1. home Home
  2. sports
  3. ipl
  4. ipl 2020 latest update ms dhoni chennai super kings dhonis next plan for ipl sur

IPL 2020: भागूंगा नहीं 'इज्जत' के लिए खेलूंगा! 14वें सीजन का गेम प्लान बना रहे धोनी

धोनी ने कहा कि बाकी बचे 3 मैचों में उनकी टीम में और ज्यादा युवा खिलाड़ी दिखेंगे. चूंकि कप्तान कभी नहीं भागता इसलिए वे सभी मैच खेलेंगे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
महेंद्र सिंह धोनी, कप्तान सीएसके
महेंद्र सिंह धोनी, कप्तान सीएसके
Photo: PTI

यूएई: आईपीएल 2020 सबसे कामयाब टीमों से एक चेन्नई सुपर किंग्स के लिए कभी ना भुलाने वाला साल रहेगा. इस टीम से लीग के 13वें सीजन में काफी उम्मीदें थीं लेकिन तीन बार की आईपीएल विजेता सीएसके के लिए 13वां सीजन शुभ नहीं रहा. टीम 11 में से 8 मुकाबले गंवाकर 6 अंकों के साथ प्वॉइंट्स टेबल में आखिरी स्थान पर है.

चेन्नई ने दिखाया शर्मनाक खेल

23 अक्टूबर को मुंबई इंडियंस के खिलाफ चेन्नई ने आईपीएल इतिहास का सबसे शर्मनाक खेल दिखाया. आईपीएल इतिहास में चेन्नई सुपर किंग्स पहली बार 10 विकेट से हारी. यही नहीं सबसे ज्यादा गेंद शेष रहते मैच गंवाने का रिकॉर्ड भी धोनी की टीम ने बना डाला. हार के बाद पोस्ट मैच प्रजेंटेशन में कप्तान धोनी ने कहा कि उनकी टीम सीजन के दूसरे ही मैच में लय खो बैठी थी.

धोनी ने कहा कि बाकी बचे 3 मैचों में उनकी टीम में और ज्यादा युवा खिलाड़ी दिखेंगे. चूंकि कप्तान कभी नहीं भागता इसलिए वे सभी मैच खेलेंगे. कप्तान धोनी ने कहा कि उनकी टीम बाकी बचे 3 मैचों में इज्जत बचाने के लिए खेलेगी. युवा खिलाड़ियों को मौका मिलेगा.

दर्द है पर चेहरे पर मुस्कान रखते हैं खिलाड़ी

कप्तान धोनी ने कहा कि हार से दुख पहुंचता है, लेकिन आप दर्द जाहिर नहीं कर सकते. प्रबंधन को ऐसा नहीं लगना चाहिए कि टीम के खिलाड़ी हार मान चुके हैं और घबराहट में हैं. धोनी ने कहा कि उन्होंने ड्रेसिंग रूम का माहौल वैसा ही रहा है जैसा आमतौर पर जीतते हुए रहता है. धोनी ने कहा कि इस तरीके से हारने का दुख होता है.

सभी खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश कर रहे हैं. धोनी ने कहा कि हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि हमसे गलतियां कहां हुई है. क्या खामी रही है.

अब इज्जत बचाने के लिए खेलेगी चेन्नई की टीम

धोनी ने मुंबई के खिलाफ हार के बाद कहा कि मायने नहीं रखता कि आप 8 विकेट से हारते हैं या 10 विकेट से. मायने ये रखता है कि आपका प्रदर्शन कैसा रहा. धोनी ने कहा कि प्रदर्शन के साथ-साथ थोड़ा भाग्य का साथ भी जरूरी होता है लेकिन हमारे साथ इस साल कुछ भी नहीं था.

धोनी ने कहा कि चेन्नई के लिए शुरुआत से चीजें अच्छी नहीं रही. पहले मैच के बाद रायुडू इंजर्ड हो गए. बल्लेबाजों पर दवाब बना. टीम बिखरती चली गई.

Posted By- Suraj Thakur

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें