भैना पुल के बैरियर से बढ़े वस्तुओं के दाम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कहलगांव: भैना पुल पर बैरियर लगाने के बाद से कहलगांव बाजार में सामान के दामों में वृद्धि होने लगी है. व्यवसायी इससे परेशान है. किराना व्यवसायी संतोष कुमार ने बताया कि ट्रांसपोर्टिग की जटिलता के कारण बहुत से सामान कहलगांव बाजार से गायब हो गये हैं.

बच्चों के लिए अमूल स्प्रे दूध पाउडर कहलगांव बाजार में खोजने से नहीं मिल रहा है. व्यवसायियों के अनुसार कहलगांव आने वाले सभी सामान पर अतिरिक्त खर्च गिरता है. एक अनुमान के मुताबिक ट्रांसपोर्टिग खर्च में 3 से 4 गुना वृद्धि हुई है. इसके अतिरिक्त माल आने में ज्यादा समय लगता है. भैना पुल के पूर्व अनलोड कर पुन: छोटी गाड़ियों में लोड करने में बहुत से सामान टूट-फूट भी जाते है. इन सभी कारणों से सामान पर लागत खर्च बढ़ जाने से कहलगांव में सामान के दाम बढ़ गये हैं.

पेट्रोल डीजल भी महंगा

एकचारी स्थित चंद्रप्रभा फ्यूल्स के संचालक दुष्यंत कुमार के अनुसार पुल के क्षतिग्रस्त होने से पुल के बाद वाले क्षेत्रों में स्थित पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल व डीजल के दाम प्रति लीटर बढ़ गया है. भैना पुल के भागलपुर दिशा स्थित पेट्रोल पंप पर पेट्रोल 60 पैसे तथा डीजल 54 पैसे महंगा मिल रहा है. इसका कारण है कि यहां लंबी दूरी तय करके गाड़ी पहुंचती है. पेट्रोल डीजल के साथ-साथ गैस सिलिंडर में भी गैस एजेंसी को अधिक खर्च पड़ता है. बबीता इंडेन गैस की संचालिका बबीता सिंह के अनुसार गैस की गाड़ी पुल के उस पार रूक जाती है. सूचना पाकर लेबर से ट्रक से माल उतार कर बोलेरो से डिलिवरी प्वाइंट तक पहुंचाते हैं. इससे काफी समय बरबाद होता है. हर ट्रीप पर 1800 से 2100 रुपये का अतिरिक्त खर्च गिरता है. संचालकों के अनुसार उपभोक्ताओं को उसी दर पर सिलिंडर प्राप्त होता है, लेकिन डिलिवरी प्वाइंट पर लगे लाइन में पिछले उपभोक्ताओं को चार से पांच घंटे खड़े रहना पड़ता है.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें