1. home Hindi News
  2. sports
  3. ipl
  4. ms dhoni back ipl 2022 ravindra jadeja left the captaincy of chennai super kings again dhoni became captain aml

MS Dhoni Back, IPL 2022: रवींद्र जडेजा ने छोड़ी चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी, फिर धोनी के हाथ में कमान

आईपीएल 2022 में ही चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान बने रवींद्र जडेजा ने टीम की कप्तानी छोड़ दी है. उन्होंने अपने प्रदर्शन पर ध्यान देने के लिए कप्तानी छोड़ी है. जडेजा के छोड़ने के बाद टीम की कप्तानी एक बार एमएस धोनी को सौंप दी गयी है. सीएसके ने आधिकारिक रूप से इस बात की जानकारी दी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
महेंद्र सिंह धोनी और रवींद्र जडेजा.
महेंद्र सिंह धोनी और रवींद्र जडेजा.
PTI

आईपीएल के पिछले सीजन की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स के लिए आईपीएल 2022 में प्लेऑफ में पहुंचना भी मुश्किल लग रहा है. इस बीच रवींद्र जडेजा ने सीएसके की कप्तानी छोड़ दी है. आईपीएल शुरू होने से ठीक दो दिन पहले महेंद्र सिंह धोनी ने रवींद्र जडेजा को टीम की कमान सौंपी थी. चेन्नई सुपर किंग्स ने शनिवार को घोषणा की कि रवींद्र जडेजा द्वारा अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कप्तानी छोड़ दी है.

सीएसके ने किया ऐलान

सीएसके ने आधिकारिक रूप से यह भी घोषणा की कि एमएस धोनी उनके कप्तान के रूप में लौट रहे हैं. फ्रैंचाइजी ने अभियान की एक कठिन शुरुआत की, अपने पहले आठ मैचों में से सिर्फ दो में जीत हासिल की. फ्रेंचाइजी ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि रवींद्र जडेजा ने अपने खेल पर अधिक ध्यान केंद्रित करने के लिए कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है और एमएस धोनी से सीएसके का नेतृत्व करने का अनुरोध किया है.

एम एस धोनी कप्तानी के लिए तैयार

बयान में आगे कहा गया है कि एमएस धोनी ने बड़े हित में सीएसके का नेतृत्व करना और जडेजा को अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करने की अनुमति देना स्वीकार किया है. जडेजा खुद इस सीजन में बल्ले या गेंद से सर्वश्रेष्ठ नहीं रहे हैं और कई विशेषज्ञों ने कहा था कि कप्तानी 33 वर्षीय पर भारी पड़ रही थी. जडेजा ने अब तक आठ मैचों में 22.40 की औसत और 121.74 के स्ट्राइक रेट से 112 रन बनाए हैं.

गेंदबाजी में भी कमाल नहीं कर पा रहे रवींद्र जडेजा

गेंद के साथ रवींद्र जडेजा ने 8.19 आरपीओ की इकॉनमी से आठ मैचों में सिर्फ पांच विकेट लिए हैं. जडेजा स्पष्ट रूप से बल्ले से संघर्ष कर रहे हैं, जो एक अच्छा संकेत नहीं है. उनके लिए विलो के साथ प्रदर्शन करना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि अगर वह इसी तरह से असफल होते रहे, तो चेन्नई सुपर किंग्स के लिए चीजें बेहद कठिन हो जायेंगी. कप्तानी का दबाव उन पर साफ तौर पर दिख रहा है.

शुरू से धोनी ही रहे हैं सीएसके के कप्तान

धोनी ने 2008 में अपने उद्घाटन संस्करण के बाद से आईपीएल में खेले गए फ्रैंचाइजी के हर सीजन में सीएसके का नेतृत्व किया था. उन्होंने पिछले साल मिलाकर अब तक चार खिताब जीते हैं. इस बार टीम को प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए संघर्ष करते देखा जा रहा है. सीएसके ने अब तक आठ में से केवल दो मुकाबले जीते हैं और अंक तालिका में नौवें नंबर पर है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें