1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bhagalpur news murli panchayat chief candidate shot at election rivalry criminals ran away while firing rdy

Bhagalpur News: चुनावी रंजिश में मुरली पंचायत के मुखिया प्रत्याशी को मारी गोली, फायरिंग करते हुए भागे अपराधी

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि अपराधियों ने मौके पर चार गोली फायरिंग की, जिसमें दो गोली अभिषेक के दाहिने कांख में जा लगी. मौके पर चार चक्र गोली चलने की बात कही जा रही है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
चुनावी रंजिश में मुरली पंचायत के मुखिया प्रत्याशी को मारी गोली
चुनावी रंजिश में मुरली पंचायत के मुखिया प्रत्याशी को मारी गोली
सोशल मीडिया

Bhagalpur News: नवगछिया के रंगरा सहायक थाना क्षेत्र के मुरली गांव में मंगलवार की देर शाम अपराधियों ने मुखिया प्रत्याशी अभिषेक कुमार(28) को गोली मार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. अभिषेक चुनाव प्रचार कर अपने घर लौट रहे थे. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि अपराधियों ने मौके पर चार गोली फायरिंग की, जिसमें दो गोली अभिषेक के दाहिने कांख में जा लगी. मौके पर चार चक्र गोली चलने की बात कही जा रही है. घटना के तुरंत बाद उसे स्थानीय लोगों ने नवगछिया अनुमंडल अस्पताल लाया जहां से उसे बेहतर इलाज के लिए जेएलएनएमसीएच मायागंज रेफर कर दिया गया. घटना के बाद से ही अभिषेक बेहोश है.

देवेंद्र सिंह के बेटों ने दिया वारदात को अंजाम

घटना का कारण पुरानी रंजिश बतायी जा रही है. करीब तीन वर्ष पहले अपराधियों ने अभिषेक के पिता डीलर तारणी प्रसाद सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी. इस मामले में मुख्य आरोपित देवेंद्र सिंह अभी जेल में है. परिजनों का कहना है कि देवेंद्र सिंह के ही पुत्रों और उसके समर्थकों ने घटना को अंजाम दिया है.

गाड़ी से उतरकर पैदल ही घर जा रहे थे अभिषेक

मुरली पंचायत का कुछ हिस्सा रंगरा गांव में है. परिजनों से जानकारी मिली है कि अभिषेक सहित कुल चार लोग चुनाव प्रचार करने रंगरा गये थे. वहां से आने के दौरान गांव की सड़क पर काफी पानी जमा रहने से चारों गाड़ी से उतरकर पैदल अपने घर की ओर आ रहे थे. अपराधी गंगा प्रसाद सिंह के घर के पास छिपे थे और जैसे ही अभिषेक अपने तीन अन्य सहयोगियों के साथ पीतांबर सिंह के घर के पास पहुंचे कि अपराधियों ने हमला बोल दिया.

गोली चलायी और मौके से भागे अपराधी

अपराधियों ने एक-एक कर चार गोली चलायी और मौके से फरार हो गये. अभिषेक के सहयोगी अपराधियों की डर से घटनास्थल से कुछ दूर हट गये थे, लेकिन अपराधियों के जाते ही सभी पास आ गये और गोली लगने के बाद जमीन पर गिरे अभिषेक को उठाकर तुरंत अस्पताल के लिए रवाना हो गये. देर रात घटना की सूचना मिलते ही रंगरा पुलिस मायागंज पहुंची और पूछताछ की.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें