1. home Hindi News
  2. religion
  3. venus transit in sagittarius 2021 before diwali 2021 know rashifal predictions effects on all zodiac signs shukra gochar 30 october 2021 rashifal sry

Shukra Transit 2021: 'शुक्र' अब धनु राशि में करने जा रहा है प्रवेश, जानें आपकी राशि पर भी पड़ेगा असर

दिवाली से पहले बड़ा राशि परिवर्तन हो रहा है. शुक्र अब वृश्चिक राशि से, धनु राशि में गेाचर करेंगे. आपकी राशि पर क्या प्रभाव पड़ेगा, जानते हैं राशिफल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Shukra Transit 2021
Shukra Transit 2021
Twitter

शुक्र सौंदर्य और आनंद का ग्रह है और इसे स्त्रैण प्रकृति का माना जाता है. यह शुभ ग्रह एक पुरुष की कुंडली में पत्नी का प्रतिनिधित्व करता है. यह रोमांटिक अहसास, प्रेम, आराम, विलासिता और वैवाहिक आनंद का प्रतिनिधित्व ग्रह भी माना जाता है. जब यह कुंडली मे शुभ स्थिति में होता है तो यह जातक को सभी भौतिक सुखों और आराम का आशीर्वाद देता है.जब यह कुंडली में शुभ नहीं होता तो व्यक्ति को ब्रह्मचर्य और एकांत में ले जा सकता है.

यह आकर्षक ग्रह किसी व्यक्ति में कोमल भावनाओं को उजागर करता है. यह एक व्यक्ति में कला और रचनात्मकता को भरता है. यह ग्लैमर और फैशन नैतिकता को नियंत्रित करता है, इसलिए उन लोगों के लिए इसका सबसे अधिक महत्व है जो कला, डिजाइन और रचनात्मकता के इस उद्योग का हिस्सा हैं.

यह मंत्रमुग्ध करने वाला ग्रह व्यक्ति में विपरीत लिंगी लोगों के प्रति आकर्षण पैदा करता है. ग्रह की ऊर्जा मुक्त बह रही है इसलिए यह मीन राशि के जल तत्व संकेत में सबसे अच्छा है यानि उच्च का माना जाता है, जो सही मायने में समुद्र की गहराई और आंदोलन का प्रतिनिधित्व करता है. कन्या राशि में यह नीच का माना जाता है.

क्या समय होगा?

गोचर 30 अक्टूबर 2021 को 15.56 बजे होगा,

आगे इसके बाद शुक्र ग्रह 8 दिसंबर 2021 को दोपहर 12.56 बजे मकर राशि में प्रवेश कर जाएगा.

क्या प्रभाव होंगे सभी राशियो पर

मेष:-

शुक्र मेष राशि के जातकों के लिए दूसरे और सातवें घर का स्वामी है. इस गोचर की अवधि में शुक्र आपके नवम भाव में प्रवेश करेगा. इस समय, यदि आप लेखन या संगीत से संबंधित कलात्मक नौकरी में काम कर रहे हैं, तो आप सफल रहेंगे. यदि आप आभूषणों से संबंधित व्यवसाय में हैं, तो आपको इस समय सफलता मिलेगी. एक व्यवसाय में होने के नाते, आप नए व्यापार की संभावनाएं प्राप्त कर सकते हैं और नए सौदे साइन-अप कर सकते हैं. आप अपनी वाणी में सौम्यता से सभी को प्रभावित करेंगे. आप इस समय अवकाश के लिए कुछ यात्रा की योजना बना सकते हैं

वृषभ:-

शुक्र वृषभ राशि का स्वामी है, यह वृषभ राशि के छठे घर का स्वामित्व भी करता है. यह वर्तमान गोचर में आपके आठवें घर में होगा. यह गोचर अवधि आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगी. आप इस समय स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हो सकते हैं, साथ ही आप दुर्घटनाओं के शिकार होंगे. आप खांसी, सर्दी और बुखार से पीड़ित हो सकते हैं. आपको इस समय बहुत संघर्ष करना होगा, जिसके कारण आप बेचैन हो जाएंगे, और अनावश्यक रूप से तनावग्रस्त हो सकते हैं.

मिथुन:-

शुक्र, बुध का मित्र ग्रह है और मिथुन राशि के पांचवें घर और बारहवें घर की अध्यक्षता करता है, यह ग्रह इस अवधि के दौरान आपके सातवें घर में गोचर करेगा. वे लोग जो गंभीरता के साथ किसी रिश्ते में पड़ना चाहते हैं उनके लिए समय अच्छा है. इसलिए, यदि आप किसी से प्यार करते हैं तो अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए समय अनुकूल है. प्यार उन लोगों के लिए फिजाओं में होगा जो एक रोमांटिक रिश्ते में हैं और आप अपने प्रिय व्यक्ति से सगाई करके अपने रिश्ते में एक कदम आगे बढ़ सकते हैं.

कर्क:-

शुक्र आपके चौथे और ग्यारहवें घर का स्वामित्व करता है. इस अवधि में शुक्र आपके छठे भाव यानि ऋण, रोगों और प्रतिस्पर्धा के चौथे घर में गोचर करेगा. आपको अपने परिवार के सदस्यों के साथ कुछ टकराव का सामना करना पड़ सकता है जो परिवार की शांति और खुशी को खराब करेगा. जो छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, उनके लिए लाभदायक समय होगा, क्योंकि आप आसानी से अपनी पढ़ाई के दबाव के अनुकूल प्रदर्शन कर पाएंगे.

सिंह:-

शुक्र, आपके भाई-बहनों के तीसरे घर और करियर के दसवें दसवें घर को नियंत्रित करता है. इस गोचर की अवधि में शुक्र पंचम भाव में गोचर करेगा. जो लोग डिजाइनिंग और रचनात्मक उद्योग में हैं, उनके लिए अनुकूल अवधि होगी, आप उत्पादों और सेवाओं का सबसे अच्छा वितरण करने में सक्षम होंगे, साथ ही आपको अपने अच्छे काम के लिए वेतन वृद्धि मिल सकती है.

कन्या :-

कन्या राशि के जातकों के लिए शुक्र दूसरे और नौवें घर का स्वामी है और यह उनके घरेलू सुख, संपत्ति के चौथे घर में गोचर करेगा. आप इस अवधि के दौरान अपने परिवार के साथ आरामदायक और खुशहाल समय बिताएंगे. आपको अपने परिवार और उनकी सुख-सुविधाओं की ओर झुकाव होगा. इस अवधि के दौरान सदस्यों के साथ, विशेषकर आपकी माँ के साथ आपके संबंध अच्छे रहेंगे.

तुला :-

शुक्र तुला राशि का स्वामी है, और आपके अष्टम भाव पर भी यह स्वामित्व रखता है. इस गोचर की अवधि के दौरान यह आपके तृतीय घर में होगा. आप इस अवधि के दौरान प्यार और करुणा से भरे रहेंगे और अपने परिवार को खुश रखने के प्रयास करेंगे. आप अपने छोटे भाई-बहनों के प्रति एक मजबूत झुकाव रखेंगे, वे भी बदले में आपके प्रति प्यार और सम्मान प्रकट करेंगे. उनकी मदद से आपको कुछ वित्तीय लाभ भी हो सकते हैं.

वृश्चिक:-

शुक्र आपके बारहवें भाव और सप्तम भाव को नियंत्रित करता है. शुक्र वृश्चिक राशि वालों के संचित धन और संपत्ति के दूसरे भाव में गोचर करेगा. आपका खर्च काफी अधिक होगा और आप घर के लिए विलासिता के उत्पादों पर खर्च करेंगे. आप अपने परिवार के लिए महंगे उपहार खरीदने पर भी खर्च कर सकते हैं. जो लोग विदेशी ग्राहकों के साथ व्यापार में हैं, उनके लिए लाभकारी अवधि होगी, आप अपनी आय में एक शक्तिशाली वृद्धि देखेंगे.

धनु:-

शुक्र धनु राशि के छठे घर और ग्यारहवें घर पर शासन करता है और इस गोचर की अवधि के दौरान आपके पहले घर में शुक्र का गोचर होगा. धनु राशि के जातकों के लिए समय बहुत अनुकूल नहीं कहा जा सकता. आप इस अवधि के दौरान उसके स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं से पीड़ित हो सकते हैं. आपको सहायता और चिकित्सा के लिए अपने मित्रों और रिश्तेदारों का सहारा लेना चाहिए. खुद को फिट रखने के लिए आपको अपनी दिनचर्या में व्यायाम को जगह देनी चाहिए.

मकर:-

शुक्र आपके पांचवें औ दसवें घर का स्वामी इस समय शुक्र ग्रह मकर राशि के जातकों के बारहवें घर में गोचर करेगा. इस समय, आप बहुत अधिक खर्च कर सकते हैं, जो आपके आर्थिक जीवन को प्रभावित कर सकता है, लेकिन आप अपने वित्त का प्रबंधन करने की पूरी कोशिश करेंगे. छात्रों को बहुत मेहनत करनी होगी, क्योंकि आप अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाएंगे. हालांकि, जो लोग अपनी उच्च शिक्षा के लिए विदेश में अध्ययन करना चाहते हैं, उनकी इच्छा इस समय पूरी हो सकती है.

कुंभ:-

शुक्र कुंभ राशि वालों के लिए एक अनुकूल ग्रह है और यह कुंभ राशि के चौथे और नौवें घर पर शासन करता है. इस समय, शुक्र कुंभ राशि वालों के लिए ग्यारहवें घर में होगा. इस समय भाग्य आपके पक्ष में रहेगा. आपको अपनी माँ से सहयोग मिलेगा. यह एक अच्छा समय है यदि आप जमीन या संपत्ति में निवेश करना चाहते हैं तो सफलता मिलेगी. आपको इस समय धार्मिक कार्यों की ओर झुकाव होगा.

मीन :-

शुक्र मीन राशि के तीसरे और आठवें भाव का स्वामी है. इस समय, शुक्र मीन राशि के जातकों के दसवें घर में गोचर करेगा. आपको इस दौरान अपने बडे भाई-बहनों का पूरा सहयोग मिलेगा, और आपके माता-पिता के साथ आपके अच्छे संबंध होंगे. आपकी दिनचर्या अच्छी होगी, या आप इसे बेहतर बनाने के लिए प्रेरित महसूस करेंगे. इस समय, आप जमीन या संपत्ति में निवेश करने की योजना भी बना सकते हैं. आप पराक्रम और साहस से भरे होंगे और इस समय आपको समाज में प्रसिद्धि मिलेगी.

संजीत कुमार मिश्रा

ज्योतिष एवं रत्न विशेषज्ञ

8080426594/9545290847

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें