1. home Hindi News
  2. state
  3. Chhattisgarh
  4. dearness allowance hike 5 percent for chhattisgarh government employees vwt

छत्तीसगढ़ के कर्मचारियों को मिली 'मजदूरी' की सौगात : महंगाई भत्ते में 5 फीसदी बढ़ोतरी, श्रमिकों को पेंशन

मुख्यमंत्री बघेल ने सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में करीब 5 फीसदी तक बढ़ोतरी करने का फैसला किया है. सरकार की ओर से महंगाई भत्ते में की गई बढ़ोतरी एक मई 2022 से लागू की जा चुकी हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
एक मई से बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता लागू
एक मई से बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता लागू
फोटो : ट्विटर

रायपुर : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मजदूर दिवस के मौके पर राज्य के लाखों सरकारी कर्मचारियों और श्रमिकों को बड़ा तोहफा दिया है. मजदूर दिवस पर मुख्यमंत्री बघेल ने सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में करीब 5 फीसदी तक बढ़ोतरी करने का फैसला किया है. सरकार की ओर से महंगाई भत्ते में की गई बढ़ोतरी एक मई 2022 से लागू की जा चुकी हैं. इसके साथ ही, अब राज्य के सरकारी कर्मचारियों को 17 फीसदी के स्थान पर 22 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा. हालांकि, सरकारी कर्मचारियों की ओर से महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की मांग लंबे समय से की जा रही थी.

सन्निर्माण मजदूर योजना

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस के मौके पर राज्य के लाखों कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 5 फीसदी बढ़ोतरी करने के साथ ही भवन निर्माण और सियान मजदूर (सन्निर्माण मंडल में रजिस्टर्ड कर्मकार एवं अन्य श्रमिक) और महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने का भी ऐलान किया है.

बुजुर्ग श्रमिकों को आर्थिक सहायता

इस दौरान उन्होंने सन्निर्माण मजदूरों के लिए घोषित योजनाओं में बुजुर्ग श्रमिकों को एकमुश्त 10,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. इस योजना के तहत पात्र श्रमिकों की न्यूनतम उम्र 59 वर्ष तथा अधिकतम आयु 60 वर्ष निर्धारित की गई है. इसके साथ ही, उनका रजिस्ट्रेशन सन्निर्माण मंडल में होना आवश्यक है.

स्वावलंबन के लिए महिलाओं को अनुदान

इसके साथ ही, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महिलाओं के स्वालंबन के लिए आर्थिक सहयोग देने का भी ऐलान किया है. इसके तहत ई-रिक्शा की खरीद के लिए सरकार की ओर से 50 हजार रुपये के स्थान पर 1 लाख रुपये का अनुदान दिया जाएगा. इसके साथ ही, मुख्यमंत्री ने नोनी सशक्तीकरण योजना में 18 वर्ष की आयु सीमा में 3 वर्ष की वृद्धि करते हुए अब योजना का लाभ 21 वर्ष तक की बालिकाओं को देने की घोषणा की है. इसके अलावा, एक मई से ग्रामीण इलाकों में मितान योजना के दूसरे चरण की शुरुआत की गई है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें