1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. araria
  5. murder of widow woman solved by araria police one arrested in land dispute

अररिया में विधवा महिला के मर्डर की गुत्थी सुलझी, जमीन विवाद में हुई थी हत्या, एक आरोपी गिरफ्तार

अररिया में भूमि विवाद व रेलवे अधिग्रहण में मिले मुआवजा को हड़पने की नियत से एक विधवा महिला की हत्या कर दी गई थी. जिसमें पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 Crime News
Crime News
प्रभात खबर ग्राफिक्स

अररिया के सिकटी थाना के सिंधियां गांव में 20 जून सोमवार की रात को भूमि विवाद व रेलवे अधिग्रहण में मिले मुआवजा को हड़पने की नियत से एक विधवा महिला की हत्या कर दी गई थी. जिसको लेकर मृतका की मां ने सिकटी थाना में चार लोगों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी. जिसमें एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है. ये जानकारी शनिवार को एसपी अशोक कुमार सिंह ने प्रेस वार्ता आयोजित कर दी.

20 जून को हुई थी हत्या 

जानकारी देते हुए एसपी श्री सिंह ने बताया की 20 जून की रात्रि सिकटी थाना क्षेत्र अंतर्गत सिंधिया वार्ड संख्या 03 निवासी संजना खातून पति स्व. एखलाक की हत्या मुआवजा के रूप में रेलवे से मिले रुपये हड़पने को लेकर तीन व्यक्ति मिलकर उसका हाथ पैर बांधकर गला दबाकर हत्या कर दिया था.

गिरफ़्तारी के लिए टीम का गठन 

हत्या में शामिल व्यक्ति की गिरफ्तारी को लेकर एसपी के निर्देश पर एसडीपीओ पुस्कर के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई. गठित टीम व टेक्निकल टीम द्वारा अनुसंधान के क्रम में हत्या में शामिल तीन व्यक्ति का पहचान हुई. जिसमें पलासी थाना क्षेत्र के पिपरा बिजवाड निवासी आरिफ, अफसर व परवेज ने योजना बनाकर जमीन व रेलवे के द्वारा मिले मुआवजा हड़पने की साजिश के तहत महिला की हत्या कर दी.

योजना बना कर हत्या

मालूम हो की इन तीनों में गिरफ्तार अभियुक्त आरिफ ने हत्या में शामिल होने की बात स्वीकार करते हुए कहा कि हम हरियाणा में मजदूरी का काम करते है. जहां से 19 जून को अररिया आए व दो दिन मृतका के घर ही रहे थे. इसी क्रम में तीनों मिलकर योजना बना कर हत्या कर दिया.

दो आरोपी फरार

हत्या में प्रयोग औजार व रस्सी को पुलिस ने बरामद किया है. जिसको लेकर मृतका की मां रोशन खातून ने सिकटी थाना में आवेदन दिया थी. अब तक मामले में एक की गिरफ्तारी हुई व दो फरार चल रहा है. जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है.

पति की कैंसर से मौत 

मृतका की मां ने कहा है की ढाई वर्ष पूर्व मेरे दामाद की कैंसर की बीमारी से मौत हो गयी थी जिसके बाद मेरी बेटी का दामाद जायदाद में हिस्सेदारी नहीं दे रहा था. जिसके बाद पंचों ने मेरी बेटों को हिस्सा दिलाया जहां वह अपना छोटा स घर बना कर रह रही थी. हिस्सेदारी में मिली कुछ जमीन रेलवे ने अधिकृत कर ली थी जिसके मुआवजे का पैसा बैंक खाते में जमा था.

चचेरा देवर शादी के लिए डाल रहा था दबाव 

मुआवजा मिलने के बाद से ही चचेरा देवर शादी करने के लिए अनुचित ढंग से दबाव बनाने लगा. लेकिन मृतका ने साफ साफ मना कर दिया. इस घटना के बाद मृतका अपने पुराने घर की छोड़ कर बगल में ही 10 दिन पूर्व एक छोटा सा घर बना कर रहने लगी. इसी दौरान उसके चचेरे देवर शहबाज़ ने आकर सूचना दी कि आप की बेटी की हत्या हो गयी है.

पैर हाथ बांधकर गला दबाकर हुई हत्या

घटना की सूचना मिलने पर बेटी के घर पहुंची व अंदर जाकर देखा तो संजना निर्वस्त्र लेटी हुई है थी. और उसका दोनों हाथ और पैर पीछे की तरफ बंधा पड़ा था. ग्रामीणों ने बताया कि चार साल की बेटी का क्या कसूर है. कैंसर की गंभीर बीमारी के कारण पहले पिता का साया छीन गया अब मां की भी हत्या कर दी गई है.

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें