1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bihar election news 2020 bhupendra yadav attacked on dynasty in politics in kahalgaon vidhan sabha campaign for bjp candidate skt

Bihar Election 2020: भूपेंद्र यादव ने कहलगांव में परिवारवाद पर प्रहार कर भाजपा प्रत्याशी के लिए मांगा वोट, 'वोटकटवा' के लिए कही ये बातें...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
भूपेंद्र यादव ने कहलगांव में भाजपा प्रत्याशी के लिए मांगा वोट
भूपेंद्र यादव ने कहलगांव में भाजपा प्रत्याशी के लिए मांगा वोट
social media

Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020,Dynasty In Politics: भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव ने परिवारवाद-वंशवाद पर प्रहार करते हुए कहा कि अब नया रास्ता बनाएं, नयी मंजिल चुनें. राजनीति में परिवारवाद-वंशवाद अब नहीं चलने वाला है. शहजादे के धोखा में नहीं आना है. वे सोमवार को कहलगांव विधानसभा क्षेत्र के गोराडीह प्रखंड के मध्य विद्यालय विरनौध में भाजपा प्रत्याशी पवन कुमार यादव के समर्थन में चुनावी सभा में बोल रहे थे.

केंद्र में भाजपा सरकारी की उपलब्धि गिनाकर मांगा वोट

उन्होंने केंद्र में भाजपा सरकारी की उपलब्धि गिनाते हुए उन्होंने भाजपा उम्मीदवार के लिए लोगों से वोट मांगा.उन्होंने कहा कि गरीबों के लिए संकटकाल में जनधन खाता के माध्यम से सहायता राशि दी गयी. किसान सम्मान योजना के तहत किसानों को सम्मान दिया गया. छठ पूजा तक संक्रमण को देखते हुए गरीबों के लिए राशन देने का कार्य किया जा रहा है. कोरोना काल में भी देश के मुखिया ने 125 करोड़ लोगों का विश्वास कायम रखा. उन्होंने धारा 370 व राम मंदिर मामले का भी उल्लेख किया.

वोटकटवा से सावधान रहने की नसीहत

भूपेंद्र यादव ने कहा कि नीतीश कुमार ही अगले मुख्यमंत्री होंगे. वोट कटवा से सावधान रहें. बहुत सारे लोग खड़े हुए हैं. भाजपा, जदयू, वीआइपी व हम किसी को नहीं भ्रम. यही गठबंधन है. उन्होंने कहा कि सड़क, पानी व बिजली पर काम हुआ है. अब किसान के बेटों के हाथ में भी लैपटॉप दिख रहा है. भूमि स्वामित्व योजना लागू होने से गरीब ताकतवर होंगे.

महागठबंधन पर तंज कसते हुए कहा...

महागठबंधन पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि महादलित वर्ग के जीतनराम मांझी को धोखा दिया गया. वीआइपी पार्टी को भी छुरा घोंपा गया. महागठबंधन में भी शिष्टाचार नहीं होने के कारण झारखंड के एक दल ने महागठबंधन से अपना नाता तोड़ लिया. लेकिन, सीएम नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार में सबको साथ लेकर चला गया. एक समय था कि बिहार में हिंसा का दौर था. 90 के दशक में जातीय संघर्ष का दौर था. लेकिन, एनडीए सरकार ने कभी भी जातीय संघर्ष के साथ समझौता नहीं किया. 2019 में बंगाल में हिंसा हुई, लेकिन बिहार में लोकतंत्र और शांति साथ-साथ है. उन्होंने दावा किया कि कहलगांव में परिवर्तन इस बार होकर रहेगा.

मंच पर उपस्थित चेहरे...

सभा के दौरान मंच पर विधानसभा प्रभारी विजय कुशवाहा, जिला उपाध्यक्ष पवन मिश्रा, नितेश सिंह, दयानंद सिंह, सकलदेव मंडल, नरेश मंडल, राजकुमार चौधरी, अनुज दुबे, नीतू चौबे, दिलीप मिश्रा, गौतम चौधरी, पवन चौधरी, ओमप्रकाश भ्रमर, संतोष मंडल, लीना सिन्हा उपस्थित थे.

Posted By: Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें