1. home Hindi News
  2. sports
  3. sunil joshi unbeaten record in one day international match replace msk prasad

MSK प्रसाद की जगह लेने वाले सुनील जोशी के नाम है ये खास रिकॉर्ड, आज तक कोई तोड़ नहीं पाया

By Utpal Kant
Updated Date
सुनील जोशी की कातिलाना गेंदबाजी के आगे अफ्रीकी टीम 48 ओवरों में 117 रनों पर ढेर हो गई थी
सुनील जोशी की कातिलाना गेंदबाजी के आगे अफ्रीकी टीम 48 ओवरों में 117 रनों पर ढेर हो गई थी
Twitter

मुंबईः पूर्व भारतीय खिलाड़ी सुनील जोशी को बीसीसीआई ने मुख्य चयनकर्ता बनाया है. जोशी ने भारत के लिए 15 टेस्ट और 69 वनडे मैचों में शिरकत की है. उनके नाम एक ऐसा रिकॉर्ड है जिसे आज तक कोई भारतीय खिलाड़ी नहीं तोड़ पाया है. ये रिकॉर्ड करीब 20 साल पहले वेस्ट इंडीज के खिलाफ बनाया था. सुनील जोशी बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज थे. इसके अलावा जोशी कभी-कभार बल्लेबाजी भी कर लिया करते थे. टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 41 और वनडे क्रिकेट में 69 विकेट चटकाए. इसके अलावा टेस्ट और वनडे में उन्होंने एक-एक अर्धशतक भी जड़ा है.

टेस्ट में उनका सर्वाधिक स्कोर 92 रन है. वनडे क्रिकेट में उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 61 रन है. वन डे क्रिकेट में उन्होंने वेस्ट इंडीज में दक्षिण अप्रीका के खिलाफ जो कारनामा किया वो आज भी रिकार्ड ही है. सुनील जोशी ने उस मैच में 10 ओवर में छह ओवर मेडन फेंके थे. साथ ही मात्र छह रन खर्च पांच विकेट झटके. उस वक्त भारतीय टीम बिना अनिल कुंबले के उतरी थी. दूसरी तरफ मोहम्मद अजहरुद्दीन की गैर मौजूदगी में अजय जडेजा ने कप्तानी की थी.

कप्तान जडेजा ने सुनील जोशी को 10वें ओवर में आक्रमण पर लगाया. फिर क्या था जोशी ने अपना काम कर दिखाया. उन्होंने आते ही दूसरी गेंद पर हर्शल गिब्स (18) को लौटाया. इसके बाद उन्होंने बोएटा डिपेनार (17) कप्तान क्रोनिए (2), जोंटी रोड्स (1) और शॉन पोलॉक (0) के विकेट चटकाए. सुनील जोशी की खतरनाक गेंदबाजी के आगे अफ्रीकी टीम 48 ओवरों में 117 रनों पर ढेर हो गई थी. जोशी के अलावा ऑफ स्पिनर निखिल चोपड़ा ने तीन विकेट झटके थे.

भारत ने 22.4 ओवरों में 120/2 रन बनाकर 8 विकेट से वह मैच जीत लिया. यह वनडे इंटरनेशनल के इतिहास में संयुक्त रूप से दूसरा सबसे किफायती पांच विकेट लेने का रिकॉर्ड है. 2016 में जिम्बाब्वे के ल्यूक जोंगवी ने शारजाह में अफगानिस्तान के खिलाफ इतने ही रन देकर (6 रन) देकर पांच विकेट निकाले थे. वनडे में सबसे किफायती 5 विकेट लेने की बात करें, तो 1986 में वेस्टइंडीज के कर्टनी वॉल्श ने श्रीलंका के खिलाफ शारजाह में महज 1 रन देकर 5 विकेट निकाले थे. वॉल्श का गेंदबाजी विश्लेषण रहा था- 4.3-3-1-5.

सुनील जोशी को मुख्य चयनकर्ता बनाने के बाद इस बात पर चर्चाएं हो रही है कि उनसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलने वाले वेंकटेश प्रसाद को नजर अंदाज कर दिया गया. चयन समिति में जतिन परांजपे, शरणदीप सिंह और देवांग गांधी पहले से मौजूद हैं. मध्य क्षेत्र से गगन खोड़ा की जगह लेने के लिए हरविंदर का चयन हुआ. सुनील जोशी को दक्षिण क्षेत्र के प्रतिनिधि के रूप में जगह मिली है. क्रिकेट सलाहकार समिति में पूर्व भारतीय खिलाड़ी मदललाल, आरपी सिंह और सुलक्षणा नाइक शामिल हैं. इन तीनों ने सुनील जोशी को मुख्य चयनकर्ता बनाने की सिफारिश बीसीसीआई को की थी. इसके बाद जोशी के नाम पर मुहर लगा दी गई.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें