1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. araria
  5. flood crisis deepens in araria district due to increase in water level of rivers in bihar asj

नदियों का जलस्तर बढ़ने से अररिया जिले में गहराया बाढ़ का संकट

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नून नदी
नून नदी
प्रभात खबर

सिकटी : नेपाल सहित प्रखंड क्षेत्र मे लगातार हुई भारी बारिश से एक बार फिर नूना नदी उफना गयी है. इससे प्रखंड के पूर्वी इलाके के कई गांवों में नदी का पानी फैल कर बाढ़ का रूप लेने लगा है. नूना नदी पर फारुख टोले के निकट कटे तटबंध के रास्ते निकला पानी पड़रिया वार्ड नौ होकर सालगोड़ी, कचना व औलाबाड़ी गांव में प्रवेश कर गया है. इससे लोगों को कई तरह की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. राजद के पूर्व जिलाध्यक्ष सह प्रदेश सचिव कमरुज्जमा ने बताया कि बार-बार नूना नदी के पानी से प्रखंड का पूर्वी भाग बार-बार बाढ़ की चपेट में आ जाता है. इससे ग्रामीणों को जान-माल की भारी क्षति उठानी पड़ती है. समस्या के स्थायी निदान के प्रति उदासीन प्रशासनिक रवैया का खामियाजा स्थानीय ग्रामीणों को चुकाना पड़ रहा है. हर साल बांध मरम्मति के नाम पर लाखों खर्च होते हैं. लेकिन हर साल बाढ़ के कारण क्षेत्र के हजारों लोग बेघर होते हैं. पीड़ित परिवारों को तत्काल राहत उपलब्ध कराने की मांग उन्होंने स्थानीय प्रशासन से की.

बाढ़ के पानी के दवाब से टूटी सड़क

नरपतगंज. प्रखंड क्षेत्र में होने लगातार बारिश के कारण सुरसर सहित कई नदी का जलस्तर वृद्धि होने से कई गांव में पानी प्रवेश कर गया है पानी के तेज बहाव के कारण बुधवार दोपहर प्रखंड क्षेत्र के लक्ष्मीपुर से फुलकाहा जाने वाली सड़क टूट जाने के कारण सड़क संपर्क भंग हो गया जिसके बाद आसपास के क्षेत्रों के लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा मालूम हो कि यह सड़क प्रत्येक वर्ष के बाढ़ के पानी में टूट जाते हैं जिससे महीने भर तक सड़क अवरुद्ध हो जाता है बाढ़ का पानी आने के कारण लोग परेशान रहते हैं जबकि नरपतगंज प्रखंड के उत्तरी भाग के पंचायतों में घुसे बाढ़ का पानी से कई लोग लोग बेघर हौ गये हैं तो मानिकपुर, अमरोरी, लक्ष्मीपुर, तोपनवाबगंज, मिर्जापुर, मिल्की डुमरिया, मधुरा उत्तर, मधूरा दक्षिण खैरा आदि गांव में फिलहाल बाढ़ का पानी जमा है

नदियों का जलस्तर बढ़ते देख बाढ़ को लेकर लोगाें की भी बढ़ रही है चिंता

पलासी : पड़ोसी राष्ट्र नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों से पानी छोड़े जाने के कारण प्रखंड क्षेत्र से होकर बहने वाली नदियां उफान पर हैं. इससे बकरा व रतवा नदी के जलस्तर पर काफी वृद्धि हुई है. लिहाजा नदी का पानी रिहायशी इलाकों में फैल कर बाढ़ का रूप ले लिया है. बकरा नदी का पानी जरिया, खाड़ी धर्मगंज, भट्टाबाड़ी, सोहदी, बच्चाखाड़ी सहित आदि गांवों के नीचले इलाकों में फैल चुका है. वहीं पलासी से घर्मगंज मार्ग पर बकनिया पुल से उत्तर जरिया खाड़ी से धर्मगंज तक के सड़कों पर पानी का तेज बहाव जारी है. इधर मेहरो चौंक से धर्मगंज मार्ग के चतराधार के डायवर्सन पर पानी का तेज बहाव हो रहा है. धर्मगंज से भट्टा बाड़ी आदि मार्गों पर बाढ़ का पानी का तेज बहाव जारी रहने के कारण सड़कों की अस्तित्व पर खतरा मंडराने लगा है. दूसरी तरफ रतवा नदी के जलस्तर में वृद्धि होने के कारण नीचले इलाके के गांव डकैता, काशी बाड़ी, बुद्धि, गोसाईंपुर आदि गांव के निचले भाग में बाढ़ का पानी घुस आया है.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें