1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. arrah
  5. bihar election 2020 which party has won from ara vidhan sabha chunav till now mla list equation this time see every update bhojpur news hindi smt

Bihar Election 2020: आरा विस क्षेत्र से अबतक किस पार्टी की हुई जीत, इस बार क्या बन रहा समीकरण, देखें हर अपडेट

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020, Ara Assembly Election, MLA List, Party
Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020, Ara Assembly Election, MLA List, Party
Prabhat Khabar Graphic

Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020, Ara Assembly Election, MLA List, Party : आरा (मिथिलेश कुमार) : राजा भोज की ऐतिहासिक नगरी आरा मां अरण्य देवी की मंदिर व अपने पुराने इतिहास के लिए प्रसिद्ध है आरा में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी परवान चढ़ रही है, फिर भी किसी पार्टी के पक्ष में कोई बड़ी लहर नहीं दिख रही है.मतदाताओं की खामोशी टूटती नहीं दिख रही है.

इस सीट पर पिछले चुनावों में मुख्य मुकाबला वर्ष 2010 के विस चुनाव और वर्ष 2015 के विस चुनाव के परिणाम पर गौर फरमाने पर यह स्पष्ट हो जाता है कि मुख्य मुकाबला भाजपा और महागठबंधन के घटक दल माले के बीच ही मुख्य मुकाबला होने की पृष्ठभूमि दिख रही है. फिर भी दोनों पार्टियों के प्रत्याशियों को भीतरघात होने की आशंका सता रही है.

आरा से भाजपा पार्टी से उम्मीदवार अमरेंद्र प्रताप सिंह चुनावी मैदान में है, जो यहां से चार बार विधायक रह चुके हैं. वहीं, माले प्रत्याशी के रूप में क्यामुद्दीन अंसारी मैदान में हैं, जबकि राष्ट्रीय लोक पार्टी के उम्मीदवार दिलीप सिंह, निर्दलीय हाकिम प्रसाद, रालोसपा के प्रत्याशी के रूप में प्रवीण सिंह, चुनाव में भाग्य आजमा रहे हैं. इनके साथ-साथ यहां से 15 प्रत्याशी मैदान में हैं.

666 वोटों के अंतर से भाजपा प्रत्याशी हार गये थे चुनाव

पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी अमरेंद्र प्रताप सिंह को 69338 वोट मिले थे. वहीं, राजद प्रत्याशी मोहम्मद नवाज आलम को 70004 मत मिले थे. इस प्रकार से 666 मतों के अंतर से चुनाव हार गये थे, जबकि वर्ष 2010 के विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी रहे अमरेंद्र प्रताप सिंह को 56504 मत मिले थे. वहीं से चुनाव हारने वाले लोजपा प्रत्याशी को 37564 वोट मिले थे.

अब तक कौन-कौन रहे हैं विधायक

आरा विस सीट से वर्ष 1951 से 1957 तक कांग्रेस के रंग बहादुर प्रसाद, 1962 से 1967 तक कांग्रेस की सुमित्रा देवी,फिर सोशलिस्ट पार्टी से वर्ष 1969 में राम अवधेश सिंह चुनाव जीते थे. इसके बाद 1972 और 1977 में सुमित्रा देवी ही यहां से विधायक रही थीं.

शहरी क्षेत्र में वैश्य और कायस्थ वोटर निर्णायक : आरा सीट पर वैश्य, कायस्थ और चंद्रवंशी के मतों का ध्रुवीकरण चुनाव परिणाम को प्रभावित करने के लिए अहम साबित होंगे. शहरी क्षेत्र में इनकी अच्छी संख्या है. ऐसे तो इस सीट पर यादव, मुस्लिम और राजपूत जाति की भी अच्छी संख्या है.

क्या होंगे चुनावी मुद्दे

आरा विधानसभा का मुख्य मुद्दा सड़क जाम और जलजमाव के साथ-साथ टूटी सड़कों से आम जनता को निजात दिलाना मुख्य मुद्दा होगा.

आंकड़े एक नजर में

कुल पुरुष मतदाताओं की संख्या 177520

कुल महिला मतदाताओं की संख्या 149966

थर्ड जेंडर मतदाताओं की संख्या 6

दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 1463

कुल मतदान केंद्रों की संख्या 467

Posted By : Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें