1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. ms dhoni wins thriller for chennai super kings mumbai indians mi vs csk amh

महेंद्र सिंह धोनी को अभी भी है रनों की भूख!

चेन्नई को आखिरी ओवर में 17 रन की जरूरत थी. धोनी ने ऐसे में जयदेव उनादकट की तीसरी गेंद पर छक्का और चौथी गेंद पर चौका लगाया. इसके बाद फैंस के बीच खुशी की लहर दौड़ पड़ी. वह शांतचित बने रहे और आखिरी गेंद पर उन्होंने शॉर्ट फाइन लेग पर विजयी चौका लगाया.

By Agency
Updated Date
MS Dhoni
MS Dhoni
PTI

महेंद्र सिंह धोनी अब भी रन बनाने के लिये भूखे हैं और चेन्नई सुपर किंग्स की इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में उम्मीदें बरकरार हैं. कप्तान रविंद्र जडेजा के लिये ये दोनों चीजें ही मायने रखती हैं. चेन्नई ने अब तक सात मैचों में से केवल दो में जीत दर्ज की. इनमें मुंबई इंडियन्स के खिलाफ गुरुवार की रात तीन विकेट से जीत भी शामिल है. इस जीत के नायक धोनी रहे जिन्होंने आखिरी गेंद पर विजयी चौका लगाया. धोनी की 13 गेंदों पर नाबाद 28 रन की पारी से चेन्नई ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पर यादगार जीत दर्ज की.

जडेजा ने मैच के बाद कहा कि यह बहुत अच्छा है कि वह अब भी (न और जीत के लिये) भूखे हैं. उनकी लय अब भी बनी हुई है. इसे देखकर हम शांतचित रहते हैं क्योंकि हम जानते हैं कि यदि वह आखिरी ओवर तक क्रीज पर हैं तो वह हमारे लिये मैच जीतेंगे. उन्होंने कहा कि हम तनाव में थे लेकिन हमें विश्वास था कि वह (धोनी) क्रीज पर मौजूद हैं और वह मैच का सफल अंत करेंगे. उन्होंने भारत के लिये और आईपीएल में कई मैच जिताये हैं और हम जानते थे कि वह मैच का सफल अंत करेंगे. धोनी ने अपने पुराने दिनों की तरह ‘फिनिशर' की भूमिका अच्छी तरह से निभायी.

चेन्नई को आखिरी ओवर में 17 रन की जरूरत थी. धोनी ने ऐसे में जयदेव उनादकट की तीसरी गेंद पर छक्का और चौथी गेंद पर चौका लगाया. वह शांतचित बने रहे और आखिरी गेंद पर उन्होंने शॉर्ट फाइन लेग पर विजयी चौका लगाया. जडेजा ने कहा कि देखिये जिस तरह से मैच आगे बढ़ रहा था हम दबाव में थे. दोनों टीम पर दबाव था क्योंकि दुनिया का सर्वश्रेष्ठ फिनिशर क्रीज पर था. लेकिन हम जानते थे कि यदि वह (धोनी) आखिरी गेंद तक टिके रहते हैं तो हम मैच जीत जाएंगे. हमें विश्वास था कि वह आखिरी दो तीन गेंदों पर नहीं चूकेंगे और सौभाग्य से ऐसा हुआ.

जडेजा ने तेज गेंदबाज मुकेश चौधरी की भी प्रशंसा की जिन्होंने मुंबई के शीर्ष क्रम को लड़खड़ाने में अहम भूमिका निभायी. उन्होंने कहा कि जब वह (चौधरी) हमारे साथ नेट गेंदबाज था तब हमने देखा कि वह अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं और गेंद को स्विंग करा रहा है. नयी गेंद को स्विंग कराने का उसका कौशल अच्छा है और इसलिए हमने उसको टीम में बनाये रखा. हमें उस पर विश्वास था कि वह विकेट लेगा. उसने अच्छी गेंदबाजी की और विकेट लिये.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें