1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. coronavirus in bihar micro containment zone created in bari after finding five corona infected institute closed until further orders asj

Coronavirus in Bihar : पांच कोरोना संक्रमित मिलने के बाद बरारी में बनाया गया माइक्रो कंटेनमेंट जोन, अगले आदेश तक संस्थान बंद

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 माइक्रो कंटेनमेंट जोन
माइक्रो कंटेनमेंट जोन
फाइल फोटो

भागलपुर. नगर निगम क्षेत्र में बरारी में पांच से अधिक लोग कोविड-19 से संक्रमित हो गये हैं. आमजनों को सुरक्षित करने के लिए संक्रमित मरीज के निवास स्थान को चिह्नित करते हुए उक्त स्थल को संक्रमण केंद्र मान कर आसपास के क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया है.

सदर एसडीओ ने शुक्रवार को इस बाबत निर्देश जारी किया है. माइक्रो कंटेनमेंट जोन के सभी निजी व सरकारी संस्थानों को अगले आदेश तक बंद रखने का निर्देश दिया गया है. पंजाब नेशनल बैंक के सामने उत्तर दिशा में जानेवाले रास्ते और रूप विहार होटल के पीछे रहमत हुसैन लेन इमामबाड़ा के पास बैरिकेडिंग का निर्देश देते हुए दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी व पुलिस बल की तैनाती दो पालियों में की गयी है.

थानाध्यक्ष, जगदीशपुर के बीडीओ व सीओ, उप नगर आयुक्त सत्येंद्र प्रसाद वर्मा को निर्देश दिया गया है कि सघन बैरिकेडिंग कराते हुए लोगों का आवागमन बंद करेंगे. संक्रमित मरीज के संपर्क में आनेवाले सभी लोगों की कोरोना जांच करायी जायेगी. इस जोन में दूध, सब्जी, फल, दवा आदि आवश्यक वस्तुओं की उपब्धता संबंधित विक्रेताओं से समन्वय स्थापित कर सुनिश्चित की जायेगी. संक्रमित मरीजों को चिह्नित आइसोलेशन में सिविल सर्जन रखवायेंगे. उनकी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद होम कोरेंटिन के लिए अलग कमरे में 14 दिनों तक रखा जायेगा.

बस स्टैंड में बुलाने पर भी नहीं आते जांच कराने

पथ परिवहन परिसर में शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सह हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर बरारी द्वारा कोरोना जांच की जा रही है. जांच कर रहे लैब टेक्निशयन रमण कुमार ने बताया कि जांच के लिए लाेग अपने मन से नहीं आते हैं, काफी बुलाने के बाद आते हैं.

लेबर रूम के पास कोरोना वार्ड परेशानी

कोरोना संक्रमण के शिकार लोगों के लिए सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के बदले केयर सेंटर तैयार हो गया है. यहां पॉजिटिव मरीजों को रखा जायेगा. जल्द ही यहां डॉक्टर को नियुक्त की जायेगी. दूसरी और इस वार्ड पर अब सवाल खड़ा होने लगा है. लोगों का कहना है कि इस भवन के सामने इमरजेंसी है. बगल में ओटी और लेबर रूम है. ऐसे में अगर कहीं भी पॉजिटिव मरीज ने लापरवाही किया तो संक्रमण का खतरा पैदा हो जायेगा.

सैनिटाइज नहीं होने से बढ़ा आक्रोश

तिलकामांझी शीतला स्थान चौक पर गुरुवार को एक साथ सात लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हो गये. नियमानुसार इस जगह को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में बदल दिया जाना चाहिए था. वहीं निगम की ओर से इलाके को सैनिटाइज करना था. लेकिन नहीं होने से लोगों में आक्रोश पनप गया. विरोध का सामना सिविल सर्जन को करना पड़ा.

डीडीसी समेत 3120 ने लिया वैक्सीन

डीडीसी समेत जिले में 3120 लोगों ने शुक्रवार को कोरोना का टीकाकरण कराया. 21 टीकाकरण केंद्रों पर 7300 लाभुक को वैक्सीनेशन की सूची तैयार की गयी थी. इसमें 2900 बुजुर्ग व बीमार लाभुक तो हेल्थ और फ्रंट लाइन के 4400 लाभुक को टीकाकरण केंद्र आना था. इसमें 40 हेल्थ कर्मी ने कोरोना वायरस का पहला टीका लगाया. जबकि 246 ने वैक्सीनेशन का दूसरा डोज लिया.

वहीं फ्रंट लाइन वर्कर की बात करे तो 61 लोगों ने प्रथम डोज तो 211 लोगों ने टीकाकरण का दूसरा डोज लिया. वहीं 45 से 60 साल के उम्र वाले लोगों की बात करे तो पहला डोज 217 लोगों ने लिया. जबकि दूसरा डोज लेने के लिए किसी भी सेंटर में कोई नहीं पहुंचा. वहीं साठ साल से ज्यादा उम्र के 2345 लोग वैक्सीनेशन कराने पहुंचे .

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें