1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. arrah
  5. sp vinay tiwari to investigate babu veer kunwar singh grandson death controversy of arrah skt

बाबू वीर कुंवर सिंह के वंशज की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटे एसपी विनय तिवारी, आरोपित सीआइटी टीम सस्पेंड

भारत को आजाद कराने के लिए अपना सर्वस्व झोंकने वाले बाबू वीर कुंवर सिंह के वंशज रोहित सिंह उर्फ बबलू सिंह की मौत की जांच खुद एसपी विनय तिवारी कर रहे हैं. सीआइटी टीम को इस मामले में सस्पेंड किया गया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
रोहित सिंह की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटे विनय तिवारी
रोहित सिंह की मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटे विनय तिवारी
प्रभात खबर

भोजपुर के जगदीशपुर में बाबू वीर कुंवर सिंह के वंशज रोहित सिंह उर्फ बबलू सिंह की मौत के मामले में सीआइटी टीम को एसपी विनय तिवारी ने सस्पेंड कर दिया है. साथ ही एक अन्य नामजद के परिजनों से पूछताछ की जा रही है. सभी आरोपित घटना के बाद से फरार हैं. हालांकि पुलिस का दावा है कि जांच के बाद पूरा मामला स्पष्ट हो जायेगा. इसको लेकर एसपी द्वारा गठित एसआइटी की टीम जांच कर रही है.

फोरेसिंक की टीम जगदीशपुर पहुंचकर कर रही जांच

पीरो एसडीपीओ राहुल सिंह के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम का गठन किया गया है. टीम लगातार घटना स्थल से लेकर रेफरल अस्पताल तक जांच कर रही है और सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है. हालांकि पुलिस के हाथ कुछ सबूत मिले हैं, जिसकी जांच की जा रही है. इधर घटना के बाद गुरुवार को घटना की जांच करने को लेकर फोरेसिंक की टीम जगदीशपुर पहुंची, जहां घटना स्थल से कई नमुने एकत्र किये गये हैं. देर शाम तक जांच की जा रही थी. हालांकि अभी पुलिस पूरे मामले में गोपनीयता बरत रही है. बता दें कि परिजनों का आरोप है कि रोहित सिंह उर्फ बबलू सिंह की मौत पुलिस की पिटाई से हुई है.

तीन एसआइटी के जवान तथा एक अन्य के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी

इस मामले में मृतक की मां पुष्पा सिंह के बयान पर तीन एसआइटी के जवान तथा एक अन्य के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने सीआइटी टीम को सस्पेंड कर दिया है. घटना की स्वयं जांच एसपी विनय तिवारी कर रहे हैं. बता दें कि जगदीशपुर बाबू वीर कुंवर सिंह के वंशज रोहित सिंह उर्फ बबलू सिंह की मौत के बाद आक्रोश भड़क उठा था. इसको लेकर कई घंटों तक सड़क जाम की गयी थी और पुलिस प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी भी की गयी.

मृतक को शहीद का दर्जा देने की मांग

आक्रोशित लोगों ने प्रशासन से मांग की है कि उनके परिवार के सुरक्षा की गारंटी, आरोपितों की शीघ्र गिरफ्तारी और मृतक को शहीद का दर्जा देकर जगदीशपुर किला मैदान में प्रतिमा स्थापित की जाये. आश्वासन के बाद लोग शांत हुए. इधर पुलिसिया जांच तेज कर दी गयी है. जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी. इस संबंध में एसपी विनय तिवारी ने बताया कि सीआइटी टीम को सस्पेंड कर दिया गया है. जांच की जा रही है. जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें