1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. srijan ghotala bhagalpur ed confiscated 10 properties of srijan scam accused 14 properties be attached rdy

भागलपुर में इडी ने सृजन घोटाले के आरोपितों की जब्त की 10 प्रोपर्टी, 14 संपत्तियां होंगी अटैच

भागलपुर में इडी ने सृजन घोटाले के आरोपितों की 10 प्रोपर्टी जब्त की है. संपत्ति जब्त करने के बाद इडी की टीम ने जब्ती संबंधी बोर्ड लगा दिया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
अंग  बिहार अपार्टमेंट के कमरा नंबर 302 को सील करते इडी के पदाधिकारी
अंग बिहार अपार्टमेंट के कमरा नंबर 302 को सील करते इडी के पदाधिकारी
प्रभात खबर

भागलपुर. सृजन घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय (इडी) की टीम भागलपुर पहुंची. टीम ने घोटाले के आरोपितों की 10 जगहों पर संपत्ति जब्त की. सबौर के हरवा बहियार में दो जगह, बाबूपुर के पास तीन जगह (इनमें दो जमीन गंगा में समायी हुई है), इंजीनियरिंग कॉलेज के समीप एनएच-80 के बगल में प्लॉट व अर्धनिर्मित भवन समेत तीन प्रोपर्टी, अंग अपार्टमेंट में दो जगह संपत्ति जब्त की. शुक्रवार को यह टीम सबौर के कुरपट समेत भागलपुर शहरी क्षेत्र में करीब पांच-छह जगहों पर संपत्ति जब्त कर सकती है. प्रवर्तन निदेशालय के टीम लीडर संतोष कुमार मंडल के साथ टीम में तीन लोग शामिल थे. कार्रवाई के दौरान टीम के साथ सबौर अंचल के राजस्व कर्मचारी प्रमोद पासवान, अंचल अमीन महादेव व नीरज और पुलिस मौजूद थे. जो संपत्ति जब्त की गयी है.

आठ जगहों पर जब्त की गयी जमीन

वह अमित कुमार व उनकी पत्नी रजनी प्रिया और सृजन संस्था की पूर्व सचिव स्व मनोरमा देवी समेत अन्य आरोपितों की है. संपत्ति जब्त करने के बाद इडी की टीम ने जब्ती संबंधी बोर्ड लगा दिया है. भागलपुर शहर में भी कई अन्य आरोपितों की संपत्ति जब्त की जायेगी. ज्ञात हो कि वर्ष 2017 में सृजन घोटाले का खुलासा हुआ था. घोटालेबाजों ने विभिन्न सरकारी विभागों के बैंक खाते से जालसाजी के तहत करोड़ों की राशि की हेराफेरी की. इस पैसे से घोटालेबाजों ने देश के विभिन्न शहरों समेत भागलपुर में भी जमीन, फ्लैट आदि की खरीदारी की. इन अचल संपत्तियों को सीबीआइ पहले ही अटैच कर चुकी है, जिसे अब इडी जब्त कर रही है.

मनी लांड्रिंग के तहत हुई है जब्ती की कार्रवाई

सीबीआइ द्वारा दर्ज की गयी प्राथमिकी के आधार पर मनी लांड्रिंग के तहत इडी ने अब तक सृजन मामले में देश के विभिन्न शहरों में 18.45 करोड़ की संपत्ति जब्त की है. इसमें 32 फ्लैट, 18 दुकानें, 38 प्लॉट व मकान, 47 बैंक खाते और दो वाहन शामिल हैं.

नौ आरोपितों के 34 मकान व प्लॉट की रजिस्ट्री पर लगायी गयी थी रोक

सृजन घोटाला मामले में नौ आरोपितों के 34 मकान व जमीन की रजिस्ट्री पर प्रवर्तन निदेशालय ने पहले रोक लगायी, ताकि कोई इसकी खरीद-बिक्री नहीं कर सके. अब आरोपितों की संपत्ति की जब्ती की कार्रवाई की जा रही है. प्रवर्तन निदेशालय (इडी) ने पिछले वर्ष ही जिला प्रशासन को आरोपितों की भागलपुर में स्थित अचल संपत्ति की सूची भेजी थी. भेजी गयी सूची के अनुसार सभी आरोपितों की चिह्नित प्रोपर्टी को भागलपुर रजिस्ट्री कार्यालय ने लॉक कर दिया. सूची में शामिल तमाम जमीन और फ्लैट को लॉक करने की कार्रवाई जिला अवर निबंधक कार्यालय द्वारा की गयी.

सभी लॉक संपत्ति भागलपुर शहर व इसके आसपास की

सृजन घोटाले आरोपितों की लॉक की गयी संपत्ति भागलपुर शहर के अलावा, नाथनगर व सबौर क्षेत्र में है. इसे लॉक करने का निर्देश प्रवर्तन निदेशालय (इडी) के असिस्टेंट डायरेक्टर संतोष कुमार मंडल ने दिया था. इडी ने इसे लेकर संपत्तियों की सूची 12 अगस्त 2021 को भेजी थी. संपत्तियों की सूची तीन पन्ने में शामिल है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें