना के अस्पतालों की हालात खराब

राजधानी पटना में कोरोना संक्रमण बढ़ने से अस्पतालों में बेड लगातार कम होते जा रहे हैं. सभी बड़े अस्पताल चाहे वह सरकारी हो या निजी उसमें बेड खाली नहीं मिल रहे हैं. शनिवार को जिला प्रशासन से मिले आंकड़ों के मुताबिक जिले के 33 प्राइवेट अस्पताल जो अभी कोविड मरीजों का इलाज कर रहे हैं, उनमें कुल बेड की संख्या 985 है.

इसमें 377 आइसीयू बेड है. इनमें से 860 बेड पर मरीज हैं, जबकि 125 बेड अभी खाली है. जिले के सरकारी अस्पतालों में 543 बेड हैं. इसमें 88 बेड आइसीयू के हैं, जिसमें से शनिवार शाम तक 457 पर मरीज थे और 86 बेड खाली थे. जिले में सरकारी और निजी अस्पतालों को मिलाकर कुल 211 बेड खाली हैं

बता दें कि पटना में शनिवार को 1898 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. इन नये मरीजों के साथ ही जिले में अब तक सामने आये मरीजों की कुल संख्या 70204 हो गयी है. इसमें से 57584 मरीज कोरोना से लड़कर ठीक हो चुके हैं . जिले में अब तक कोरोना से 502 मौतें हो चुकी हैं. जिले में 12118 कोरोना संक्रमित एक्टिव मरीज मौजूद हैं.

जिले में शनिवार को 10673 लोगों की कोरोना जांच की गयी. इसमें से 3799 जांच आरटीपीसीआर से और 6859 जांच रैपिड एंटीजन किट से की गयी. 15 जांच ट्रू नेट से की गयी.जिले में शनिवार को 10673 लोगों की कोरोना जांच की गयी. इसमें से 3799 जांच आरटीपीसीआर से और 6859 जांच रैपिड एंटीजन किट से की गयी. 15 जांच ट्रू नेट से की गयी.

जिले में शनिवार को आक्सीजन आपूर्ति करने वाली तीनों एजेंसी के द्वारा अस्पतालों को कुल 3973 सिलेंडर की आपूर्ति की गयी.

नPosted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें