1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bettiah
  5. principal secretary looking at bettiah government medical college has improved a lot trust me the picture will change soon asj

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज को देख बोले प्रधान सचिव, काफी सुधार हुआ है, भरोसा रखिए, जल्द बदलेगी तस्वीर

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
प्रधान सचिव
प्रधान सचिव
प्रभात खबर

बेतिया : स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बुधवार को गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल बेतिया का निरीक्षण किया. आइसोलेशन वार्ड, आपात कक्ष, आइसीयू, विभिन्न वार्ड आदि की व्यवस्थाओं से अवगत हुए. मरीजों के परिजनों से भी बात कर फीडबैक प्राप्त किया. मौके पर उपस्थित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए. दवा एवं चिकित्सकों की कमी पर अविलंब कार्रवाई का भरोसा दिया. भवन निर्माण की गति पर हैरानी जाहिर की. निर्माण कर रही एलएनटी के अधिकारियों को जल्द काम पूरा करने का निर्देश दिया.

मरीज के परिजनों से लिया फीडबैक

प्रधान सचिव ने कहा कि परिजनों से फीडबैक प्राप्त करने पर कई तरह की जानकारी प्राप्त हुई है. मेडिकल कॉलेज अस्पताल में काफी सुधार हुए हैं. कुछ कमी है जिससे जल्द ही सुधार कर लिया जाएगा. उन्होंने भरोसा देते हुए कहा कि बहुत जल्द ही इसकी तस्वीर बदल जाएगी. दवा, चिकित्सा आदि की कमी दूर की जाएगी. निरीक्षण को लेकर कॉलेज एवं अस्पताल परिसर में पूरे दिन हड़कंप का माहौल रहा. चिकित्सक से लेकर कर्मी तक भागमभाग करते रहे. इस अवसर पर स्वास्थ सचिव लोकेश कुमार सिंह, डीएम कुंदन कुमार सिंह, एसपी निताशा गुड़िया, प्राचार्य डॉ विनोद प्रसाद, अधीक्षक डॉ प्रमोद कुमार तिवारी, एसडीएम विद्यानंद पासवान, स्वास्थ्य प्रबंधक मोहम्मद शाहनवाज आदि उपस्थित रहे.

अस्पताल में 24 घंटे विद्युत आपूर्ति के लिए डेडीकेटेड पीएसएस

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 24 घंटे विद्युत आपूर्ति सप्लाई के लिए अस्पताल परिसर में ही डेडीकेटेड पावर सबस्टेशन होगा. इसके लिए प्रधान सचिव ने एलएनटी के अधिकारियों से बात करते हुए खास निर्देश दिया. प्रधान सचिव ने एलएनटी के अधिकारियों से डेडीकेटेड पावर सब स्टेशन की जानकारी प्राप्त की. इसका काम जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया. बताया जाता है कि डेडीकेटेड पावर सबस्टेशन चालू होने से अस्पताल परिसर में 24 घंटे विद्युत आपूर्ति बहाल हो सकेगी.

आउटसोर्सिंग कर्मियों ने कहा, उन्हें मिले संविदा कर्मी का दर्जा

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में आउटसोर्सिंग के तहत कार्यरत कर्मियों ने प्रधान सचिव से मिलकर संविदा कर्मी का दर्जा देने की मांग की. कर्मियों ने कहा कि कोरोना काल में वें फ्रंट पर काम कर रहे हैं. आइसोलेशन से लेकर विभिन्न वार्ड में उनकी तैनाती की गई है. बावजूद उन्हें वेतन के रूप में काफी कम राशि प्राप्त होती है. नौकरी के भी कोई गारंटी नहीं है.

काश ! हर दिन आते प्रधान सचिव

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल परिसर, बुधवार का दिन सुबह करीब आठ बजा है. कॉलेज परिसर में गाड़ियों की ताता लगी हुई है. हर लोग अपने काम को अंजाम दे रहे हैं. परिसर से लेकर विभिन्न वार्डों में साफ-सफाई सहित अन्य काम निपटाए जा रहे हैं. बदलती तस्वीर को देखकर एक परिजन एक कर्मी से पूछ पड़ता है, क्या आज कुछ विशेष है क्या? कर्मी ने जवाब देते हुए कहा आज प्रधान सचिव आने वाले हैं. इस पर परिजन के मुंह से अनायास निकल पड़ा काश हर दिन प्रधान सचिव आते हैं.

मेडिकल कॉलेज में आरटीपीसीआर लैब शुरू

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल का पीसीआर लैब बुधवार को चालू हो गया. यहां आरटी पीसीआर द्वारा हर दिन करीब 300 सैंपल की जांच होगी. आगामी सात सितंबर से इसकी क्षमता में इजाफा होगा और हर दिन 500 सैंपल की जांच शुरू हो जाएगी. आरटी पीसीआर से जांच शुरू होने पर पटना सैंपल भेजने की बाध्यता समाप्त हो गई है. जांच रिपोर्ट के लिए इंतजार की घड़ी भी खत्म हो गई है. सेम डेट में जांच रिपोर्ट प्राप्त होगी. पुराने लेक्चर थिएटर के सामने नए बिल्डिंग में फोर्थ फ्लोर पर इस लैब बनाया गया है जहां जांच हो रही है. कोरोना संक्रमण के सैंपल की जांच के लिए यहां आरटी पीसीआर यानी रियल टाइम पॉलीमरेज चेन रिएक्शन मशीन स्थापित की गई है.

बिहार में कोरोना से डेथ रेट काफी कम : प्रधान सचिव

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने कहा कि कोरोना से लंबी लड़ाई लड़नी है. डरना नहीं है, लेकिन वैक्सीन आने तक सजग रहना जरूरी है. बिहार में डेथ रेट काफी कम है. देश में बिहार का रिकवरी रेट बेहतर है. जांच से लेकर इलाज तक के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. कोरोना के चैन को तोड़ने के लिए विभिन्न स्तर पर कार्य किए गए हैं. वें बुधवार को स्थानीय गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल के निरीक्षण के बाद पत्रकारों से जानकारी साझा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि वैक्सीन आने तक कोरोना से लंबी लड़ाई लड़नी है. इस स्थिति में मास्क और दो गज की दूरी हरेक लोगों के लिए जरूरी है. बाजार में बिना मास्क भ्रमण कर रहे लोगों को देख हैरानी जाहिर करते हुए प्रधान सचिव ने चंपारण के लोगों से खास अपील की. कहा डरे नहीं सजग रहें. मास्क लगाएं और दो गज की दूरी के नियमों का पालन करें. उन्होंने संजीवनी ऐप डाउनलोड करने की अपील की. इसे कोरोना से जंग के लिए जरूरी बताया.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें